• Hindi News
  • Harayana
  • Yamunanagar
  • Yamunanagar News haryana news sales tax teams probe revealed a firm not registered in gst some got goods worth billions without bills

सेल्स टैक्स टीमों की जांच में खुलासा-एक फर्म जीएसटी में रजिस्टर्ड नहीं, कुछ से बिना बिलों के करोड़ों का माल मिला

Yamunanagar News - जगाधरी शहर में वीरवार को सेल्स टैक्स टीमों की रेड में बड़ी गड़बड़ी मिली है। वहीं टीम ने जांच पाया कि गुलाटी रोड...

Feb 15, 2020, 08:56 AM IST
Yamunanagar News - haryana news sales tax teams probe revealed a firm not registered in gst some got goods worth billions without bills

जगाधरी शहर में वीरवार को सेल्स टैक्स टीमों की रेड में बड़ी गड़बड़ी मिली है। वहीं टीम ने जांच पाया कि गुलाटी रोड लाइंस जीएसटी रूल के मुताबिक रजिस्टर्ड ही नहीं है। इस बात की पुष्टि जॉइंट कमिश्नर रविंद्र कौशिक ने की है। वहीं जांच में कुछ जगह पर बिना बिल का माल मिला है। मौके पर ट्रांसपोर्टर और व्यापारी इन माल के बिल नहीं दिखा पाए। वहीं दूसरी बड़ी बात जिस माल के बिल दिखाए हैं वे भी संदेह के घेरे में हैं। हालांकि वे कितने सही हैं और कितने गलत इसका पता जांच पूरी होने के बाद चलेगा। इस मामले की जांच वे अधिकारी करेंगे जोकि रेड टीम में शामिल नहीं थे। अभी जांच में कई दिन लगेंगे। जांच के दौरान व्यापारियों को भी अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा। रेड में शामिल एक अधिकारी ने बताया कि जयबद्री विशाल ट्रांसपोर्टर के यहां पर सामान के 20 से 25 नग ऐसे मिले हैं जिनके बिल मौके पर पेश नहीं किए गए। वीरवार को सेल्स टैक्स विभाग की टीमों ने जगाधरी में कई जगह जांच के लिए रेड की थी। गौरी शंकर मंदिर के पास एक ट्रांसपोर्टर के यहां पर हंगामा हुआ था। ट्रांसपोर्टर ने टीम को छह घंटे तक अंदर नहीं जाने दिया गया था। टीम को यहीं पर सबसे ज्यादा गड़बड़ी की आशंका है।

कई व्यापारियों की दिक्कत बढ़ीः टीम की जांच में जगाधरी के कई मेटल व्यापारियों की दिक्कत बढ़ गई है। क्योंकि मौके पर जो माल मिला है उस पर उनका मार्का है। वहीं जो बिल उनके ट्रांसपोर्टर के यहां पर पेश किए गए हैं उनकी भी जांच की जाएगी। जिनके बिलों में गड़बड़ी मिली तो उन पर मोटा जुर्माना लगना तय है।

बड़े स्तर पर चलता है बेनाम बिल्डिंगों में कारोबार

जगाधरी में बहुत से ऐसे व्यापारी हैं जो कि टैक्स से बचने के लिए गलत तरीके से व्यापार करते हैं। यहां पर हर गली और मोहल्ले में फैक्टरियां चल रही हैं। इन्हीं फैक्टरियों के आसपास बड़े-बड़े बेनामी ठिकाने हैं। जिन पर न तो कोई नाम है और न ही यहां पर कोई मालिक होता है। ये गोदाम तभी खुलते हैं जब यहां से माल जाना होता है। जब नियम अनुसार फैक्टरी और गोदाम के बाहर फर्म का नाम और जीएसटी नंबर लिखना जरूरी है।

13 फरवरी को प्रकाशित समाचार।

X
Yamunanagar News - haryana news sales tax teams probe revealed a firm not registered in gst some got goods worth billions without bills
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना