केयू प्रशासन ने हड़ताल में शामिल 100 शिक्षकों को दिए नोटिस

Kurukshetra News - कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में कांट्रेक्ट पर लगे शिक्षकों की ओर से सितंबर में समान काम-समान वेतन की मांग की हड़ताल...

Dec 04, 2019, 08:15 AM IST
Kurukshetra News - haryana news ku administration gave notice to 100 teachers involved in strike
कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में कांट्रेक्ट पर लगे शिक्षकों की ओर से सितंबर में समान काम-समान वेतन की मांग की हड़ताल को लेकर केयू प्रशासन ने ढाई माह बाद करीब 100 शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। नोटिस में कांट्रेक्ट शिक्षकों से हड़ताल के दौरान अपनी स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। इतना ही नहीं एक सप्ताह में इसका जवाब न देने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की भी चेतावनी दी है। नोटिस जारी होने की टाइमिंग पर भी सवाल उठ रहे हैं। कांट्रेक्ट शिक्षकों की ओर से समान काम-समान वेतन की मांग को लेकर पिछले एक सप्ताह से दोबारा आवाज बुलंद होनी शुरू हुई है। इसी दौरान केयू प्रशासन की ओर से कारण बताओ नोटिस जारी कर दिए गए हैं। इसे कांट्रेक्ट शिक्षकों पर दबाव बनाने से जोड़कर भी देखा जा रहा है। कांट्रेक्ट शिक्षकों ने मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय गीता संगोष्ठी में शामिल होने पहुंचे सीएम व शिक्षामंत्री से भी मिलने का प्रयास किया लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो पाई।

कारण बताओ नोटिस किया है जारी| केयू प्रवक्ता डॉ. अशोक शर्मा ने बताया कि कांट्रेक्ट शिक्षकों को हड़ताल के दौरान अपनी स्थिति को स्पष्ट करने के लिए कारण बताओ नोटिस दिया गया है। ढाई माह बाद कारण बताओ नोटिस जारी करने पर उन्होंने कहा कि यह प्रशासनिक कार्रवाई है।


कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के कांट्रेक्ट शिक्षकों ने नोटिस जारी करने पर कहा कि केयू प्रशासन ढाई माह बाद जागा है। हड़ताल 18 व 19 सितंबर को हुई थी। वहीं कारण बताओ नोटिस अब जारी किए जा रहे हैं। कांट्रेक्ट शिक्षकों ने कहा कि वे समान काम-समान वेतन की मांग को लेकर हड़ताल पर थे। इतना ही नहीं केयू प्रशासन के साथ बातचीत के बाद उन्होंने भूख हड़ताल खत्म कर दी थी। इसके अलावा केयू कुलपति के कहने पर हाईकोर्ट में दायर वेतन बढ़ाने के केस को भी वापस ले लिया था। इसके बावजूद वेतन बढ़ाने की जगह नोटिस थमाए जा रहे हैं।

केयू में 27 हजार तो दूसरी यूनिवर्सिटी में मिल रहे 57700

केयू कांट्रेक्ट शिक्षकों को 27 हजार रुपए मासिक वेतन दिया जा रहा है। वहीं प्रदेश की दूसरी यूनिवर्सिटी एमडीयू रोहतक, जीजेयू हिसार, रणबीर सिंह यूनिवर्सिटी जींद, इंदिरा गांधी यूनिवर्सिटी मीरपुर रेवाड़ी और देवीलाल यूनिवर्सिटी सिरसा में 57700 रुपए मासिक वेतन कांट्रेक्ट शिक्षकों को मिल रहा है। केयू शिक्षकों का कहना है कि जब समान काम-समान वेतन पूरे प्रदेश की यूनिवर्सिटी में है तो नैक से ए प्लस ग्रेड प्राप्त कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के कांट्रेक्ट शिक्षकों को यह वेतन क्यों नहीं मिल रहा।

X
Kurukshetra News - haryana news ku administration gave notice to 100 teachers involved in strike
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना