पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kaithal News Haryana News Shrimad Bhagwat Geeta Tells The Essence Of Living Life Gyanananda Maharaj

जीवन जीने का सार बताती है श्रीमद भागवत गीता: ज्ञानानंद महाराज

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मानव जाति में नकारात्मक विचार आने स्वाभाविक हैं। श्रीमद भागवत गीता इन नकरात्मक विचारों को सकारात्मक बनाने का काम करती है। गीता जीवन जीने का सार बतलाती है। उक्त विचार गीता मनीषी महामंडलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने श्री कृष्ण कृपा सेवा समिति कैथल की ओर आयोजित तीन दिवसीय दिव्य गीता सत्संग के दूसरे दिन व्यक्त किए। शुभारंभ हरियाणा प्रदेश की राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने किया। इस मौके पर उनके साथ विधायक लीलाराम भी मौजूद रहे। स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने कहा कि कुरुक्षेत्र की रणभूमि में महाभारत के समय दिया गया गीता उपदेश आज के संदर्भ में समूची मानवता के लिए उपयोगी और आवश्यक अनुभव हो रहा है। श्रीमद भागवत गीता एक ऐसा ग्रंथ है जो संपूर्ण मानव जाति के कल्याण के लिए अवतरित हुआ है। गीता संसार में शांति का संदेश देकर मानवता का मार्गदर्शन करती है। श्रीमद भागवत गीता सत्संग से ही ज्ञान की प्राप्ति हो सकती है। भगवान कृष्ण ने कुरुक्षेत्र की धर्म भूमि पर पूरी मानवता को गीता का उपदेश दिया।

इससे पूर्व राज्यमंत्री कमलेश ढांडा ने कहा कि श्रीमद भागवत गीता के प्रवचनों से जीवन को नई दिशा मिलती है। इससे मनुष्य को अच्छे कर्म करने की प्रेरणा मिलती है जो जीवन में बहुत जरूरी हैं। राज्यमंत्री ढांडा ने इस मौके पर श्री कृष्ण कृपा सेवा कैथल में सेक्टर 19 हुडा में निर्माणाधीन श्रीकृष्ण कृपा धाम में हाल के लिए अपने ऐच्छिक कोष से 11 लाख रुपए देने की घोषणा की। विधायक लीला राम ने भी श्रीमद भागवत गीता को जीवन का सार बताया। इस अवसर पर रतन रसिक झिंझाना, पवन व राजीव शास्त्री द्वारा गाए भजन, अगले जन्म में कान्हा बनाना मुझे बंसुरिया, प्रीता तेरे नाल लगाइयां ओ सांवरे आंखा तेरे नाल लहैंयां ओ सांवरिया, श्याम रंग दे तू मेरे को अपने रंग में, अर्जुन तो बहाना है इस गीत ज्ञान के लिए... आदि भजनों पर श्रद्धालु खूब झूमे। मंच संचालन महेंद्र खन्ना ने किया। कार्यक्रम में कैलाश भगत, तुषार ढांडा, कांग्रेसी नेता सुधीर मेहता, इंद्रजीत सरदाना, शिव शंकर पाहवा, राजकुमार मुखीजा, नरेश मित्तल, डॉ. विकास गुप्ता, डॉ. दिनेश अग्रवाल, सुभाष कौशिक, सतपाल भंजाना, गोपाल सैनी, सुषम कपूर, संजय मदान व संदीप गुलाटी आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...