• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Jind
  • Jind News haryana news in the process of getting permission time does not go wrong so napp applied for a cleaning tender

अनुमति मिलने की प्रक्रिया में समय खराब न हो इसलिए नप ने लगाया सफाई का टेंडर

Jind News - शहर के वार्डों, मुख्य मार्गों सहित कूड़ा लिफ्टिंग को लेकर आखिरकार नगर परिषद ने टेंडर जारी कर दिया है। हालांकि नगर...

Nov 13, 2019, 07:51 AM IST
Jind News - haryana news in the process of getting permission time does not go wrong so napp applied for a cleaning tender
शहर के वार्डों, मुख्य मार्गों सहित कूड़ा लिफ्टिंग को लेकर आखिरकार नगर परिषद ने टेंडर जारी कर दिया है। हालांकि नगर परिषद को अब तक मुख्यालय से अप्रूवल नहीं मिल सकी है, लेकिन उसके बावजूद टेंडर प्रक्रिया में समय खराब न हो, इसे देखते हुए नगर परिषद प्रशासन ने अप्रूवल मिलने से पूर्व ही आॅनलाइन टेंडर कॉल कर दिया है।

आॅनलाइन टेंडर के लिए पहले एससी लेबर एंड काेअाॅपरेटिव सोसायटी को मौका दिया गया है। वह 18 नवंबर दोपहर दो बजे तक टेंडर भर सकते हैं। उसी दिन टेक्निकल बिड भी खोली जाएगी। यदि कोई एससी, लेबर एंड काेअाॅपरेटिव सोसायटी टेक्निकल नियमों पर खरा उतरती है तो मुख्यालय से अप्रूवल मिलने के बाद ही कम रेट वाली फर्म को वर्क आॅर्डर जारी कर दिया जाएगा। यदि टेक्निकल बिड में ही कोई फर्म नियमों पर खरा नहीं उतरती है तो इसके बाद दोबारा टेंडर जारी कर दिया जाएगा, जो 19 से 26 नवंबर दोपहर दो बजे तक जमा करवाया जा सकेगा। इसमें एससी, लेबर एंड काेअाॅपरेटिव सोसायटी के अलावा कोई अन्य फर्म, एजेंसी और कांट्रेक्टर भी फाॅर्म जमा करवा सकेंगे। 26 नवंबर को ही इसकी टेक्निकल बिड खोली जाएगी, लेकिन वर्क आॅर्डर मुख्यालय से अप्रूवल मिलने के बाद ही जारी किया जाएगा। हाल ही में नगर परिषद ने शहर की सफाई व लिफ्टिंग का ठेका लगभग 49 लाख रुपए प्रतिमाह का छोड़ा था, जिसमें डोर टू डोर कलेक्शन गाड़ियाें के साथ शुरू किया गया था। यह ट्रायल बेस था, जो काफी सराहा गया। नगर परिषद प्रशासन चाहता था कि इस बार शहर की सफाई व कूड़ा निस्तारण का टेंडर दो साल के लिए छोड़ा जाए। इसके लिए अधिकारियों ने अप्रूवल के लिए मुख्यालय को भी पत्र भेजा था, लेकिन मुख्यालय ने नगर परिषद प्रशासन की बात मानने से इंकार कर दिया और एक साल के लिए ही टेंडर कॉल करने की अनुमति दी, जिसके चलते नगर परिषद ने केवल एक साल के लिए ही टेंडर जारी किया है।

नगर परिषद ने हाल ही में अल्पावधि का टेंडर जारी किया हुआ है। वह भी केवल लिफ्टिंग का है। एक से डेढ़ माह के लिए यह टेंडर छोड़ा गया है ताकि मुख्यालय से अनुमति मिलने के बाद नए जारी किए गए टेंडर के अनुसार काम किया जा सके। पिछले साल भी जब शहर की सफाई का टेंडर लगा था तो आरोप-प्रत्यारोप लगे थे। एससी सोसायटी ने नगर परिषद प्रशासन पर मनमानी करने के आरोप लगाए थे और जान-बुझकर उनके आवेदन रद करने की बात कही थी। वह मामला लोकायुक्त में चल रहा है।

पहले एससी सोसायटी करेंगी आवेदन, इसके बाद जरनल कैटेगरी को मिलेगा मौका

जींद. सफीदों रोड बाईपास पर विजय नगर के मुख्य द्वार पर पड़े गंदगी के ढेर।

नए टेंडर में रखी गईं शर्तें








ठेके के लिए मुख्यालय से अप्रूवल मांगी : अरुण कुमार


X
Jind News - haryana news in the process of getting permission time does not go wrong so napp applied for a cleaning tender
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना