• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Sirsa
  • Sirsa News haryana news health department team did surprise inspection found many flaws mtp license of private hospital doctor canceled

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने किया औचक निरीक्षण, मिली कई खामियां, िनजी अस्पताल की डॉक्टर का एमटीपी लाइसेंस रद्द

Sirsa News - शहर के अंबेडकर चौक स्थित ज्याणी अस्पताल की डॉक्टर को मिला गर्भपात (एमटीपी) लाइसेंस रद्द कर दिया है। जिला स्तरीय...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:50 AM IST
Sirsa News - haryana news health department team did surprise inspection found many flaws mtp license of private hospital doctor canceled
शहर के अंबेडकर चौक स्थित ज्याणी अस्पताल की डॉक्टर को मिला गर्भपात (एमटीपी) लाइसेंस रद्द कर दिया है। जिला स्तरीय कमेटी की टीम ने आैचक निरीक्षण किया था। इस दौरान जांच में कुछ संदिग्ध डोक्यूमेंट्स मिले और रिकार्ड भी व्यवस्थित तरीके से नहीं रखा था।

इस पर कार्रवाई करते हुए जिला स्तरीय कमेटी सदस्यों ने अस्पताल की डॉक्टर का लाइसेंस रद्द कर दिया। अब उक्त डॉक्टर गर्भपात नहीं कर पाएगी। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासनिक अधिकारियाें पर आधारित जिला स्तरीय कमेटी सदस्यों ने शहर के ज्याणी अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियाें ने गर्भपात वाले केसों की जांच की और रिकार्ड भी खंगाला। जांच के दौरान खुलासा हुआ कि अस्पताल प्रबंधन ने न तो रिकार्ड को व्यवस्थित तरीके से रखा था और न ही नियमाें की पालना की गई। इसके अलावा गर्भपात से संबंधित कुछ संदिग्ध डोक्यूमेंट्स भी बरामद हुए। इन डोक्यूमेंटस को टीम अपने साथ ले गई। बाद में जिला स्तरीय अधिकारियों की टीम सदस्यों की मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें इस पर विचार-विमर्श किया गया। रिकार्ड में अनियमितता मिलने पर कमेटी सदस्यों ने ज्याणी अस्पताल की संचालक डॉ. अरुणा ज्याणी काे मिला गर्भपात यानी एमटीपी लाइसेंस रद्द कर दिया। अब इस अस्पताल में गर्भपात नहीं किया जा सकेगा।

जानिए…...क्या है एमटीपी लाइसेंस अाैर कैसे होती है मॉनीटरिंग

वैसे तो गर्भपात करना गैरकानूनी है लेकिन फिर भी चिकित्सकीय स्थिति और प्रसूता के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए निर्धारित गर्भावस्था अवधि तक गर्भपात कराने की मंजूरी मिलती है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिला के कई अस्पतालों को एमटीपी के तहत गर्भपात करने का लाइसेंस जारी किया गया है। गर्भपात करने के लिए बाकायदा पूरा रिकार्ड रखना पड़ता है जिसकी समय-समय पर जांच भी करवानी होती है।

अस्पताल प्रबंधन में भी मिली थी कमियां : सिविल सर्जन


िरन्यू हुआ था, लाइसेंस कैंसिल होेने की सूचना नहीं: ज्याणी


X
Sirsa News - haryana news health department team did surprise inspection found many flaws mtp license of private hospital doctor canceled
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना