• Hindi News
  • Sports
  • Swiss Open: Sindhu, Saina May Face Off In Semis; All Eyes On Kidambi Srikanth, Sameer Verma And Pair Of Chirag Satwik

स्विस ओपन आज से:सिंधु और साइना समेत टूर्नामेंट में 15 भारतीय खिलाड़ी उतरेंगे, पहले राउंड में भारत के श्रीकांत और समीर के बीच मुकाबला

नई दिल्ली7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आज से स्विस ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट का आगाज होने जा रहा है। इसी के साथ ओलिंपिक क्वालिफिकेशन साइकिल की भी शुरुआत हो जाएगी। इस दौरान पांच महीने में 17 टूर्नामेंट्स होंगे। सभी में खिलाड़ियों के प्रदर्शन के हिसाब से उन्हें ओलिंपिक क्वालिफिकेशन के लिए रैंकिंग पॉइंट दिए जाएंगे। 6 महीने बाद जुलाई में होने टोक्यो ओलिंपिक होना है। ऐसे में भारतीय खिलाड़ियों के लिए यह तैयारी करने का अच्छा मौका होगा।

स्विस ओपन में साइना नेहवाल और पीवी सिंधु समेत 15 टॉप भारतीय खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। टूर्नामेंट के मेन्स सिंगल्स में भारत के 2 टॉप प्लेयर्स किदांबी श्रीकांत और समीर वर्मा का आमना-सामना होगा। वहीं, वुमन्स सिंगल्स के सेमीफाइनल में साइना और सिंधु की भिड़ंत भी हो सकती है।

भारत के 3 मेन्स खिलाड़ी जीत चुके हैं स्विस ओपन
मेन्स सिंगल्स में समीर वर्मा, एचएस प्रणय और किदांबी श्रीकांत के लिए भी यह टूर्नामेंट महत्वपूर्ण रहने वाला है। श्रीकांत ने 2015, प्रणय ने 2016 और समीर ने 2018 में यह टूर्नामेंट जीता था। वहीं, बी साई प्रणीत 2019 में हुए पिछले सीजन में रनर-अप रहे थे। 2020 में कोरोना की वजह से यह टूर्नामेंट नहीं हो पाया था। चारों खिलाड़ी 1.03 करोड़ इनामी राशि वाले इस टूर्नामेंट में अपने अच्छे रिकॉर्ड को बढ़ाना चाहेंगे। साथ ही ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई करने की भी कोशिश करेंगे।

सिंधु तुर्की की यिजिट के खिलाफ शुरू करेंगी अभियान
यह वही एरेना है, जहां सिंधु ने 2019 में वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था। यह कोरोना से पहले आखिरी टूर्नामेंट जिसमें उन्होंने कोई मेडल जीता था। टूर्नामेंट में दूसरी वरीयता प्राप्त सिंधु बुधवार को तुर्की की नेसलिहान यिजिट के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेंगी। सिंधु का हाल ही में हुए 3 बैडमिंटन टूर्नामेंट में प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था।

अगले राउंंड में बुसानन से हो सकता है सिंधु का सामना
थाईलैंड ओपन और BWF वर्ल्ड टूर फाइनल्स में वे शुरुआती दौर से ही बाहर हो गई थीं। हालांकि, स्विस ओपन टूर्नामेंट में क्वार्टर फाइनल तक उनका सफर आसान दिख रहा है। यिजिट के अलावा अगले दौर में उनका सामना पांचवीं वरीयता प्राप्त थाईलैंड की बुसानन ओंगबामरुंगफान से हो सकता है। बुसानन को सिंधु ने जनवरी में हुए टोयोटा थाईलैंड ओपन में हराया था।

स्विस ओपन में साइना का सफर थोड़ा मुश्किल
वहीं, दो बार स्विस ओपन जीत चुकीं साइना का सफर थोड़ा मुश्किल रहने वाला है। वे टूर्नामेंट में अपने अभियान की शुरुआत थाईलैंड की फितायापोर्न चाइवान के खिलाफ करेंगी। चाइवान वर्ल्ड जूनियर चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज मेडलिस्ट रह चुकी हैं। इसके बाद उन्हें टूर्नामेंट में छठी वरीयता प्राप्त सुंग जी ह्यून और चौथी वरीयता प्राप्त दानिश मिया का सामना करना पड़ सकता है।

पिछले 2 टूर्नामेंट में कुछ खास नहीं रहा है साइना का प्रदर्शन
अगर वे यह मैच जीत जाती हैं, तो सेमीफाइनल में सिंधु से भिड़ेंगी। 31 साल की हो चुकीं साइना भी आउट ऑफ फॉर्म हैं। पिछले 2 टूर्नामेंट में उनका प्रदर्शन भी कुछ खास नहीं रहा है। इसका नतीजा यह रहा कि वे वर्ल्ड रैंकिंग में 19वें नंबर पर फिसल चुकी हैं।

सात्विक और चिराग की जोड़ी से भी काफी उम्मीदें
इसके अलावा मेन्स डबल्स में वर्ल्ड नंबर-10 सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी से भी काफी उम्मीदें होंगी। वे जनवरी में टोयोटा थाईलैंड ओपन के सेमीफाइनल तक पहुंचे थे। स्विस ओपन में दूसरी वरीयता प्राप्त इस जोड़ी ने हाल ही में ओलिंपिक पदक विजेता मैथियास बोए को अपना कोच नियुक्त किया था।

सात्विक पोनप्पा का सामना दूसरी वरीयता प्राप्त जोड़ी से
वहीं, सात्विक और अश्विनी पोनप्पा की मिक्स्ड डबल्स की जोड़ी पर भी सबकी नजरें टिकी होंगी। यह दोनों शानदार फॉर्म में हैं। टोयोटा थाईलैंड में दोनों मिक्स्ड डबल्स के सेमीफाइनल तक पहुंचे थे। हालांकि, पहले ही राउंड में इन दोनों का सामना दूसरी वरीयता प्राप्त इंडोनेशिया की जोड़ी हाफिज फैजल और ग्लोरिया इमैनुअल विजाजा से होगा।

खबरें और भी हैं...