• Hindi News
  • Sports
  • Women's Singles In Trouble Due To Shocking Results In D Slam, Rivalry Is Not Visible

स्वातेक और कोको गॉफ उलटफेर की शिकार:ड स्लैम में चौंकाने वाले नतीजों से महिला सिंगल्स पर संकट, नहीं दिख रही राइवलरी

10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अमेरिकी टेनिस प्लेयर कोको गॉफ ऑस्ट्रेलियन ओपन में हारने के बाद आपने इमोशंस कंट्रोल नहीं कर पाई। - Dainik Bhaskar
अमेरिकी टेनिस प्लेयर कोको गॉफ ऑस्ट्रेलियन ओपन में हारने के बाद आपने इमोशंस कंट्रोल नहीं कर पाई।

कोको गॉफ पर जेलेना ओस्तापेंकाे की जीत और इगा स्वातेक को एलिना राइबकिना के खिलाफ मिली हार से ऑस्ट्रेलियन ओपन के फैंस काफी निराश हैं। हार के बाद इंटरव्यू रूम में कोको गाॅफ की अांखों में आंसू थे और उन्होंने चौथे राउंड में मिली हार का अफसोस जताया। इस ग्रैंड स्लैम के आयोजक भी निराश होंगे। वर्ल्ड नंबर-1 स्वातेक की हार के करीब 30 मिनट बाद ही गॉफ की भी विदाई हो गई थी। इन दोनों के नाम पर ही ब्रॉडकास्टर्स और मार्केटर्स ने अपनी इन्वेंटरी बेची थी। हालांकि, ग्रैंड स्लैम की महिला कैटेगरी में यह नई घटना नहीं है। डब्ल्यूटीए टूर के दौरान महिला खिलाड़ियों के बीच राइवलरी का पता करना मुश्किल होता है। अधिकतर टूर्नामेंट में तो यह भी पता नहीं चलता कि यहां खिताब की दावेदार कौन हो सकती हैं।

अगर पिछले ऑस्ट्रेलियन ओपन को देखा जाए तो दावेदार में स्वातेक, एश्ले बार्टी, नाओमी ओसाका, िसमोना हालेप और उभरती गॉफ व एमा राडुकानू थीं। ओस्तापेंको ने गॉफ और रायबकिना ने स्वातेक को लगातार सेट में हराकर बाहर किया। ये दोनों जीतने वाली खिलाड़ी खास चर्चित नहीं हैं। रायबकिना ने पिछले साल विम्बलडन जीता था, हालांकि जब वे विम्बलडन खेलने उतरीं थीं। महिला सिंगल्स की इस हार से एक अनोखा रिकॉर्ड कायम हुआ। 1968 में ओपन एरा शुरू होने के बाद यह पहला ग्रैंड स्लैम है, जब पुरुष और महिला दोनों में टॉप टू सीड के खिलाड़ी क्वार्टर फाइनल से पहले ही बाहर हो गए। नडाल और कैस्पर रूड के अलावा ओंस जेबुर भी बाहर हो चुकी हैं।

खबरें और भी हैं...