एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग सिस्टम बताएंगे शहर का प्रदूषण, हवा की गति व बारिश का आंकड़ा

Faridabad News - रेजिडेंट्स ने लगाया बिल्डर पर समस्याओं पर ध्यान नहीं देने का आरोप सूरजकुंड रोड स्थित ओमेक्स फोरेस्ट स्पा...

Feb 10, 2020, 07:15 AM IST
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
रेजिडेंट्स ने लगाया बिल्डर पर समस्याओं पर ध्यान नहीं देने का आरोप

सूरजकुंड रोड स्थित ओमेक्स फोरेस्ट स्पा सोसाइटी के लोगों ने रविवार को विभिन्न मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। इसमें सोसाइटी के करीब 300 रेजीडेंट्स शामिल थे। इस दौरान उन्होंने अपनी मांगों को लेकर बिल्डर कंपनी के अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा। इनका आरोप है कि बिल्डर की लापरवाही से उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सोसाइटी में 4 साल से बिजली की समस्या बनी हुई है। सीवर की समस्या से लोग परेशान हैं। सुरक्षाकर्मी की तैनाती समुचित तरीके से नहीं हो रही है। इससे लोग अपने को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। लिफ्ट खराब होने से 8 से 10वें फ्लोर तक सीढ़ी से चढ़ना पड़ता है। इससे सबसे ज्यादा बुजुर्ग और बच्चों को परेशानी हो रही है। ओमेक्स फोरेस्ट स्पा आरडब्ल्यूए की अध्यक्ष संगीता बत्रा और समाजसेवी बीके शर्मा समेत एसपी चावला, परितोष मनोचा, रणवीर सिंह आदि ने बताया कि इस सोसाइटी में 324 फ्लैट्स हैं। यहां 1200 से अधिक लोग रह रहे हैं। हमने मोटी रकम खर्च कर यहां फ्लैट इसलिए खरीदे कि अपना घर होगा और सुकून से रह सकेंगे। लेकिन यहां तो समस्या ही समस्या हैं। इन समस्याओं के समाधान की मांग बिल्डर कंपनी के अधिकारियों से करते हैं तो वह आश्वासन देकर उन्हें टरका देते हैं। सोसाइटी में शुरूआत से ही बिजली की समस्या है। साथ ही सीवरेज की समस्या भी काफी पुरानी है। इसके इस संबंध में ओमेक्स के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर प्रोजेक्ट योगेश्वर रस्तोगी से मोबाइल फोन पर बात करने की कोशिश की गई तो उनका मोबाइल फोन बंद मिला।

ईएसआईसी कॉलेज में अब पीड़तों को मिलेगी कीमोथैरेपी

भास्कर न्यूज |फरीदाबाद

एनआईटी-3 नंबर स्थित ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में अब कैंसर मरीजों को बेहतर सुविधा मिल सकेगी। उनके लिए अस्पताल एवं कॉलेज में कीमोथैरेपी की सुविधा शुरू की जा रही है। इससे कर्मचारी राज्य बीमा निगम के बीमा धारकों को फायदा होगा। ऐसे में अब कैंसर के मरीजों को उपचार के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।

ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में फरीदाबाद, गुड़गांव व पलवल, मेवात समेत दिल्ली से भी मरीज उपचार कराने पहुंचते हैं। यहां की ओपीडी में रोज 3 हजार से ज्यादा मरीजों का उपचार किया जाता है। लेकिन यहां अभी तक कैंसर पीड़ित मरीजों के लिए समुचित व्यवस्था नहीं थी। इससे इन्हें कीमोथैरेपी व अन्य जांच के लिए पैनल वाले अस्पताल में रेफर किया जाता था। जिसके चलते उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। ऐसे में कई मरीज निजी अस्पतालों का रुख कर लेते थे। इसमें उनके काफी पैसे खर्च होते थे। अधिकारियों का कहना है कि अस्पताल एवं कॉलेज में अब कैंसर मरीजों के लिए समुचित व्यवस्था की जा रही है।

पति ने मारा प|ी की गर्दन पर चाकू मार किया हमला

पलवल | शहर के शमशाबाद स्थित एक मकान में एक पति ने अपनी ही प|ी पर घरेलू विवाद के चलते धारधार हथियार से हमला कर दिया। धारदार हथियार महिला की गर्दन पर लगा, जिससे महिला की गर्दन में गहरा घाब हो गया। गंभीर हालत में महिला को उपचार के लिए जिला नागरिक अस्पताल लाया गया, जहां से उसकी हालत नाजुक देखते हुए नल्लहड़ के लिए रेफर कर दिया। कैंप थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि शमशाबाद निवासी शंभुनाथ व उसकी प|ी बीरवती में पिछले करीब एक वर्ष से घरेलू विवाद चल रहा है। दोनों अलग-अलग रहते है, बताया कि रविवार को शंभु नाथ घर पर आया और आते ही अपनी प|ी बीरवती पर चाकु से हमला कर दिया।

तीन किलोमीटर के दायरे में कितना है शहर के प्रदूषण का स्तर, ये मानिटरिंग सिस्टम कैच करेंगे, ये 24 घंटे काम करेंगे

एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग सिस्टम को लगाने वाले इंजीनियर दिनेश शर्मा के अनुसार सिस्टम में लगे मेट्रोलॉजिकल सेंसर के माध्यम से शहर के 24 घंटे के तापमान का आंकड़ा भी जुटाएगा। इसके अलावा हवा की गति, हवा की दिशा, उमस भरी गर्मी और करंट का बारिश का आंकड़ा भी एकत्र करेगा। इन यंत्रों की रेंज 3 किलोमीटर तक निर्धारित है। चूंकि शहर के चारों ओर अलग-अलग स्थानों पर सिस्टम लगाए जा रहे हैं ऐसे में हर सिस्टम अपने स्थान से तीन किलोमीटर के दायरे को कवर करेगा। इन सभी का डाटा सीपीसीबी और एचएसपीसीबी के पास पहुंचता रहेगा।

ओल्ड रेलवे स्टेशन पर रास्ता जाम करने वाले 4 ऑटो चालक अरेस्ट

भास्कर न्यूज|फरीदाबाद

ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार रात एंबुलेंस के आने में बाधा पैदा करने वाले चार ऑटो चालकों को आरपीएफ ने गिरफ्तार कर रेलवे एक्ट की धाराओं के तहत उनका चालान कर दिया। साथ ही उनके ऑटो भी जब्त कर लिए। शुक्रवार रात एक महिला ट्रेन से उतरते समय प्लेटफार्म पर गिरकर घायल हो गई थी। जीआरपी व आरपीएफ एंबुलेंस बुलाकर उसे अस्पताल ले जाने का प्रयास कर रही थी। लेकिन ओल्ड रेलवे स्टेशन पर बुकिंग काउंटर के पास तक ऑटो वालों ने कब्जा कर रखा था। इससे एंबुलेंस के आने में बाधा पैदा हो रही थी। आखिर में जीआरपी सब इंस्पेक्टर राजपाल ने धमकाकर ऑटो चालकों को भगाया। इसके बाद एंबुलेंस मरीज तक पहुंच पाई। दैनिक भास्कर ने ऑटो चालकों की मनमानी को 9 फरवरी के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित किया। इसके बाद कार्रवाई करते हुए आरपीएफ ने चार ऑटो चालकों का चालान किया। आरपीएफ इंस्पेक्टर आरके लांबा के अनुसार ऑटो चालकों के खिलाफ अब अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

डॉक्टर व परिजनों पर जानलेवा हमले का आरोप

फरीदाबाद | ग्रेटर फरीदाबाद के ओजोन पार्क सोसायटी में रहने वाले एक बुजुर्ग ने एक डॉक्टर और उसके परिजनों पर जानलेवा हमला करने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। खेड़ीपुल थाना पुलिस घटना की जांच कर रही है। पीड़ित बुजुर्ग आरके गुप्ता ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि वह डॉक्टर के पास शनिवार रात करीब दस बजे इलाज कराने गए थे। इसी दौरान उनका किसी बात को लेकर विवाद हो गया। आरोप है कि डॉक्टर व उनके परिजनों ने एकजुट होकर उन पर हमला कर दिया। इस हमले में बुजुर्ग गंभीर रूप से घायल हो गए। उनके सिर व हाथ में चोट आई है। पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है।

पति से बिछड़ी प|ी व 4 साल के बेटे को आरपीएफ ने मिलाया

भास्कर न्यूज |फरीदाबाद

मुंबई से मथुरा आ रहे एक दंपति ट्रेन में भीड़ अधिक होने के कारण बिछड़ गए। पति ने घटना की सूचना आरपीएफ मथुरा को दी। सूचना मिलने पर फरीदाबाद आरपीएफ ने यात्री की प|ी और चार साल के बेटे को ट्रेन से उतारकर मिलवाया। दंपति मूलरूप से नेपाल के रहने वाले हैं। महिला का पति नेपाल निवासी जनक मुंबई में विले पार्ले स्थित निजी संस्थान में नौकरी करते हैं। वह 12903 गोल्डन टेंपल एक्सप्रेस से मुंबई से मथुरा तक जनरल कोच में प|ी नानकला और चार साल के बेटे जयेंद्र के साथ सफर कर रहे थे। शनिवार शाम ट्रेन मथुरा पहुंची। जनक ट्रेन से उतर गए लेकिन भीड़ और सामान अधिक होने के कारण प|ी व बेटा नहीं उतर पाए। दो मिनट बाद ट्रेन फरीदाबाद की ओर रवाना हो गई। उन्होंने गार्ड से मदद मांगी। लेकिन गार्ड ने ट्रेन नहीं रोकी। वह भागकर आरपीएफ मथुरा थाने पहुंचे और मामले की जानकारी दी। रात करीब साढ़े सात बजे ट्रेन के फरीदाबाद पहुंचने पर जनरल कोच को अटेंड कर यात्री की प|ी, चार साल के बेटे और उनका सामान नीचे उतारा। और यात्री जनक को उनका परिवार सौंप दिया।

सूरजकुंड रोड पर 3 किमी. लंबा जाम, घंटों फंसे रहे मेला जाने वाले लोग

भास्कर न्यूज |फरीदाबाद. सूरजकुंड मेला जाने वाले लोग रविवार को घंटों जाम में फंसे रहे। बड़खल से सूरजकुंड जाने वाली रोड पर करीब 3 किलोमीटर लंबा जाम लग गया। इससे इन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पर्यटकों का आरोप था कि जब पुलिस को पता है कि रविवार को मेला देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ती है तो उसे ऐसी व्यवस्था करनी थी। जिससे जाम ना लगे। साप्ताहिक छुट्टी होने से लाखों की संख्या में पर्यटक सूरजकुंड मेला पहुंचे थे। मेले के लिए बनाई गईं सभी पार्किंग फुल रहीं। ऐसे में बड़खल-सूरजकुंड रोड और दिल्ली से सूरजकुंड को जोड़ने वाली शूटिंग रेंज रोड और प्रह्लादपुर रोड पर भारी जाम रहा। वहीं इस जाम की परेशानी को लेकर पुलिस का कहना है कि पर्यटकों की संख्या बढ़ने से जाम की स्थिति बनी।

ओमेक्स सोसाइटी के रेजीडेंट्स का प्रदर्शन, बोले, 4 साल से बिजली और सीवर की समस्या से परेशान

ये है कैंसर के लक्षण | गांठ, दर्द, स्तन में बदलाव या जलन, स्तन का जरूरत से ज्यादा कठोर होना, निपल्स से तरल पदार्थ का स्राव, लंबे समय तक खांसी, बदहजमी, शरीर के किसी भी हिस्से में गांठ, उल्टी-दस्त के साथ खून, खाने में परेशानी, हड्डी में दर्द, लगातार बुखार, मुंंह का छाला ठीक न होना, पेट में लगतार दर्द, पेट फूलना।

एक और विशेषज्ञ किया नियुक्त |अधिकारियों की माने तो अस्पताल एवं कॉलेज में एक और विशेषज्ञ की नियुक्ति की जा चुकी है। इसके बाद अब यहां दो कैंसर विशेषज्ञ हो गए हैं। ये डाक्टर ऐसे लक्षण वाले मरीजों की जांच के बाद उपचार दे रहे हैं। हालांकि कॉलेज एवं अस्पातल में कैंसर पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इसलिए यहां डॉक्टरों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी। एक-दो महीने में कैंसर पीड़तों के लिए अधिकांश व्यवस्था यहां सुनिश्चित कर दी जाएगी।

निजी कंपनी के इंजीनियर की केजीपी पर हादसे में मौत, 2 गंभीर रूप से घायल

बस निकाले में हुई दिक्कत | पंकज लांबा के अनुसार जिस स्थान पर घटना हुई वहां रात के समय अंधेरा रहता है। क्योंकि रोडलाइट तक की व्यवस्था नहीं है। नेशनल हाईवे सिक्स लेन करने के चक्कर में बल्लभगढ़ फ्लाईओवर तो बना दिया गया लेकिन कैनाल पुल की चौड़ाई नहीं बढ़ाई गई। उन्होंने कहा यह स्थान सबसे खतरनाक है। क्यांेकि यहां बल्लभगढ़ आने और फ्लाईओवर पर चढ़ने का एक ही रास्ता है। रास्ता संकरा होने के कारण हादसे का कारण बनता है।हादसे के बाद गायब हुए ड्राइवर-कंडक्टर | हादसे के बाद जिस तरह ड्राइवर और कंडक्टर बस से निकलकर चुपचाप घटना स्थल से चले गए । ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि वह नशे में थे। घटना की सूचना मिलने पर रोडवेज के अधिकारी मौके पर पहुंचे और दो क्रेन मंगाकर बस काे नहर से बाहर निकलवाया। ड्राइवर के नशे में होने के बारे में बल्लभगढ़ डिपो के स्टेशन अधीक्षक नेपाल सिंह से संपर्क करने का प्रयास किया। लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।

हरियाणा रोडवेज बस डिवाइडर से टकरा नहर में आधी लटकी, बाल-बाल बचे यात्री

गैस की मात्रा भी बताएगा यंत्र |शर्मा के अनुसार सिस्टम में कई आधुनिक प्रकार के यंत्र लगे हैं जिससे हवा में उत्पन्न होने वाली गैस के आंकड़े भी मिलते रहेंगे। उन्होंने बताया सिस्टम में शॉक यंत्र लगा है। इससे वातावरण में उपलब्ध सल्फर-डाई ऑक्साइड का स्तर, कार्बन मोनो-डाई आक्साइड, नॉक्स यंत्र से नाइट्रोजन आक्साइड, अमोनिया का स्तर पता चलेगा। इसके अलावा ओजोन तीन के स्तर की भी जांच हो सकेगी। इसके अलावा पीएम-10 यानि प्रदूषण का स्तर और पीएम 2.5 धूल के कण की मात्रा की जांच भी होगी।

पेट्रोल वाहनों के धुंए की मात्रा करेगा कैच|इसमें लगा यंत्र शहर में सिस्टम की 3 किलोमीटर की परिधि में चलने वाले पेट्रोल वाहनों से निकलने वाले धुएं की मात्रा को भी कैच करेगा। इससे यह भी पता चल सकेगा कि शहर के प्रदूषण स्तर में धुएं का कितना प्रतिशत रोल है। फरवरी अंत तक सभी चारों स्थानों पर सिस्टम लगकर तैयार हो जाएंगे। साथ ही आंकड़े भी आने शुरू हो जाएंगे। अभी पूरे शहर में केवल एक सेक्टर-16 ए में प्रदूषण मापक यंत्र लगा है। यहीं से आंकड़े सीपीसीबी और एचएसपीसीबी को मिलते हैं। कई बार यह यंत्र भी बंद कर दिया जाता है।


फ्रांस की तकनीक हो रही इस्तेमाल | शर्मा के अनुसार इस तकनीक को फ्रांस की इनवायरमेंट एसए कंपनी ने विकसित किया है। इन सिस्टम को एचएसपीसीबी के आदेश पर लगाया जा रहा है। एक सिस्टम लगाने में करीब तीन करोड़ रुपए की लागत आ रही है। सिस्टम 24 घंटे काम करता रहेगा। इसके अंदर लगे कम्प्यूटर सिस्टम के जरिए सभी डाटा एकत्र होता रहेगा और हर घंटे की रिपोर्ट सर्वर के माध्यम से दोनों एजेंसियों के पास पहुंचती रहेगी। जिन इलाकों में प्रदूषण स्तर की मात्रा अधिक होगी चंडीगढ़ और दिल्ली में बैठे अधिकारी तत्काल उस पर एक्शन लेंगे।

इन स्थानों पर लगाए जा रहे सिस्टम | हरियाणा स्टेट प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आदेश पर एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग सिस्टम फरीदाबाद के नगर निगम सभागार परिसर, सेक्टर 11 मिलन रेस्टोरेंट के पास, सेक्टर 30 पुलिस लाइन परिसर और बल्लभगढ़ में लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा गुड़गांव के ग्वाल पहाड़ी, सेक्टर 51, राजीव चौक लघु सचिवालय, मानेसर के पचगांवा में भी लगाए जा रहे हैं। इससे हरियाणा के दोनों प्रमुख शहरों के प्रदूषण स्तर की नियमित रूप से मॉनिटरिंग होती रहेगी। एक-एक मिनट का आंकड़ा सीपीसीबी और एचएसपीसीबी के पास उपलब्ध होगा।

भास्कर न्यूज | फरीदाबाद

शनिवार देर रात सूरजकुंड मेले से बल्लभगढ़ डिपो जा रही हरियाणा रोडवेज की बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराकर गुड़गांव नहर में लटक गई। गनीमत रही कि कोई यात्री हताहत नहीं हुआ। देखते ही देखते मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। रोडवेज के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और क्रेन मंगाकर बड़ी मुश्किल से बस को बाहर निकाला। जानकारी के मुताबिक ये हादसा शनिवार रात करीब 10 बजे उस समय हुआ जब बस सूरजकुंड मेले से बल्लभगढ़ डिपो जा रही थी।

बस जैसे ही बल्लभगढ़ में गुड ईयर कंपनी के पास गुड़गांव नहर के पास पहुंची तो अचानक संतुलन बिगड़ गया और वह डिवाइडर से टकराकर नहर में लटक गई। गनीमत रही कि बस का पिछला हिस्सा डिवाइडर में ही फंस गया। बस में उस समय करीब 10-12 यात्री थे। हादसा होते ही चीख पुकार मच गई। आसपास के लोग मौके पर पहुंचकर बस का पिछला गेट खोलकर यात्रियों को निकाला। मौके पर मौजूद रोड सेफ्टी आर्गनाइजेशन के सदस्य पंकज लांबा के अनुसार बस का अगला हिस्सा पूरी तरह से पानी में डूब गया था। ड्राइवर और कंडक्टर पीछे के गेट से निकलकर तुरंत वहां से चले गए थे।

_photocaption_ओमेक्स स्पा सोसाइटी में रहने वाले लोग मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए।*photocaption*


 **

सिर्फ वही नकारात्मक खबर जो
अापको जानना जरूरी है।

फरीदाबाद | शनिवार देर रात कुंडली-गाजियाबाद-पलवल (केजीपी) एक्सप्रेस-वे पर एक कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराने से एक निजी कंपनी में कार्यरत इंजीनियर की मौत हो गई। जबकि कार सवार दो अन्य लोग घायल हो गए। उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतक की पहचान आल्हापुर गांव निवासी देवेंद्र (30) के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक देवेंद्र सीकरी गांव स्थित एक कंपनी में इंजीनियर थे। घटना रात करीब 12 बजे की है। घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है।

_photocaption_बल्लभगढ़ फ्लाईओवर के पास गुड़गांव नहर में लटकी रोडवेज की बस।*photocaption*

बस का पिछला हिस्सा डिवाइडर में फंसने के कारण टला बड़ा हादसा

भोला पांडेय | फरीदाबाद

प्रदूषण को लेकर देश और दुनिया में बदनाम शहर की आबोहवा की अब पूरे साल जांच होगी। इसके लिए शहर की चारों दिशाओं में अलग-अलग स्थानों पर 4 एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग सिस्टम(एक्यूएमएस) लगाए जा रहे हैं। इनसे शहर का प्रदूषण, हवा की गति, गर्मी के दिनों में उमस और बारिश के आंकड़ों की जानकारी मिलेगी। ये सिस्टम प्रतिदिन की रिपोर्ट सर्वर के माध्यम से केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) और हरियाणा स्टेट प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (एचएसपीसीबी) के पास सीधे पहुंचेगी। इसके बाद प्रदूषण नियंत्रण के लिए किए जाने वाले उपायों के बारे में नगर निगम, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और जिला प्रशासन को निर्देश जारी होंगे। इस पूरे सिस्टम को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) समय-समय पर जांच करेगा। यंत्रों के माध्यम से शहर में पेट्रोल से चलने वाले वाहनों से निकलने वाले प्रदूषण स्तर को भी मापा जा सकेगा। सिस्टम में लगे यंत्र के माध्यम से हवा की दिशा में तीन किलोमीटर दायरे के प्रदूषण स्तर को मापने का काम करेगा।

सीपीसीबी व चएसपीसीबी के पास पहुंचेगी रिपोर्ट

एनजीटी के आदेश पर शहर में प्रदूषण नियंत्रण के लिए किए जा रहे हैं इंतजाम

चालकों की मनमानी के चलते दैनिक यात्रियों को होती है परेशानी

मुंबई से मथुरा आ रहे थे

दंपति, ट्रेन से नहीं उतर पाए थे प|ी और बेटा

फरीदाबाद, सोमवार 10 फरवरी, 2020**

Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
X
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data
Faridabad News - air quality monitoring system will tell the city pollution wind speed and rain data

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना