पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Karnal News Haryana News City Has 6 Black Spot Points On Highway Nhai Not Serious Even After 343 Deaths

सिटी में हाईवे पर 6 ब्लैक स्पॉट पॉइंट जानलेवा, 343 मौतों के बाद भी एनएचएआई गंभीर नहीं

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

हाईवे पर करनाल की परिधि 6 पॉइंट ब्लैक स्पॉट घोषित किए गए हैं। इनमें से तीन पॉइंट ऐसे हैं, जहां 6 लेन का हाईवे सिकुड़ कर 4 लेन का हो रहा है। ब्लैक स्पॉट पर भी गहरे गड्ढे बन चुके हैं। हाईवे पर पानी जमा है। स्पीड में गाड़ी कंट्रोल नहीं होती और सीधे डिवाइडर से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाती है।

रोड सेफ्टी की मीटिंग में खामियां उजागर होती हैं। अधिकारी एफआईआर की धमकी दे चुके हैं, लेकिन सोमा कंपनी हो या नेशनल हाईवे अथॉरिटी किसी ने काम नहीं किया। इसका खामियाजा वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा है। नीलोखेड़ी से करनाल और घरौंडा तक हाईवे पर वर्ष 2016 से 2019 तक हाईवे पर 343 लोगों की मौत, 204 घायल हुए हैं। इसके बावजूद हाईवे पर सुधार की तरफ कोई कार्य गति पर नहीं है।

समाजसेवी राजीव कुमार ने इसकी शिकायत केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को की है। प्रशासन ने नेशनल हाईवे अथॉरिटी को सेफ्टी पॉइंट के हिसाब से उनको वर्किंग के लिए 20 जनवरी को निर्देश दिए, लेकिन अब तक किसी भी पॉइंट पर कार्य नहीं हुआ, जो हादसों को न्यौता दे रहे हैं।

खामियों को दूर करवाने के लिए सख्ती बरतेंगे

ब्लैक स्पॉट पर संकेत बोर्ड, जेब्रा क्रॉसिंग सहित अन्य सेफ्टी पॉइंट करने के लिए कहा गया है। कुछ पॉइंटों पर कार्य हुआ है। यदि समय रहते सभी जगह कार्य नहीं किया तो उनसे स्पष्टीकरण मांगेंगे और कार्रवाई करेंगे। हाईवे की खामियों को दूर करवाने के लिए सख्ताई बरतेंगे। दुर्घटनाएं रोकना मुख्य उद्देश्य है।
अनीश यादव, एडीसी, करनाल।

ब्लैक स्पॉट पर जिले में कहां कितने हादसे

{पक्का पुल पर 127 दुर्घटनाओं में 26 की मौत, 19 घायल।

{अर्पणा अस्पताल के नजदीक 77 हादसों में 18 की मौत, 9 घायल।

{बल्डी बाईपास पर 114 हादसों में 23 की मौत, 19 घायल।

{कर्णलेक ओवरब्रिज पर 181 हादसों में 40 की मौत, 23 घायल।

{कंबोपुरा पर 91 हादसों में 18 की मौत, 14 घायल।

{नमस्ते चौक करनाल पर 96 हादसों में 22 की मौत, 13 घायल।

इन तीन पॉइंट की केंद्रीय मंत्री गडकरी को शिकायत


{कर्ण लेक पुल सिकुड़ कर 6 लेन से 4 लेन कर दिया।

{दिल्ली की तरफ मधुबन फ्लाइओवर उतरते ही नहर से पहले 6 लेन सिकुड़ कर 4 लेन हो गया।

{करनाल की तरफ मधुबन फ्लाइओवर ढलान अंत में 6 लेन सिकुड़कर 4 लेन हो जाता है।

करनाल. हाईवे स्थित कर्ण लेक के नजदीक फ्लाई ओवर के नीचे गड्ढों में जमा बारिश का पानी।
खबरें और भी हैं...