पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हॉकी के हीरोज को क्रिकेट का सलाम:सचिन बोले- आखिरी पलों में श्रीजेश का सेव अद्भुत, गंभीर ने कहा- हॉकी का मेडल किसी भी क्रिकेट वर्ल्ड कप से बड़ा

टोक्योएक महीने पहले

ओलिंपिक में ब्रॉन्ज जीतने वाले हॉकी के हीरोज को क्रिकेटर्स की बधाइयां मिल रही हैं। कई पूर्व दिग्गज क्रिकेटर्स ने सोशल मीडिया पर इस जीत को सलाम किया है। सचिन तेंदुलकर ने भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने आखिरी पलों में जो सेव किया वो अद्भुत था। उधर, गौतम गंभीर ने कहा कि हॉकी का ये मेडल किसी भी क्रिकेट वर्ल्ड कप से बड़ा है। पढ़िए हॉकी हीरोज की तारीफ में क्रिकेटर्स ने क्या कहा...

सचिन तेंदुलकर: भारत के लिए ब्रॉन्ज जीतने पर हॉकी टीम के हर सदस्य को बधाई। ये बहुत कड़े मुकाबले से मिली जीत है। आखिरी पलों में श्रीजेश ने जो पेनल्टी कॉर्नर बचाया, गेम का वो पल शानदार था। पूरा देश बहुत गौरवान्वित है।

गौतम गंभीर: 1983, 2007 और 2011 को भूल जाओ। हॉकी का ये मेडल किसी भी वर्ल्ड कप से बड़ा है। इंडियन हॉकी मेरा गर्व है।

वीरेंद्र सहवाग: चक दे फट्टे। भारतीय हॉकी के लिए ये मील का पत्थर है। 3-1 से पिछड़ने के बाद इंडिया ने फाइट बैक किया और 5-4 से ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया। 41 साल बाद हॉकी में पहला मेडल। मजा आ गया।

हरभजन सिंह: हॉकी में भारत के लिए 41 साल बाद ब्रॉन्ज। क्या गेम था। हॉकी पर गर्व है।

शिखर धवन: इतिहास। हमारे देश की हॉकी टीम को इतिहास रचने पर बधाई। ये एक शानदार उपलब्धि है, जिसे भूला नहीं जा सकता है।

सुरेश रैना: भारतीय हॉकी टीम को दिल से बधाई। हमें आपकी कोशिशों पर बहुत गर्व है। इस जीत पर हमेशा जश्न मनाया जाएगा।

वीवीएस लक्ष्मण: WOW! WOW! 3-1 पिछड़ने के बाद शानदार तरीके से इंडियन टीम की वापसी, लड़ाई और फिर मेडल जीतना देखकर गर्व हो रहा है। 1980 के बाद ये हॉकी का पहला मेडल है। बधाइयां।

आरपी सिंह बोले- हमारी टीम पर गर्व है

BCCI ने भी दी बधाई

खबरें और भी हैं...