टोक्यो ओलिंपिक:सिंधु लगातार दो ओलिंपिक में मेडल जीतने वाली दुनिया की सिर्फ चौथी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी, हॉकी में टीम इंडिया का जलवा जारी

टोक्यो3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
2016 में सिल्वर जीतने वाली सिंधु ने टोक्यो में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया। - Dainik Bhaskar
2016 में सिल्वर जीतने वाली सिंधु ने टोक्यो में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया।

टोक्यो ओलिंपिक में रविवार का दिन भारत के लिए शानदार रहा। बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने महिला सिंगल्स का ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम कर लिया। उन्होंने तीसरे स्थान के लिए हुए मैच में चीन की जियाओ बिंग हे को 21-13, 21-15 से हराया। यह मैच 53 मिनट तक चला। सिंधु दुनिया की चौथी बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं, जिन्होंने दो अलग-अलग ओलिंपिक में मेडल जीता है। साथ ही वे दो ओलिंपिक मेडल जीतने वालीं ओवरऑल दूसरी भारतीय खिलाड़ी और पहली भारतीय महिला बन गई हैं।

सिंधु ने 2016 रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीता था। इंडिविजुअल इवेंट में भारत से इससे पहले पहलवान सुशील कुमार दो ओलिंपिक मेडल जीत पाए हैं। उन्होंने बीजिंग (2008) ओलिंपिक में ब्रॉन्ज और लंदन ओलिंपिक (2012) में सिल्वर मेडल जीता था।

दूसरी ओर भारतीय हॉकी टीम ने ब्रिटेन को 3-1 से हराकर 49 साल बाद ओलिंपिक के सेमीफाइनल में जगह बनाई है। भारत ने 1980 में गोल्ड मेडल जरूर जीता था, लेकिन उस ओलिंपिक में ग्रुप स्टेज के बाद सीधा फाइनल हुआ था। सेमीफाइनल का फॉर्मेट था ही नहीं। इससे पहले भारत आखिरी बार 1972 ओलिंपिक के सेमीफाइनल में पहुंचा था।

उधर, टोक्यो ओलिंपिक में पुरुषों की 100 मीटर स्प्रिंट में इटली के मार्शेल जैकब ने 9.79 सेकेंड का समय निकाल कर गोल्ड मेडल जीत लिया है। अमेरिका के फ्रेड केरली (9.84 सेकंड) ने सिल्वर और कनाडा के आंद्रे डि ग्रासे (9.89 सेकंड) ने ब्रॉन्ज मेडल जीता।

अब टोक्यो ओलिंपिक में भारत के तीन मेडल हो गए हैं। वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने सिल्वर जीता है। वहीं, मुक्केबाज लवलिना बोरगोहेन ने महिलाओं की 69 किलोग्राम वेट कैटेगरी में कम से कम ब्रॉन्ज पक्का कर लिया है।

क्वार्टर फाइनल मुकाबले में सतीश एकतरफा अंदाज में हार गए।
क्वार्टर फाइनल मुकाबले में सतीश एकतरफा अंदाज में हार गए।

दूसरी ओर, भारतीय बॉक्सर सतीश कुमार हैवीवेट में वर्ल्ड नंबर वन जलोलोव बखोदिरि से हार कर मेडल की रेस से बाहर हो गए। उज्बेकिस्तान के जलोलोव बखोदिरि को पहले राउंड में सभी जजों ने 10-10 अंक दिए। वहीं दूसरे राउंड में भी फैसला बखोदिरि के पक्ष में रहा। तीसरे राउंड में भी वे आसानी से जीत गए। सतीश पिछले मुकाबले में चोटिल हो गए थे। पहले ऐसी भी खबरें आ रही थी कि उन्‍हें क्‍वार्टर फाइनल के लिए रिंग में उतरने की मंजूरी नहीं मिलेगी।

बेल्जियम की हॉकी टीम सेमीफाइनल में
पुरुष हॉकी में बेल्जियम ने स्पेन को 3-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली है। अंतिम 4 के मुकाबले में बेल्जियम का सामना भारत की टीम से होगा। दूसरी ओर रियो ओलिंपिक की चैंपियन अर्जेंटीना हॉकी टीम मेडल की होड़ से बाहर हो गई है। अर्जेंटीना को क्वार्टर फाइनल में जर्मनी ने 3-1 से हरा दिया। वहीं दूसरे क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने पेनल्टी शूटआउट में नीदरलैंड को हराकर सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली है।

गोल्फ- आखिरी राउंड में अर्निबान 28वें स्‍थान पर हैं, जबकि उदयान 56वें स्‍थान पर फिसल गए हैंं।
घुड़सवारी- फवाद ने तकनीकी वजह से थोड़ी देरी से शुरुआत की। क्रॉस कंट्री में पेनल्‍टी मिली। वह 13वें स्थान पर हैं।

खबरें और भी हैं...