• Hindi News
  • Harayana
  • Sonipat
  • Sonipat News haryana news pre natal fetal sex examination done by jahangirpuri for nine months pregnant department killed

नौ माह की गर्भवती करवाती थी जहांगीरपुरी से प्रसव पूर्व भ्रूण लिंग जांच, विभाग ने मारी रेड

Sonipat News - स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गन्नौर की महिला द्वारा जहांगीरपुरी दिल्ली के डॉक्टरों के साथ मिलकर प्रसव पूर्व भ्रूण...

Oct 12, 2019, 08:51 AM IST
स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गन्नौर की महिला द्वारा जहांगीरपुरी दिल्ली के डॉक्टरों के साथ मिलकर प्रसव पूर्व भ्रूण लिंग जांच करने के मामले का खुलासा किया है। आरोपी महिला नौ माह की गर्भवती होते हुए यह काम कर रही थी। आरोपी महिला से स्वास्थ्य विभाग व पुलिस ने 24 हजार की राशि बरामद कर ली है। यह राशि उसने स्वास्थ्य विभाग के फर्जी ग्राहक से भ्रूण लिंग जांच के लिए ली थी। गन्नौर थाना पुलिस ने आरोपी महिला मीरा निवासी बीएसटी काॅलोनी गन्नौर सोनीपत, दिल्ली के डॉक्टर संजय व डॉक्टर संजय की प|ी सरस्वती के खिलाफ पीएनडीटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।

डॉक्टर आदर्श पीएनडीटी इंचार्ज सोनीपत ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि गन्नौर की बीएसटी काॅलोनी में रहने वाली महिला मीरा प्रसव पूर्व गर्भवती महिलाओं को दिल्ली ले जाकर भ्रूण लिंग जांच का काम कर रही है। महिलाओं की जांच करवाने के बाद वापस सोनीपत में छोड़ देती है। इस सूचना को उन्होंने सिविल सर्जन के संज्ञान में लाया। सिविल सर्जन ने एक्शन लेने को कहा। इसके बाद डॉक्टर संदीप लठवाल, डॉक्टर अनवीता कौशिक, डॉक्टर सुभाष व अन्य की टीम गठित की गई। टीम बनने के बाद उन्होंने अपना फर्जी ग्राहक दलाल मीरा के पास भेजा।

मीरा ने प्रसव पूर्व भ्रूण लिंग जांच करने के 30 हजार रुपए मांगे। सौदा 30 हजार रुपए में तय हो गया। इसके बाद आरोपी मीरा फर्जी ग्राहक को ईको गाड़ी में बैठाकर जहांगीरपुरी दिल्ली के लिए रवाना हो गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ईको का पीछा किया। मीरा स्वास्थ्य विभाग के फर्जी ग्राहक को लेकर दिल्ली के संजय ग्लोबल अस्पताल में लेकर पहुंचें। यहां उसकी अल्ट्रासाउंड करने की पर्ची बना गई और जांच के लिए फर्जी ग्राहक को एसबीआई काॅलोनी स्थित नॉर्थ रेडियोलॉजी सेंटर पर भेज दिया। यहां भी फर्जी ग्राहक का अल्ट्रासाउंड किया गया। डॉक्टर आदर्श ने बताया कि उन्हें पता चला कि यह गिरोह लोगों को बहकाता था। अल्ट्रासाउंड करने के दो या तीन दिन बाद बताता था कि गर्भ में पल रहा भ्रूण लड़के का है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर संजय, उनकी प|ी सरस्वती व मीरा दलाल के खिलाफ गन्नौर थाना में केस दर्ज करवा दिया है। अब उन जगहों का रिकॉर्ड खंगाला है जहां पर फर्जी ग्राहक को आरोपी महिला मीरा लेकर गई थी। डॉक्टर आदर्श ने बताया कि दलाल मीरा नौ माह की गर्भवती है। इन हालतों में भी वह यह रिस्क उठा रही थी। मीरा का मायका भी जहांगीरपुरी दिल्ली में है। इस दौरान दिल्ली के एसडीएम वीरेंद्र, डॉक्टर नीतिन स्टेट पीएनडीटी नोडल अधिकारी माैजूद रहे।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना