गायत्री महायज्ञ का पूर्णाहुति के साथ समापन, 108 कन्याओं का किया पूजन

Kaithal News - श्री सनातन धर्म शिव मंदिर मेें सर्व कामना सिद्धि उपद्रव शांति हेतु चल रहे श्री गायत्री महायज्ञ का पूर्णाहुति के...

Feb 10, 2020, 08:20 AM IST
Pundri News - haryana news gayatri mahayagya concludes with poornahuti worshiped 108 girls

श्री सनातन धर्म शिव मंदिर मेें सर्व कामना सिद्धि उपद्रव शांति हेतु चल रहे श्री गायत्री महायज्ञ का पूर्णाहुति के साथ समापन हो गया। इस मौके पर 108 कन्याओं का पूजन किया गया। यज्ञ में मुख्य यजमान के रूप में समाज सेवी धर्मपाल गोलन व दूसरे यज्ञ पर डॉ. देवेंद्र सैनी ने प|ी सहित हिस्सा लिया।

पूर्णाहुति से पहले श्रद्धालुओं को प्रवचन करते हुए यज्ञ आचार्य पंडित सुरेश भारद्वाज ने प्रवचन करते हुए कहा कि माघ मास में स्नान व यज्ञ का बहुत महत्व है। पूरे मास नदियों, तालाब व तीर्थ में गंगा का ही निवास होता है और इनमें स्नान करने से गंगासागर जैसा ही पुण्य प्राप्त होता है। भारद्वाज ने यज्ञ व गायत्री महिमा का वर्णन करते हुए कहा कि संसार स्थूल व सूक्ष्म दो भागों में बंटा हुआ है। स्थूल पदार्थ वे जो आंखों से देखे जा सकते है। सूक्ष्म वो जो आंखों से नहीं दिखते हैं, लेकिन फिर भी उनका अस्तित्व मौजूद रहता है। सर्दी, गर्मी, वायु, ईश्वर व रेडियो तरंगे अदृश्य होते हुए भी दृश्य के समान मौजूद हैं। मृत्यु होने पर आत्मा शरीर से निकल जाती है, फिर भी अदृश्य रूप से मौजूद रहती है। ईश्वर की ऐसी अनेक अदृश्य शक्तियां है जिनमें ईश्वर की धन शक्ति को लक्ष्मी, बुद्धि शक्ति को सरस्वती, युद्ध शक्ति को दुर्गा, उत्पादन शक्ति को ब्रह्मा, पालन शक्ति विष्णु व संहार शक्ति शिव है। उन्हांेने कहा कि जैसे गाय सब पशुओं में गंगा सब नदियों में, तुलसी सब औषधियों में विशेष लाभदायक है, वैसे ही ईश्वर की गुप्त शक्तियों में गायत्री मनुष्य जाति के लिए सबसे अधिक उपयोगी है। गायत्री वह ज्ञानमयी अदृश्य चेतना है। जिसमें सात्विकता, शांति व आनंद का प्रधान अंश है। गायत्री को त्रिपदा कहते है। जिनमें ह्ृीं अर्थात ज्ञान, बुद्धि, विवेक, श्रीं अर्थात धन, वैभव, पद व प्रतिष्ठा, क्लीं अर्थात स्वास्थ्य, बल, पराक्रम आदि इन तीन विशेषताओं वाली त्रिगुणात्मक ईश्वरीय शक्ति ही गायत्री है। इसलिए परम कल्याण की प्राप्ति के लिए गायत्री एवं यज्ञ की शरण प्रत्येक व्यक्ति को लेनी चाहिए। इस मौके पर भंडारे का आयोजन किया गया।

पूंडरी | भंडारे में पूर्णाहुति डालते श्रद्धालु।

X
Pundri News - haryana news gayatri mahayagya concludes with poornahuti worshiped 108 girls

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना