2018 से शुरू हुआ ठगी का खेल, दलाल कार से ले जाता था कस्टमर को नोएडा

Sonipat News - नोएडा में किराये पर बाइक लगाने पर हर महीने 9765 बैंक खाते में डलवाने का झांसा देकर सोनीपत के लोगों से लाखों रुपए ऐंठने...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 09:06 AM IST
Sonipat News - haryana news cheating game started from 2018 broker used to take customer from car to noida
नोएडा में किराये पर बाइक लगाने पर हर महीने 9765 बैंक खाते में डलवाने का झांसा देकर सोनीपत के लोगों से लाखों रुपए ऐंठने का खेल वर्ष 2018 में शुरू हो गया था। गिरोह ने सोनीपत में अपना नेटवर्क मजबूत करने के लिए सोनीपत के अंदर अपना दलाल तैयार किया। इसे मोटा कमिशन देने का लालच देकर कस्टमर लाने को कहा जाता था। अच्छे कमिशन के लालच में आकर दलाल पहले कस्टमर तलाशता था और फिर अपनी वैगनार कार में बैठाकर इन्हें नोएडा में गिरोह के ठिकाने पर ले जाता था। नोएडा में नए ग्राहकों को आरोपी प्रदीप दूबे डील करता था।

नए ग्राहकों की खूब आवभगत की जाती थी। इसके बाद कम लागत में ज्यादा रकम कमाने का प्रलोभन देकर बाइक बाेट कंपनी में पैसा लगाने को कहा जाता था। सोनीपत में इस कंपनी द्वारा ठगे गए लोग अब सामने आ रहे हैं। अब तक सात लोगों ने आवाज उठाई है। मजिस्ट्रेट के आदेश पर मुख्य आरोपी संजय भाटी, प्रदीप दूबे निवासी नोएडा सहित तीन के खिलाफ धोखाधड़ी व अमानत में ख्यानत का केस दर्ज कर लिया है।

लाखों के एडवांस चेक तो दिए, जांच की तो खाता बंद मिला

शिकायतकर्ता : 2018 में आरोपियों के संपर्क में आया

शिकायतकर्ता सुनील ने बताया कि वह वर्ष 2018 में आरोपियों के संपर्क में आया। कोर्ट के पास उसे दलाल मिला था, जिसने उसे बाइक बोट कंपनी के बारे में बताया। जब तय शर्त के अनुसार हर महीने नौ हजार रुपए नहीं मिले तो उन्होंने कंपनी के आला अधिकारियों आरोपी संजय भाटी, प्रदीप दूबे से संपर्क किया। इन दोनों को पेमेंट देने को कहा। आरोपियों ने उन्हें गुमराह करने के लिए 11 दिसंबर 2019 का एडवांस चेक दे दिया। यह करीब तीन लाख का है। जब वह चेक से संबंधित जानकारी लेने के लिए बैंक में गए तो उक्त बैंक खाता बंद मिला।

पीड़ित की जुबानी : काम के लिए ‌Rs.62 हजार 3 प्रतिशत ब्याज पर लिए

न्याय के लिए कोर्ट की शरण में जाना पड़ा



गिरोह ने कस्टमर का विश्वास जीतने के लिए हजारों बाइक की साइट दिखाई थी नोएडा में

पूर्व एसएचओ जसवंत व उनके बेटे सुनील निवासी साबुन दरवाजा ने बताया कि यह गिरोह कस्टमर मिलते ही उसे लुभाने के लिए हजारों बाइकों की साइट नोएडा में दिखाता था। ग्राहक को बताया जाता था कि यह सब बाइक किराये पर चलती हैं। इन सबको का पैसा ग्राहकों के खाते में हर महीने जा रहा है। आरोपी कहते थे कि एक साल में डबल मुनाफा होगा। जरूरतमंद लोग इनके झांसे में आते गए और इन्होंने उन्हें अपनी ठगी का शिकार बनाया। पूर्व एसएचओ ने कहा कि सोनीपत में जो दलाल काम करता है उसके पास हर महीने काफी कमिशन यह गिरोह भेजता रहा है। प्रति बाइक के 62100 रुपए दलाल ही कस्टमर से लेता था।

पहले दिन पुलिस की जांच रही सुस्त, नहीं हुई हरकत

मामले में पहले दिन पुलिस की कार्रवाई सुस्त रही। पुलिस न तो दलाल तक पहुंच पाई और न ही मामले से जुड़े दस्तावेज ही बरामद किए। जबकि मजिस्ट्रेट के आदेश पर इस मामले की एफआईआर दर्ज हुई है। पीड़ितों ने कहा कि पुलिस को मामले से जुड़े दस्तावेज बरामद इकट्‌ठा करने में देर नहीं करनी चाहिए।

दलालों के जरिये बढ़ाया नेटवर्क


Sonipat News - haryana news cheating game started from 2018 broker used to take customer from car to noida
X
Sonipat News - haryana news cheating game started from 2018 broker used to take customer from car to noida
Sonipat News - haryana news cheating game started from 2018 broker used to take customer from car to noida
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना