पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Sports
  • Sushil Kumar | Wrestler Sagar Dhankad Murder Case; Sushil Kumar And His PA Ajay Kumar Will Be Produced In Court Today

पहलवान सागर मर्डर केस:कोर्ट ने सुशील कुमार की पुलिस रिमांड 4 दिन बढ़ाई, पुलिस ने ओलिंपिक मेडलिस्ट पर जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया

नई दिल्ली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सागर मर्डर केस में पुलिस ने ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार को मुंडका से गिरफ्तार  किया था। - Dainik Bhaskar
सागर मर्डर केस में पुलिस ने ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार को मुंडका से गिरफ्तार किया था।

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट ने रेसलर सागर मर्डर केस में आरोपी सुशील कुमार की पुलिस रिमांड 4 दिन बढ़ा दी है। सुशील को पहले 6 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया था, जो आज खत्म हो रही है। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में कहा कि सुशील जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। ऐसे में उनका रिमांड बढ़ाना जरूरी है। वहीं, सुशील के वकील प्रदीप राणा ने इसका विरोध किया।

दिल्ली पुलिस ने 7 दिनों की रिमांड मांगी थी
दिल्ली पुलिस ने कोर्ट से 7 दिनों की रिमांड मांगी थी, लेकिन कोर्ट ने 4 दिन की कस्टडी पुलिस को दी। इसके साथ ही कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को यह भी निर्देश दिया है कि हर 24 घंटे में सुशील पहलवान का मेडिकल कराया जाएगा। इसके साथ ही सुशील के वकील को कस्टडी के दौरान मिलने की भी इजाजत दी जाएगी।

सुशील के वकील ने दिल्ली पुलिस पर लगाए आरोप
रोहिणी कोर्ट में सुनवाई के दौरान सुशील के वकील ने बिना कोर्ट की इजाजत के जांच क्राइम ब्रांच को सौंपने को लेकर पुलिस पर निशाना भी साधा। सुशील के वकील ने कहा कि पुलिस ने बीते 6 दिन में क्या-क्या किया है, इसकी जानकारी कोर्ट को दे। वकील ने कहा कि पुलिस ने वारदात का वीडियो मीडिया को क्यों दिया। ऐसे में पुलिस कस्टडी नहीं देनी चाहिए।

बचाव पक्ष का वकील तय नहीं कर सकता जांच कौन करेगा
वहीं, दिल्ली पुलिस के वकील ने कहा कि पुलिस आरोपी पर कोई दवाब नहीं डालती, आरोपी पर निर्भर करता है कि वो जांच में किस तरह सहयोग कर रहा है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर को ये पूरा अधिकार है वे किसी भी यूनिट को जांच सौंप सकते हैं। बचाव पक्ष के वकील ये तय नहीं कर सकते कि जांच कैसी हो।

सुशील को पुलिस कस्टडी में भेजा जाना जरूरी
पुलिस ने कहा कि मोबाइल फोन अभी रिकवर किया जाना बाकी है। अब तक इस मामले में 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। फरार लोगों की पहचान होनी अभी बाकी है। सुशील के घर का DVR भी बरामद किया जाना है। वारदात के समय जो कपड़े पहने थे, उन्हें भी बरामद करना है। इसलिए सुशील को और रिमांड पर भेजा जाना चाहिए।

23 मई को दिल्ली के मुंडका से गिरफ्तार हुए सुशील
दिल्ली पुलिस ने 23 मई को मुंडका से सुशील कुमार और उनके पीए अजय को गिरफ्तार किया था। वहीं शुक्रवार को सुशील की मां की ओर से मीडिया कवरेज पर रोक लगाने की यचिका को भी दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था।

पुलिस ने अब तक सागर के हत्या के आरोप में सुशील के अलावा 7 और आरोपियों गिरफ्तार चुकी है। इसमें सुशील का पीए अजय, भुपेंदर (38), मोहित असोदा (22), गुलाब (24), मंजीत (29), रोहित (23) और प्रिंस दलाल शामिल हैं।

घटना का वीडियो भी आया है सामने
छत्रसाल स्टेडियम में जूनियर पहलवान सागर की हत्या का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें ओलिंपियन सुशील कुमार दोस्तों के साथ हॉकी स्टीक से सागर की पिटाई करते हुए दिख रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, ये वीडियो घटना वाले दिन खुद सुशील कुमार ने अपने दोस्त के मोबाइल से शूट करवाया था, ताकि कुश्ती सर्किट में उसका खौफ बना रहे।

तस्वीरों में घायल पहलवान 23 वर्षीय सागर धनखड़ को जमीन पर पीठ के बल खून से लथपथ पड़ा हुआ देखा जा सकता है। आरोपी सुशील कुमार और तीन अन्य ने उसे घेर लिया है। सभी के हाथ में हॉकी स्टीक है। इसके बाद इलाज के दौरान सागर ने दम तोड़ दिया था। बताया जा रहा है कि यह झगड़ा प्रॉपर्टी विवाद को लेकर हुआ था।

खबरें और भी हैं...