• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Yamunanagar
  • Yamunanagar News haryana news 8 counseling rounds for admission in government iti seats are still vacant youth are not taking admission in private iti

सरकारी आईटीआई में दाखिले को हुए 8 काउंसलिंग राउंड, फिर भी खाली हैं सीटें, निजी आईटीआई में भी दाखिला नहीं ले रहे युवा

Yamunanagar News - जिले की सरकारी आईटीआई में पहली बार दाखिले के लिए 8 राउंड हुए। बावजूद इसके, कई आईटीआई में सीटें रिक्त रह गईं।...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:56 AM IST
Yamunanagar News - haryana news 8 counseling rounds for admission in government iti seats are still vacant youth are not taking admission in private iti
जिले की सरकारी आईटीआई में पहली बार दाखिले के लिए 8 राउंड हुए। बावजूद इसके, कई आईटीआई में सीटें रिक्त रह गईं। शुक्रवार को खत्म हुई आखिरी 8वें राउंड की अवधि के बाद भी यमुनानगर में 10, नाचरौन में 7, छछरौली कोएड में 20, सरस्वतीनगर में 8 सीटें रिक्त हैं। इससे भी खराब हालात कई निजी आईटीआई में हैं, जहां दाखिले न मिलने से प्रबंधन से लेकर स्टाफ परेशान हैं। जानकारों की मानें तो ज्यादातर युवाओं का प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग पर फोकस है, जिससे यह स्थिति बनी है। बता दें कि जिले में 6 सरकारी व 13 निजी आईटीआई हैं। सभी की विभिन्न ट्रेड में दाखिले के लिए 17 जुलाई से 9 अगस्त तक तीन राउंड कराए। इसके बाद शेड्यूल में बची सीटों को भरने के लिए संस्थान स्तर पर सिर्फ चौथा राउंड होना था लेकिन इसके बाद भी मेरिट आधार पर दाखिले के लिए संस्थान पर चार राउंड कराने पड़े, क्योंकि कुछ सीटें रिक्त रह गई वहीं, राउंड दर राउंड दाखिला लेने के बाद ज्यादातर विद्यार्थियों ने ट्रेड जाॅइन नहीं की। ऐसे में उनके नाम काटने से भी सीटें रिक्त होती गईं। शुक्रवार को खत्म 8वें राउंड में यमुनानगर की सरकारी आईटीआई में 39 में से 29 सीटें भर पाईं जबकि 10 सीटें रिक्त रह गईं। इसमें फाउंड्रीमैन टेक्नीशियन की 1, सरफेस ऑरनामेंटेशन टेक्निक्स (एम्ब्रॉयड्री) की 4, जियो इंफारमेटिक्स असिस्टेंट की 4 व फाइनेंस एक्जीक्यूटिव की 1 ट्रेड शामिल हैं। इसी तरह नाचरौन आईटीआई में सिविंग टेक्नोलॉजी की 10 में से 3 सीटें भरी और 7 खाली रह गईं। छछरौली कोएड में कंप्यूटर एडिड एंब्रॉयड्री एंड डिजाइनिंग की 20 सीटें रिक्त हैं। सरस्वतीनगर में फ्रीज व एसी मैकेनिक की 2 व सिविंग टेक्नोलॉजी की 6 सीटें खाली हैं।



जानकारों की मानें तो युवाओं का टेक्निकल एजुकेशन से ज्यादा सरकारी नौकरी पाने के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं पर ज्यादा फोकस है। ज्यादातर कोचिंग लेकर एचएसएससी जैसी परीक्षाओं की तैयारी में लगे हैं। इसका अंदाजा कोचिंग सेंटरों के साथ वहां बढ़ी युवाओं की संख्या से लगाया जा सकता है। उधर, बार-बार प्रचार के बावजूद सरकारी आईटीआई में टेक्निकल व हाथ के हुनर सीखने की ट्रेड में पूरी सीटों पर दाखिले नहीं हो पाए। जबकि बीते वर्षों में 1-2 राउंड में ज्यादातर ट्रेड में सीटें फुल हो गई थीं। दाखिले के मामले में सरकारी से ज्यादा बुरे हालात निजी आईटीआई में हैं।

X
Yamunanagar News - haryana news 8 counseling rounds for admission in government iti seats are still vacant youth are not taking admission in private iti
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना