• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Gurgaon
  • Sohna News 4 lakh vehicles park illegally on city roads laid the foundation of two multilevel parking after 11 years only 1275 vehicle drivers will get benefit

शहर की सड़कों पर 4 लाख वाहन अवैध पार्क, 11 साल बाद दो मल्टीलेवल पार्किंग की आधारशिला रखी, सिर्फ 1275 वाहन चालकों को लाभ मिलेगा

Gurgaon News - नगर निगम के गठन के 11 वर्ष बाद शहर में दो मल्टी लेवल पार्किंग तैयार होने जा रही है। दोनों शहर सबसे व्यस्ततम क्षेत्र...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:36 AM IST
Sohna News - 4 lakh vehicles park illegally on city roads laid the foundation of two multilevel parking after 11 years only 1275 vehicle drivers will get benefit
नगर निगम के गठन के 11 वर्ष बाद शहर में दो मल्टी लेवल पार्किंग तैयार होने जा रही है। दोनों शहर सबसे व्यस्ततम क्षेत्र सदर बाजार के आसपास बनाई जाएंगी। नगर निगम का अबतक का यह सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है, जिस पर कुल 198 करोड़ रुपए लागत आएगी। इसके लिए दो अलग-अलग कंपनियों को ठेका जारी किया गया है।

शुक्रवार को प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह ने दोनों की आधारशिला रखी। निगम द्वारा बनाए जा रहे दोनों पार्किंग से 1275 वाहन चालकों को लाभ होगा। एक मल्टी लेवल पार्किंग कमान सराय में बनेगी जो गुड़गांव के मुख्य बस अड्डे और सदर बाजार के बीच स्थित है। दूसरी मल्टी लेवल पार्किंग सदर बाजार के पश्चिम में रेलवे रोड पर पुराने पशु अस्पताल वाली जगह पर बनाई जाएगी। सीएम घोषणा से संबंधित इस दोनों पार्किंग का निर्माण नगर निगम करेगा।

कमान सराय पार्किंग की यह होगी विशेषता

इसके लिए एएस इंटरप्राइजेज एजेंसी को ठेका दिया गया है। इस पर लगभग 150 करोड़ रुपए की लागत आएगी। इसमें लगभग 1000 वाहनों को खड़ा करने की सुविधा होगी। पार्किंग के बेसमेंट में तीन लेवल के साथ स्टिल्ट और 6 मंजिल बनाई जाएंगी। इसका कुल क्षेत्रफल कुल 8332 वर्ग मीटर का होगा। यह यह 2 साल में बनकर तैयार होगी। इस मल्टी लेवल पार्किंग का डिजाइन और मॉडल इस प्रकार से बनाया गया है कि इसमें कॉमर्शियल गतिविधियां जैसे दुकानें, एक्सक्लूसिव बैंक्वेट हॉल, तीन स्क्रीन वाला मल्टीप्लैक्स, फूड पंडाल, जिम तथा बैडमिंटन आदि खेलने की सुविधा भी उपलब्ध होगी। नगर निगम का दावा है कि इस पार्किंग पर होने वाली लागत लगभग 15 साल में रिकवर हो जाएगी

पुराने पशु अस्पताल की जमीन पर दूसरी पार्किंग बनेगी

सदर बाजार के साथ रेलवे रोड पर पुराने पशु अस्पताल वाले स्थान पर मल्टी लेवल पार्किंग का ठेका रैपिड कंस्ट्रक्शन कंपनी को सौंपा गया है। इसमें लगभग 275 वाहनों के पार्किंग की सुविधा होगी। इस पर लगभग 48 करोड़ रुपए खर्च होगा। यह परिसर की बेसमेंट में तीन मंजिल तथा ऊपर स्टिल्ट के साथ 6 मंजिल होंगी। यह पार्किंग परिसर 3186 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में बनेगा। इसमें भी कॉमर्शियल गतिविधियों के लिए स्थान होगा। इसमें शो रूम, रिटेल शॉप, बैडमिंटन कोर्ट, फूड कोर्ट आदि की व्यवस्था होगी और यह कॉम्पलैक्स भी फाइंनेंशियली वायबल मॉडल होगा। इस परिसर को बनाने में जितना खर्च होगा, उससे उतनी ही इनकम हो जाएगी।

मल्टीलेवल पार्किंग से नहीं बनेगी बात, वाहन उठाने का चलाएंगे अभियान :बी उमाशंकर

सोहना चौक पर इस स्थान पर बनेगी मल्टीलेवल पार्किंग।

निगम के हर साल के बजट में किया जा रहा है प्रावधान

पुराने शहर में कमान सराय, व्यापार सदन, सदर बाजार स्थित पशु अस्पताल परिसर में मल्टीलेवल पार्किंग बनाने के लिए बीते 11 सालों से प्रयास हो रहा था। इसके लिए नगर निगम द्वारा हर साल के बजट में प्रावधान किया जा रहा था, मगर जमीन को लेकर सहमति नहीं बनने के कारण एक भी योजना सिरे नहीं चढ़ पा रही थी।

सदर बाजार व बस अड्डा क्षेत्र में वाहन चालकों को लाभ

गुड़गांव में 15 लाख से अधिक वाहन हैं। पार्किग व्यवस्था नहीं होने के चलते शहर में 4 लाख से अधिक वाहन सड़कों पर खड़े किए जाते हैं। पुराने शहर में सदर बाजार और बस अड्डा क्षेत्र में पार्किंग की सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। इस क्षेत्र में ओल्ड दिल्ली रोड पर गोशाला मैदान से दिल्ली बॉर्डर तक कहीं भी पार्किंग के लिए खुली जगह नहीं है। इसी तरह से सदर बाजार से लगते एक तरफ ओल्ड रेलवे रोड और दूसरी तरफ न्यू रेलवे रोड है। इस दोनों रोड के साथ कहीं भी पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। उधर, पटौदी चौक व सोहना रोड के साथ लगते क्षेत्रों में भी पार्किंग की समस्या बनी हुई है। इन सड़कों पर वाहन चालक जहां-तहां कार पार्किंग करते हैं।

सीएम की घोषणा थी, सदन को विश्वास में लेने की जरूरत नहीं: वशिष्ठ

हालांकि, इस प्रोजेक्ट के लिए नगर निगम सदन को विश्वास में नहीं लिया गया। नगर निगम के चीफ इंजीनियर एनडी वशिष्ठ का कहना है कि यह सीएम घोषणा से संबंधित प्रोजेक्ट है। इसमें नगर निगम सदन की कोई भूमिका नहीं है। निगम सदन को केवल 2 करोड़ तक के प्रोजेक्ट मंजूर करने का अधिकार है। विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले दोनों प्रोजेक्ट का अचानक से शिलान्यास किए जाने के संबंध में चीफ इंजीनियर का कहना है कि इसके लिए डेढ़ महीने से टेंडर प्रक्रिया चल रही थी। यह अचानक नहीं हुआ है।

ओल्ड जेल कॉम्पलेक्स पर हुडा ने नहीं दी जमीन

जीएमडीए द्वारा ओल्ड जेल कॉम्पलेक्स की लगभग 2 एकड़ जमीन पर मल्टीलेवल पार्किंग का प्रस्ताव था। मगर, इसके लिए हुडा की तरफ से जमीन उपलब्ध नहीं कराई गई।

पुराने शहर में पार्किंग की बजाय सड़क पर खड़े होते हैं वाहन

जीएमडीए के सीईओ वी उमाशंकर का मानना है कि केवल मल्टीलेवल पार्किंग बनाने से ट्रैफिक समस्या का समाधान संभव नहीं है। सेक्टर-29 में निजी कंपनी द्वारा मल्टीलेवल पार्किंग बनाई गई है, जिसमें पार्किंग की क्षमता से केवल 10 फीसदी वाहन पहुंच रहे हैं। पुराने शहर में भी कई जगहों पर पार्किंग की सुविधा है, मगर लोग सड़कों के किनारे जहां-तहां गाड़ियां खड़ी करना ही उचित समझते हैं। ऐसे लोगों को व्यवस्थित करने के लिए भय पैदा करने की जरूरत है। इस को ध्यान में रखते हुए जीएमडीए सड़क किनारे अवैध पार्क किए वाहन को उठाने पर जोर दे रहा है। क्रेन की मदद से वाहन उठाए जाएंगे और वाहनों को छुड़वाने के लिए वाहन मालिक से 200 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक का जुर्माना वसूला जाएगा। वाहन उठाने के लिए पुराने और नए शहरी क्षेत्रों में दो-दो क्रेन लगाए गए हैं।

गुड़गांव. सेक्टर 15 में सड़क के दोनों ओर की गई अवैध पार्किंग।

Sohna News - 4 lakh vehicles park illegally on city roads laid the foundation of two multilevel parking after 11 years only 1275 vehicle drivers will get benefit
X
Sohna News - 4 lakh vehicles park illegally on city roads laid the foundation of two multilevel parking after 11 years only 1275 vehicle drivers will get benefit
Sohna News - 4 lakh vehicles park illegally on city roads laid the foundation of two multilevel parking after 11 years only 1275 vehicle drivers will get benefit
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना