गरीबों के लिए कारगर साबित हो रही आयुष्मान योजना

Faridabad News - केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत हेल्थ स्कीम पलवल जिले में गरीब लोगों के लिए कारगर साबित हो रही है। हांलाकि योजना के...

Dec 07, 2019, 07:16 AM IST
केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत हेल्थ स्कीम पलवल जिले में गरीब लोगों के लिए कारगर साबित हो रही है। हांलाकि योजना के अंर्तगत जिले में लगभग 2 लाख 71 हजार लोगों का गोल्डन कार्ड बनने है, जबकि अभी तक मात्र साढे चवालीस हजार कार्ड ही बनाए गए है।

आयुष्मान भारत योजना के बारे में जानकारी देते हुए डिप्टी सीएमओ व परियोजना अधिकारी डॉ. रेखा ने बताया कि वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार जो सर्वे किया गया था उसमें पलवल जिले से 58 हजार के आसपास लोगों को इस सूची में शामिल किया गया था। जिसके अंर्तगत 2 लाख 71 हजार लोगों को गोल्डन कार्ड बनाए जाने है। उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल पलवल में गोल्डन कार्ड बनाने के लिए एक विंडों बनाई गई है। इसके अलावा सीएचसी पर भी गोल्डन कार्ड बनाए जा रहेे है। वहीं आयुष्मान योजना के अंर्तगत पैनल में शामिल किए गए अस्पतालों में भी गोल्डन कार्ड बनाए जा रहे है। इसके अतिरिक्त कॉमन सर्विस सेंटर व अटल सेवा केंद्रों पर भी गोल्डन कार्ड बनाने की सुविधा प्रदान की जा रही है। उन्होंने बताया कि गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए मात्र 30 रूपए का खर्च आता है। कई कॉमन सर्विस सेंटरों पर अधिक रूपए लेने की शिकायत भी आई थी, जिसके बारे में उन्हें दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए है।

क्या कहते है आयुष्मान योजना के लाभार्थी

आयुष्मान योजना के लाभार्थी कैलाश ने बताया कि सडक़ दुर्घटना में उनके दोनों पैरों में गंभीर चोटें आई थी। उनके पास गोल्डन कार्ड था। गोल्डन कार्ड से पलवल जिला अस्पताल में अपने एक पैर का ऑप्रेशन तो करा लिया है, जबकि दूसरे पैर का ऑप्रेशन भी शीघ्र होने वाला है। उन्होंने बताया कि प्राईवेट अस्पतालों में इलाज के नाम पर लाखों रूपए खर्च हो जाते है, लेकिन गोल्डन कार्ड से उनका ऑप्रेशन फ्री में हो गया है।

आयुष्मान योजना के लाभार्थी भीम सिहं ने बताया कि उनका गोल्डन कार्ड बना हुआ है। गोल्डन कार्ड से उन्होंने जिला नागरिक अस्पताल पलवल में अपने एक पैर से रॉड निकलवाई है। उनका इलाज ठीक प्रकार से किया गया है। इलाज के दौरान उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि आयुष्मान योजना सरकार की अच्छी योजना है जो गरीबों के लिए फायदेमंद साबित हो रही है।

क्या कहते है जिला चिकित्सा अधिकारी

सीएमओ डॉ. प्रदीप शर्मा ने बताया कि गरीबी उन्मूलन के लिए सरकार ने आयुष्मान भारत योजना शुरू की है। योजना के अंर्तगत प्रत्येक गरीब परिवार को पांच लाख रूपए प्रति वर्ष मेडीकल बीमा दिया जाएगा। योजना के तहत पलवल जिले में 6 प्राईवेट अस्पतालों को भी पैनल में शामिल किया गया है। गोल्डन कार्ड प्राप्त व्यक्ति निजी अस्पताल में भी अपना मुफ्त इलाज करवा सकता है। यह गोल्डन कार्ड जिला अस्पताल पलवल, कॉमन सर्विस सेंटर से भी बनवाया जा सकता है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना