बर्खास्त होने के बाद भी रजिस्टरी तस्दीक करता रहा नंबरदार

Bhiwani News - नंबरदारी के पद से बर्खास्त करने के बाद भी जमीन रजिस्टरी बतौर नम्बरदार तस्दीक करने के मामले में पुलिस ने आरोपी के...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:37 AM IST
Bhiwani News - haryana news even after being sacked the registrar continued to confirm the number
नंबरदारी के पद से बर्खास्त करने के बाद भी जमीन रजिस्टरी बतौर नम्बरदार तस्दीक करने के मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ उप तहसीलदार की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को भेज पत्र में उप तहसीलदार भिवानी ने बताया कि सिटी स्टेशन स्थित सेशन कॉलोनी निवासी नारायण सिंह को कलेक्टर के आदेश पर 26 जून 1999 को नंबरदार बनाया गया था। कलेक्टर भिवानी के आदेश के विरूद्ध नया बाजार गुजरो की ढाणी निवासी बीर सिंह ने वित्तायुक्त हरियाणा राजस्व विभाग के न्यायालय में रिवीजन पिटीशन दायर की थी। उस पर एफसीआर ने नारायण सिंह नंबरदार को 22 दिसंबर 2010 को नंबरदारी के पद से बर्खास्त कर दिया था। एफसीआर के आदेश के विरुद्ध नारायण सिंह ने एक आरएसए 2018 में हाई कोर्ट में दायर की थी, लेकिन हाई कोर्ट ने नारायण सिंह की आरएसए सात दिसंबर 2018 को डिसमिस कर दी थी। सीएसआर ने नारायण सिंह को नंबरदारी के पद से बर्खास्त करने के बाद भी 27 जुलाई 2015, 26 अगस्त 2015 व तीन सितंबर 2015 को तीन जमीनी रजिस्ट्रियों पर नंबरदार न होते हुए भी बतौर नंबरदार तसदीक की। पत्र में बताया गया है कि इस संबंध में एक शिकायत नया बाजार निवासी बीर सिंह ने कार्यालय में दी थी। जांच करने पर पाया गया था कि नारायण सिंह ने नंबरदारी के पद पर न होते हुए भी उक्त रजिस्ट्रियां तस्दीक की है।

पुलिस ने उप तहसीलदार की शिकायत पर किया मामला दर्ज

X
Bhiwani News - haryana news even after being sacked the registrar continued to confirm the number
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना