पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पैचवर्क के बाद ऐसी है गन्नौर की सड़क

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खस्ताहाल सड़काें से लाेगाें काे झेलनी पड़ रही परेशानी

गन्नौर में नई सरकार के गठन के बाद भी सड़कों पर गहरे गड्ढों से आमजन को राहत नहीं मिली है। इन दिनों बारिश की वजह से जगह-जगह से उधड़ी पड़ी है। जीटी रोड से नमस्ते चाैक और सोनीपत की तरफ जाने वाली सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे हो रहे हैं। वाहनों के गुजरने से हर समय हादसों का खतरा बना रहा है। उसके बाद भी जिम्मेदार जन प्रतिनिधि और अधिकारियों का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। जबकि इस सड़क के लगते प्रशासन के कार्यालय होने के साथ ही जनप्रतिनिधि की कोठी बनी हैं।

शहर की सबसे व्यस्तम सड़क हाईवे से नमस्ते चाैक तक करीब डेढ़ किलोमीटर के दायरे में गड्ढे ही गड्ढे बने हैं। इसके अलावा गन्नौर गांव से बड़ी व सोनीपत की तरफ जाने वाली सड़क की हालात भी बदतर है। सड़क पर 2 फीट तक गहरे गड्ढे हो रहे है। पीडब्ल्यूडी विभाग ने हजारों रुपए खर्च कर टूटी सड़क पर पेंचवर्क भी किया, लेकिन ज्यादा समय तक टिक नहीं पाया है। बरसात में सड़क पर बने गड्ढों में पानी भर जाने से हादसा होने का अंदेशा बना रहता है। संबंधित विभाग के अधिकारियों का कहना है कि सड़क के गड्ढे भरे गए है, ताकि नई सड़क बनने तक वाहन चालकों को परेशानी न हो।

समझ नहीं आता से कहा से निकले ः संदीप

व्यापार मंडल के उपप्रधान संदीप सिंघल ने बताया कि शहर के के चारों तरफ सड़क पर गड्ढे ही गड्ढे हो रहे है, समझ नहीं आता कि शहर से बाहर भीतर किस रास्ते से निकले। टूटी सड़क से हादसों का डर तो रहता है साथ ही गाड़ियों को भी नुकसान हो रहा है।


जल्द होगा सड़क का नये सिरे से निर्माण

पीडब्ल्यूडी के जेई नितिन का कहना है कि शहर को जोड़ने वाली सड़क लंबे समय से बनी है। विभाग ने इन गड्ढों को भरने का काम किया है, अब नई सड़क बनाने को लेकर प्रोसेस चला हुआ है। बताया कि पहले ये सड़क मार्केट बोर्ड के अधीन थी अब कुछ माह से उनके विभाग में डायवर्ट हुई हैं।

पीडब्ल्यूडी ने पेंचवर्क किया, लेकिन कामयाब नहीं हुआ

गन्नौर . जीटी रोड से गन्नौर स्टेशन की तरफ जाने वाली सड़की की खस्ताहाल जिससे वाहन चालक परेशाल।
खबरें और भी हैं...