इस बार नहीं काेई चूक : देश को सैफ गेम्स दिलाएंगे 10वां गोल्ड, हर मुकाबले के लिए अलग रणनीति

Sonipat News - एशियाई खेलों में एक बड़े उलटफेर के बाद लगातार सवालों के घेरे में रही भारतीय कबड्‌डी एक बार फिर से लय में लौटने को...

Dec 04, 2019, 08:51 AM IST
Sonipat News - haryana news no errors this time saf games will bring 10th gold to the country different strategy for every match
एशियाई खेलों में एक बड़े उलटफेर के बाद लगातार सवालों के घेरे में रही भारतीय कबड्‌डी एक बार फिर से लय में लौटने को तैयार है। देश के सबसे होनहार खिलाड़ियों के साथ भारतीय टीम सैफ गेम्स के लिए नेपाल पहुंच गई है। भारतीय टीम अपने अभियान की शुरुआत बुधवार से करेगी। टीम के कप्तान हरियाणा के दीपक निवास हुड्‌डा ने नेपाल से भास्कर से बातचीत के दाैरान बताया कि इस बार कोई चूक नहीं होगी। किसी देश को हल्के में नहीं लिया जाएगा। हर देश के साथ पूर्ण रणनीति के साथ मुकाबला करेंगे। टीम में युवा एवं अनुभव का अच्छा तालमेल है। इस बार भारत सैफ गैम्स में स्वर्णिम चमक बरकरार रखेगा।

एशियाई खेलों के बाद संभली भारतीय कबड्‌डी टीम

भारतीय टीम के कप्तान दीपक ने कहा कि एशियाई खेलों के बाद भारत कबड्‌डी में काफी संभला है। एशियाई खेलों में भारत को पहली बार ईरान ने एकतरफा मुकाबले में 27-18 से हारकर कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था। इसके बाद टीम कड़े अभ्यास के बाद लय में लाैटी। हाल ही में एशियाई चैंपियनशिप में श्रीलंका ने ईरान के खिलाफ मुकाबले में चौंकाया था। वहीं पाकिस्तान को भी हल्के में नहीं लिया जा सकता। वहीं बांग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल और अफगानिस्तान के खिलाफ भी भारत मेरिट के आधार पर ही अपनी रणनीति के साथ मैदान में उतरेगा।

भारतीय टीम के कप्तान दीपक बोले-हर देश के खिलाफ खास नीति, किसी को हल्के में नहीं लेंगे

दीपक व सुरेन्द्र 2016 में दिला चुके हैं गोल्ड मेडल

मौजूदा भारतीय टीम में अधिकांश खिलाड़ी पहली बार सैफ गेम्स में भाग ले रहे हैं। टीम में कप्तान दीपक निवास हुड्डा व शानदार रक्षात्मक खिलाड़ी सुरेन्द्र नाडा देश को 2016 में गोल्ड दिलाने वाली टीम के सदस्य थे, बाकी ज्यादातर प्लेयर पहली बार भारतीय टीम का हिस्सा बने हैं।

सोनीपत. सैफ गेम्स में भाग लेने वाली भारतीय कबड्‌डी टीम।

एक साल छोड़कर हर बार चैंपियन रहा है भारत

कबड्डी ने 1985 में दक्षिण एशियाई खेलों में अपनी शुरुआत की। भारतीय पुरुष कबड्डी टीम ने पहले संस्करण में स्वर्ण जीता। वर्ष 1993 के अपवाद के साथ, भारत 10 संस्करणों में से नौ स्वर्ण जीतने वाली सबसे सफल टीम रही है।

सुरेंद्र व प्रवेश पर डिफेंस की जिम्मेदारी : दीपक 2016 में भारतीय टीम में शामिल हुए। प्रो कबड्‌डी लीग में बेस्ट आलराउंडर के खिताब से नवाजे गए अाैर अब कप्तान हैं। उनके साथ लीग के बेस्ट रेडर रहे नवीन गोयत, पवन सहरावत व प्रदीप नरवाल टीम का हिस्सा होंगे। डिफेंस में सुरेंद्र नाडा व प्रवेश टीम का किला ढहने से बचाएंगे।

ये खिलाड़ी टीम में








X
Sonipat News - haryana news no errors this time saf games will bring 10th gold to the country different strategy for every match
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना