• Hindi News
  • Sports
  • Wimbledon World No. 1 Novak Djokovic Will Face Wild Card Entry Jack Draper In The First Round Of Wimbledon

फेडरर और नडाल की बराबरी कर सकते हैं जोकोविच:विम्बलडन के पहले राउंड में वर्ल्ड नंबर-1 की वाइल्ड कार्ड एंट्री जैक ड्रैपर से भिड़ंत, अब तक जीत चुके हैं 19 ग्रैंड स्लैम खिताब

लंदन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विम्बलडन के ड्रॉ के मुताबिक नोवाक जोकोविच (दाएं) और फेडरर फाइनल से पहले आमने-सामने नहीं हो सकते हैं। - Dainik Bhaskar
विम्बलडन के ड्रॉ के मुताबिक नोवाक जोकोविच (दाएं) और फेडरर फाइनल से पहले आमने-सामने नहीं हो सकते हैं।

दुनिया के नंबर-1 पुरुष टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच 28 जून से शुरू हो रहे ग्रास कोर्ट ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट विम्बलडन के पहले राउंड में वाइल्ड कार्ड एंट्री जैक ड्रैपर से भिड़ेंगे। 8 बार के चैंपियन रोजर फेडरर को मेंस ड्रॉ के दूसरे हाफ में रखा गया है। इसका मतलब है कि 34 साल के जोकोविच और 39 साल के फेडरर फाइनल से पहले एक-दूसरे के रास्ते में नहीं आएंगे। जोकोविच अगर यह टूर्नामेंट जीतते हैं तो सबसे ज्यादा ग्रैंड स्लैम जीतने के मामले में फेडरर और राफेल नडाल की बराबरी कर लेंगे।

जोकोविच ने अब तक 19 ग्रैंड स्लैम जीते हैं। वहीं, फेडरर और नडाल ने 20-20 खिताब अपने नाम किए हैं।

19 साल के जैक ड्रैपर एंडी मरे को अपना आदर्श मानते हैं। पहले राउंड में उनका सामना वर्ल्ड नंबर-1 नोवाक जोकोविच से होगा।
19 साल के जैक ड्रैपर एंडी मरे को अपना आदर्श मानते हैं। पहले राउंड में उनका सामना वर्ल्ड नंबर-1 नोवाक जोकोविच से होगा।

कोरोना के कारण पिछले साल नहीं हुआ था विम्बडलन
साल 1877 में शुरू हुआ दुनिया का सबसे पुराना ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट विम्बलडन पिछले साल (2020 में) कोरोना महामारी के कारण नहीं हो सका था। इस बार यूके में महामारी नियंत्रण में है लिहाजा आयोजन कराने का फैसला हुआ है। यह ग्रास कोर्ट पर होने वाला दुनिया का इकलौता ग्रैंड स्लैम है।

22 साल के यूनानी खिलाड़ी स्टेफानोस सितसिपास ने इस साल फ्रेंच ओपन में फाइनल तक का सफर तय किया था। वहां, उन्हें जोकोविच से ही हार झेलनी पड़ी थी।
22 साल के यूनानी खिलाड़ी स्टेफानोस सितसिपास ने इस साल फ्रेंच ओपन में फाइनल तक का सफर तय किया था। वहां, उन्हें जोकोविच से ही हार झेलनी पड़ी थी।

सितसिपास या मरे से हो सकती है जोकोविच की भिड़ंत
पांच बार के विम्बलडन चैंपियन जोकोविच के शुरुआती मुकाबले आसान हैं। लेकिन, सेमीफाइनल में उनके सामने फ्रेंच ओपन फाइनलिस्ट स्टेफानोस सितसिपास या एंडी मरे से हो सकती है। मरे चोट से उबरकर लंबे समय के बाद वापसी कर रहे हैं।

लगातार तीसरा खिताब जीतने की कोशिश
जोकोविच ऑल इंग्लैंड क्लब में लगातार तीसरी बार पुरुष सिंगल्स में चैंपियन बनने की कोशिश करेंगे। इससे पहले वे 2018 और 2019 में भी यहां विजेता रहे हैं। जोकोविच ने विम्बलडन में अपना पहला खिताब 2011 में जीता था। इसके बाद वे 2014 और 2015 में भी चैंपियन बने थे।

2017 में आखिरी बार चैंपियन बने थे फेडरर
39 साल के रोजर फेडरर सबसे ज्यादा बार विम्बलडन सिंगल्स का खिताब जीतने वाले पुरुष खिलाड़ी हैं। वे यहां 2003 से अब तक 8 बार खिताब जीत चुके हैं। फेडरर ने विम्बलडन में अपना आखिरी खिताब 2017 में जीता था।

जोकोविच का है 72-10 का रिकॉर्ड
विम्बलडन में जोकोविच का करियर रिकॉर्ड 72-10 का है। यानी यहां उन्हें 72 मैचों में जीत मिली है और सिर्फ 10 मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है। वे अगर ड्रैपर के खिलाफ पहला मैच जीतते हैं तो दूसरे राउंड में उनके सामने 2018 के फाइनलिस्ट केविन एंडरसन आ सकते हैं। क्वार्टर फाइनल में एंड्र्यू रुबेलेव उनके प्रतिद्वंद्वी हो सकते हैं।

खबरें और भी हैं...