कैंटर से ले जा रही खैर की लकड़ी व इसे स्कार्ट कर रहे स्काॅर्पियो सवार काबू

Yamunanagar News - वन विभाग की टीम ने गश्त के दौरान जंगल से चोरी की गई खैर की लकड़ी से भरे टाटा 407 कैंटर को पकड़ा है। इस कैंटर को सुरक्षा...

Dec 04, 2019, 08:11 AM IST
वन विभाग की टीम ने गश्त के दौरान जंगल से चोरी की गई खैर की लकड़ी से भरे टाटा 407 कैंटर को पकड़ा है। इस कैंटर को सुरक्षा देने के लिए आगे चल रही काले रंग की स्कार्पियो गाड़ी व गाड़ी में सवार तीन लोगों को भी काबू किया गया है। जांच के बाद कैंटर से 83 पीस खैर की लकड़ी के बरामद किए गए हैं। कैंटर में सवार कुछ खैर तस्कर मौके से भाग निकले। तस्करों की पहचान कर ली गई है। वन विभाग द्वारा दस लोगों के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम व भारतीय वन एवं वन्य प्राणी सुरक्षा अधिनियम के तहत केस दर्ज कराया गया है।

रेंज अधिकारी सुशील कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह स्वयं तथा रेंज अधिकारी जगाधरी संजीव कुमार, वन दरोगा संजीव, वन दरोगा वेद व्यास, हरीश धीमान वन रक्षक, योगेश वन रक्षक, विकास वन रक्षक, प्रदीप वन रक्षक तथा महेंद्रा कैंटर के ड्राइवर एवं वनरक्षक अनुज कुमार को साथ लेकर जंगलों की गश्त पर निकले। एनएच पांवटा के शेरपुर के समीप उन्हें संदेश मिला कि कुछ लकड़ी तस्कर कैंटर के जरिए चोरी की लकड़ी लेकर मार्केट जाने वाले हैं। इस पर लेदी के समीप बोली नदी पुल पर नाकेबंदी कर दी गई। कुछ देर बाद एक काले रंग की स्कार्पियो आती दिखी। कार को रुकने का इशारा किया, लेकिन वह भागने लगे। संजीव ने बताया कि सभी ने मिलकर कार सवार लोगों को पकड़ लिया। पकड़े गए लकड़ी तस्करों ने पूछताछ में अपना नाम नगली निवासी रमजान, जैतपुर निवासी नूर मोहम्मद व जाटोंवाला निवासी मोमिन बताया है। वन विभाग की टीम ने कैंटर में सवार कुरबान, असरफ, तारीफ, फुरकान व महमूद जाटोंवाला तथा असलम बड़ी टिब्बी के तौर पर की है। कैंटर से जंगल से चोरी की गई खैर की लकड़ी के 83 टुकड़े बरामद किए गए हैं।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना