अधिकारियों की मेहरबानी से धड़ल्ले से दौड़ रहे ओवरलोड ट्रक, 2 सप्ताह में काटे मात्र 40 चालान

Kaithal News - केंद्र सरकार द्वारा गत एक सितंबर से लागू किए गए मोटर व्हीकल एक्ट 2019 में किए गए मोटे जुर्माने के प्रावधान की मार...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:27 AM IST
Cheeka News - haryana news overload trucks running haphazardly at the behest of officials only 40 challans cut in 2 weeks
केंद्र सरकार द्वारा गत एक सितंबर से लागू किए गए मोटर व्हीकल एक्ट 2019 में किए गए मोटे जुर्माने के प्रावधान की मार बाइक, कार, ट्रैक्टर व दूसरे छोटे वाहन चालकों को झेलनी पड़ रही है। जबकि दुर्घटनाओं का कारण बनने वाले ओवर लोड ट्रक आज भी बिना किसी रोकटोक के सड़कों पर दौड़ रहे हैं। अकेले गुहला चीका में हर रोज रेत व बजरी से भरे सैकड़ों ओवर लोड ट्रक पहुंचते हैं। इन ओवर लोड ट्रकों की न तो आरटीए जांच करता है और ना ही कोई दूसरा संबंधित अधिकारी इनके चालान करने की जहमत उठाता है। क्षमता से अधिक वजन भरा होने के कारण अकसर ट्रक चौराहों के ऊपर से घूम नहीं पाते इसलिए इनके ड्राइवर दुर्घटना की परवाह किए बिना ट्रकों को गलत दिशा से गुजार लेते जाते हैं।

बजरी से भरे एक ओवर लोड ट्रक का टायर फटने से एक घायल : शुक्रवार सुबह चीका के शहीद उधम सिंह चौक से गुजर रहे बजरी से भरे ओवर लोड ट्रक का अचानक टायर फट गया। टायर फटने जोर का धमका हुआ जिससे सड़क पर पड़े कंकर उछलकर पास से गुजर रहे वार्ड नंबर चार के गोल्डी नामक व्यक्ति व एक महिला को लगे जिससे वे घायल हो गए।

यूनियन की जगह होने के बावजूद सड़कों पर खड़े होते हैं ट्रक : चीका शहर में ट्रक यूनियन के लिए स्थान निर्धारित किया गया है। सरकार की तरफ से यूनियन को लगभग छह एकड़ जमीन उपलब्ध करवाई गई है। इसके बावजूद ट्रक चालक अपने ट्रकों को यूनियन में ना खड़े कर शहर के मोहल्लों और व्यस्त सड़कों पर खड़े करते है। शहरवासी डा. सतीश मित्तल, अशोक सिंगला, जसजीत सिंह, लखविंद्र सिंह, बलविंद्र सिंह, कश्मीरी लाल, हैप्पी ने प्रशासन से मांग की है कि सड़कों पर खड़े होने वाले ट्रकों को यहां से हटा कर यूनियन में भेजा जाए।

गुहला चीका | सड़कों पर खड़े ओवरलोड ट्रक।


X
Cheeka News - haryana news overload trucks running haphazardly at the behest of officials only 40 challans cut in 2 weeks
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना