9 देशों के युवा कलाकारों को केयू परोसेगा चूरमा व डोसा

Kurukshetra News - कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में 24 से 28 फरवरी तक होने वाले 13वें दक्षिण एशियाई महोत्सव में नॉर्थ व साउथ इंडिया का खाना...

Feb 15, 2020, 08:10 AM IST

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी में 24 से 28 फरवरी तक होने वाले 13वें दक्षिण एशियाई महोत्सव में नॉर्थ व साउथ इंडिया का खाना परोसा जाएगा। जिसमें खासतौर पर लड्डू, हलवा, खीर, चूरमा, लस्सी, मक्की की रोटी, सरसों का साग, इडली, सांभर, डोसा और पोहा शामिल किया जाएगा। 9 देशों अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, मॉरीशस, म्यांमार, नेपाल और श्रीलंका से आने वाले 600 युवा कलाकारों का स्वागत भी हरियाणवी अंदाज में किया जाएगा। सभी देशों से पहुंचने वाले कलाकारों के रहने की व्यवस्था केयू के छात्रावासों के साथ-साथ नजदीकी धर्मशालाओं में भी की जाएगी।

2006 में हुई थी महोत्सव की शुरुआत : केयू के युवा एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम विभाग के निदेशक प्रो. तेजेंद्र शर्मा ने बताया कि पहला दक्षिणी एशियाई महोत्सव वर्ष 2006 में जम्मू यूनिवर्सिटी, वर्ष 2007 में एसएनडीटी महिला विश्वविद्यालय मुम्बई, वर्ष 2008 में काठमांडू यूनिवर्सिटी नेपाल, वर्ष 2009 में पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़, वर्ष 2010 में बीआरएसी यूनिवर्सिटी ढाका बांग्लादेश, वर्ष 2013 में पंजाब यूनिवर्सिटी पटियाला, वर्ष 2015 में मोहनलाल सुखाड़िया यूनिवर्सिटी उदयपुर, वर्ष 2016 में बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी लखनऊ, वर्ष 2017 में देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी इंदौर, वर्ष 2018 में गणपति यूनिवर्सिटी गुजरात व वर्ष 2019 में पंडित रविशंकर शुक्ला यूनिवर्सिटी रायपुर में आयोजित किया गया था। वर्ष 2020 में इसका आयोजन केयू में होगा। इस अंतरराष्ट्रीय महोत्सव में 9 देशों से 9 प्रतियोगिताओं में 600 से अधिक युवा कलाकार हिस्सा लेंगे।

देश की ये यूनिवर्सिटी लेंगी हिस्सा : प्रो. तेजेंद्र शर्मा ने बताया कि महोत्सव में अक्का महादेवी महिला विश्वविद्यालय कर्नाटक, बनस्थली विद्यापीठ राजस्थान, भारथीदशन यूनिवर्सिटी तिरुचिरापल्ली तमिलनाडू, भारती विद्यापीठ यूनिवर्सिटी पुणे महाराष्ट्र, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चौधरी बंसीलाल यूनिवर्सिटी भिवानी, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश, गांधीग्राम रुरल यूनिवर्सिटी तमिलनाडू, गुवाहाटी यूनिवर्सिटी, गुलबर्गा यूनिवर्सिटी कर्नाटक, गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी हिसार, गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर, कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी, एलएन मिथला यूनिवर्सिटी, महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी कोट्टयम केरला, पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़, पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला, रविंद्रनाथ टैगोर यूनिवर्सिटी भोपाल, संत गाडगे बाबा अमरावती यूनिवर्सिटी अमरावती, सावित्रीबाई फूले पुणे यूनिवर्सिटी, शिवाजी यूनिवर्सिटी कोल्हापुर, एसएनडीटी वुमेन यूनिवर्सिटी मुंबई, श्रीपदमावती महिला विश्वविद्यालय तिरुपति आंध्र प्रदेश, स्वामी रामानंद तीर्थ मराठवाड़ा नांदेड़ महाराष्ट्र, यूनिवर्सिटी ऑफ जम्मू, यूनिवर्सिटी ऑफ केरला व यूनिवर्सिटी ऑफ मुंबई के प्रतिभागी शामिल हैं।

केयू प्रशासन ने 7 कमेटियां की गठित

केयू प्रशासन ने इस महोत्सव के लिए 7 कमेटियों का गठन किया है। पंजीकरण कमेटी के लिए कॉमर्स विभाग की शिक्षिका डॉ. रश्मि, बोर्डिंग व लॉजिंग के लिए प्रो. मंजुषा शर्मा, डेकोरेशन कमेटी के लिए प्रो. रामविरंजन, ट्रांसपोर्टेशन कमेटी के लिए डॉ. विवेक चावला, मीडिया प्रबंधन के लिए प्रो. तेजेंद्र शर्मा, कैटरिंग व रिफ्रेशमेंट के लिए डॉ. अनिल मित्तल और न्यूज लैटर के लिए जनसंचार एवं मीडिया प्रौद्योगिकी संस्थान की निदेशिका प्रो. बिंदु शर्मा को संयोजक बनाया गया है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना