• Hindi News
  • Harayana
  • Sirsa
  • Kalanwali News haryana news campaign to make kalanwali intoxicated dsp explained to families of drunk people

कालांवाली को नशामुक्त बनाने की मुहिम शुरू, नशे में जकड़े लोगों के परिजनों को डीएसपी ने समझाया

Sirsa News - जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार कालांवाली के डीएसपी नर सिंह की ओर से नशे की बंदरगाह मानी जाने वाले पंजाब सीमा...

Jan 16, 2020, 08:01 AM IST
Kalanwali News - haryana news campaign to make kalanwali intoxicated dsp explained to families of drunk people
जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार कालांवाली के डीएसपी नर सिंह की ओर से नशे की बंदरगाह मानी जाने वाले पंजाब सीमा पर स्थित कालांवाली को नशामुक्त बनाने के लिए एक नई पहल शुरू की गई है। पुलिस प्रशासन की ओर से शुरू की गई नई पहल के तहत डीएसपी नर सिंह ने थाना परिसर में पिछले एक साल में नशे के दर्ज मुकद्मे के आरोपियों और जेल में सजा काट रहे नशा तस्करों के परिजनों की एक बैठक लेकर नशों के कुप्रभावों के प्रति जागरूक किया और उनसे अपने गांव व शहर को नशों से मुक्ति दिलाने के लिए सहयोग की अपील की। इस दौरान कालांवाली थाना प्रभारी वजीर सिंह, सिंघपुरा चौकी प्रभारी पूनम कुमार, मुंशी महेश कुमार, गुरदीप सिंह मौजूद थे। बैठक दौरान डीएसपी नर सिंह ने बताया कि कालांवाली क्षेत्र को नशामुक्त बनाने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार एक नई पहल शुरू की गई है। इस पहल के तहत पिछले एक साल में कालांवाली थाने में लगभग 110 व्यक्तियों पर दर्ज किए गए नशों के कुल 76 मामलों के सभी नशा तस्करों व जेल में बंद नशा तस्करों के परिवारजनों की एक बैठक लेकर नशों के प्रति जागरूक किया गया। बैठक में डीएसपी नर सिंह ने बताया कि नशा एक सामाजिक बुराई है। जिससे रोजाना कई घर बर्बाद हो रहे है। नशा करने वाले व्यक्ति को समाज व परिवार में कोई सम्मान नहीं मिलता। हर दिन नशे की दलदल में जा रहे नौजवानों को नशे से दूर रखने में माता-पिता व समाज का पूरा योगदान होता है। इसलिए हमारा एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते अपने बच्चों व समाज के लोगों को नशों से निकालना फर्ज बनता है। वहीं उन्होंने नशे की संगत में पड़े लोगों को नशे की दलदल से बाहर आकर अन्य लोगों को भी इस दलदल से निकालने में सहयोग की अपील की। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हर गांव में दस सदस्यीय एक कमेटी बनाई जाएगी। इस कमेटी में नशा तस्करी का काम छोड़कर पुलिस का सहयोग करने वाले दो सदस्यों को भी शामिल किया जाएगा। ताकि वे नशा बेचने वालों की सही जानकारी दे सके और पुलिस की ओर से नशा तस्करों पर सख्त कार्रवाई की जा सके।

नशा तस्करों के परिजनों ने बताया दर्द

नशा तस्करी में सजा काट रहे व्यक्तियों के परिजनों ने अपना दुखड़ा रोते हुए कहा कि वे नशों के कारण बहुत दुखी है। अपने परिवार का मात्र सहारा होने वाला बेटा नशों में पड़कर खुद को तो बर्बाद कर ही रहा है, साथ में अपने परिवार को भी आर्थिक तंगी व कलह के कारण खत्म कर रहा है। उनके मुहल्ले, वार्ड और गांव में जगह-जगह नशा बिक रहा है। वे अपने बच्चों को नशों की दलदल से निकालना चाहते है। लेकिन नशा तस्कर उनको नशों की दलदल से निकलने की ही दे रहे। पुलिस नशा तस्करों पर सख्त कार्रवाई करे और नौजवानों की जिंदगियां बर्बाद होने से बचाये। वहीं नशा तस्करी में सजा काट चुके व सजा काट रहे आरोपियों ने कहा कि वे गलत संगत के कारण इस दलदल में चले गए थे।

X
Kalanwali News - haryana news campaign to make kalanwali intoxicated dsp explained to families of drunk people
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना