• Hindi News
  • Harayana
  • Kurukshetra
  • Kurukshetra News haryana news 52 years ago remember the art of the modern kurukshetra gulzari lal nanda who laid the foundation of kdb

52 वर्ष पहले केडीबी की नींव रखने वाले आधुनिक कुरुक्षेत्र के शिल्पी गुलजारी लाल नंदा को किया याद

Kurukshetra News - कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा ने कहा कि भारत र| गुलजारी लाल नंदा के सपनों को साकार करने के...

Jan 16, 2020, 08:10 AM IST
Kurukshetra News - haryana news 52 years ago remember the art of the modern kurukshetra gulzari lal nanda who laid the foundation of kdb
कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा ने कहा कि भारत र| गुलजारी लाल नंदा के सपनों को साकार करने के लिए सरकार कुरुक्षेत्र और 48 कोस के तीर्थो के विकास पर लगभग 300 करोड़ रुपए की राशि खर्च कर रही है। इसमें से सरकार के प्रयासों से गीता स्थली ज्योतिसर में ही 100 करोड़ रुपए खर्च होंगे। वे बुधवार को स्व. नंदा की पुण्यतिथि पर ब्रहमसरोवर पर स्थित सदाचार स्थल पर कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड व कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के तत्वावधान में आयोजित श्रद्धांजलि समारोह में बोल रहे थे।

इससे पहले केडीबी मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा, सूचना, सीईओ केडीबी गगनदीप सिंह, नंदा सदाचार स्थल के इंचार्ज प्रो. सुरेन्द्र मोहन मिश्रा समेत अन्य अतिथियों ने भारत र| स्व. गुलजारी लाल नंदा की समाधि पर पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी । यूनिवर्सिटी संगीत विभाग के विद्यार्थी राहुल, ललित, दीपक, रवि प्रकाश, इल्यास रंगा आदि कलाकारों ने भजन प्रस्तुत कर श्रद्धांजलि समारोह को भक्ति रस से भर दिया। छाबड़ा ने कहा कि सदाचार स्थल नंदा के विचारों को आगे बढ़ाने का काम कर रहा है। यहां पर नंदा के विचारों पर चिंतन करने का काम किया जा रहा है। सदाचार स्थल के इंचार्ज प्रो. सुरेन्द्र मोहन मिश्रा ने मेहमानों का स्वागत किया। बताया कि भारत र| गुलजारी लाल नंदा के योगदान को लेकर 15 जनवरी से 30 जनवरी तक सदाचार स्थल पर प्रतियोगिताएं चलेंगी। मौके पर केडीबी सदस्य राजेन्द्र परासर, खरैती लाल सिंगला, आरएल बंसल, श्रीप्रकाश मिश्रा, आरडी गोयल, श्रीकृष्ण संग्रहालय के क्यूरेटर राजेन्द्र राणा, कृष्ण धमीजा, विनोद गर्ग, डा. अशोक शर्मा , अमर सिंह, कल्याण चंद डोगरा, अश्वनी कुमार, रवि कुमार, कुलदीप, अशोक बुटानी, कर्ण सिंह, विवेक कुमार, बलवान, मनीष कुमार, नरेश सैनी काकौत आदि मौजूद थे।

सीएम खुद रख रहे प्रोजेक्ट्स पर नजर : अब मुख्यमंत्री मनोहर लाल पिछले पांच सालों से कुरुक्षेत्र और 48 कोस के तीर्थो को विकसित कर रहे हंै। मुख्यमंत्री ने स्वयं 48 कोस के 50 तीर्थों का भ्रमण किया । प्रत्येक तीर्थ पर 50 लाख रुपए से लेकर साढ़े तीन करोड़ रुपए की राशि तीर्थो के विकास के लिए दी। तीर्थों के लिए लगभग 100 करोड़ रुपए की राशि के प्रस्ताव मंजूर हुए हैं । गीता स्थली ज्योतिसर 100 करोड़ से काम चल रहा है।

52 साल पहले रखी थी केडीबी की नींव : नंदाजी को आधुनिक कुरुक्षेत्र के जनक के रूप में जाना जाता है। उन्हीं के प्रयासों से ही वर्ष 1968 में कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड की स्थापना हुई। इस बोर्ड के गठन के बाद ही ब्रहमसरोवर और आसपास के तीर्थों के विकास की नींव रखी। भारत र| नंदा के पद चिन्हों पर चलते हुए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ पर्यटन मंत्री जगमोहन ने कुरुक्षेत्र के पुराने भवनों को संजोने का काम किया ।

22 साल कुरुक्षेत्र के लिए किया काम : प्रोफेसर सुचि स्मिता ने कहा कि धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के निर्माण, विकास और प्रगति की राह पर आगे ले जाने में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. गुलजारी लाल नंदा का सबसे ज्यादा योगदान रहा है। नंदाजी ने 22 साल कुरुक्षेत्र के विकास के लिए कार्य किया था। समाज सेवी विजय सभ्रवाल ने कहा कि भारत र| स्व. नंदा के मार्ग पर चलकर कुरुक्षेत्र के विकास में योगदान देना ही सही मायनों में सच्ची श्रद्धांजलि होगी। केडीबी के सदस्य राजेन्द्र परासर और र| लाल बंसन ने कहा कि नंदा जी भगवान श्रीकृष्ण के उपासक थे।

कुरुक्षेत्र | गुलजारी लाल नंदा केंद्र में आयोजित संगोष्ठी में संबोधित करते डॉ. सुरेंद्र मोहन मिश्र।

X
Kurukshetra News - haryana news 52 years ago remember the art of the modern kurukshetra gulzari lal nanda who laid the foundation of kdb
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना