रेवाड़ी | मकर संक्रांति स्नान दान की परंपरा है। इस

Rewari News - रेवाड़ी | मकर संक्रांति स्नान दान की परंपरा है। इस दिन सुबह जल्दी उठकर नहाते हैं तो दान-पुण्य भी करते हैं। सबसे खास...

Jan 16, 2020, 07:25 AM IST
Bawal News - haryana news rewari bathing on makar sankranti is a tradition this
रेवाड़ी | मकर संक्रांति स्नान दान की परंपरा है। इस दिन सुबह जल्दी उठकर नहाते हैं तो दान-पुण्य भी करते हैं। सबसे खास बात यह त्योहार बुजुर्गों के सम्मान से भी जुड़ा है। जिले में कुछ इसी तरह के खास लम्हों के साथ मकर संक्रांति पर्व मनाया गया। कोई इस दिन अपने गुरुजनों का आशीर्वाद लेने पहुंचा तो किसी ने परिवार के साथ समय बिताया। किसी ने पिता के लिए उपहार खरीदे तो किसी ने सास को शॉल भेंट की। हमारे पास ऐसी बहुत सी तस्वीरें पाठकों ने भेजी। आजाद नगर से प्रिंस यादव ने अपने पिता आजाद सिंह के साथ बिताए समय की फोटो शेयर कर लिखा कि ‘’मुझे मोहब्बत है अपने हाथों की सब लकीरों से, ना जाने पापा ने कौनसी उंगली को पकड़कर चलना सिखाया था।’’ हंसनगर निवासी सामाजिक कार्यकर्ता प्रियंका यादव ने कुतुबपुर स्थित हृदय कुंज में अपने गुरुजनों पूर्व प्रवक्ता एवं बाल कल्याण समिति के पूर्व सदस्य राकेश भार्गव, रजनी भार्गव के अलावा बावल निवासी समिति की पूर्व अध्यक्ष नलिनी यादव व प्रधान वैज्ञानिक डॉ. जोगिन्द्र यादव संग मकर सक्रांति पर्व की खुशियां बांटी। मॉडल टाउन में सतीश कुमार गुरु ज्योतिषाचार्य श्रीनिवास शास्त्री से आशीर्वाद लेने पहुंचे। कुतुबपुर निवासी जगदीश जाजोरिया व वीना जाजोरिया ने जरूरतमंदों में वस्त्रदान कर पर्व मनाया।

X
Bawal News - haryana news rewari bathing on makar sankranti is a tradition this
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना