सुमित भारत केसरी, संजीत व सोनू ने जीता भारत अभिमन्यु का खिताब

Sonipat News - पुलवामा में हुए शहीदों की याद में शहर के सेक्टर-23 में कुश्ती दंगल का अायोजन किया गया जिसमें प्रदेश ही नहीं विदेश...

Feb 15, 2020, 08:51 AM IST
Sonipat News - haryana news sumit bharat kesari sanjeet and sonu win bharat abhimanyu title

पुलवामा में हुए शहीदों की याद में शहर के सेक्टर-23 में कुश्ती दंगल का अायोजन किया गया जिसमें प्रदेश ही नहीं विदेश के पहलवानों ने शिरकत की।

भारतीय कुश्ती कैंप में शामिल रहा छत्रसाल स्टेडियम का सुमित कुमार भारत केसरी बन गया है। फाइनल में हुए रोमांचक मुकाबले में सुमित ने ईरान के पहलवान मरेंडी को शिकस्त देकर यह उपलब्धि अपने नाम की। वहीं भारत कुमार में संजीत छारा विजेता बना तो भारत अभिमंयु का खिताब सोनू नेवी अव्वल आया। भारत केसरी के विजेता को एक लाख रुपए देकर सम्मानित किया गया।

इस दंगल में खास बात यह रही कि इसमें विभिन्न प्रदेशों के अलावा ईरान के छह पहलवानों ने भी चुनौती पेश की, जिसमें मरेंडी तो सबसे बड़े दंगल के फाइनल में भी पहुंचे। इस मौके पर विजेता की हौंसला अफजाई के लिए , कांग्रेस के पूर्व सांसद दीपेन्द्र सिंह हुड्‌डा, विधायक सुरेन्द्र पंवार, गीतांजलि स्कूल के चेयरमैन नरेन्द्र सूरा, अर्जुन अवार्ड विजेता अशोक गर्गसमाजसेवी हर्ष छिक्कारा सहित काफी संख्या में गणमान्य पहुंचे। दंगल अंतरराष्ट्रीय कोच राज सिंह छिक्कारा, वीरेन्द्र मलिक,रविन्द्र भूरा, संदीप व देवेन्द्र कोच की देखरेख में दो मैट पर संचालित हुए। यह दंगल पुलवामा में हुए शहीदों को समर्पित रहा। जो रोहित हुड्‌डा व सुमित पहलवान के संयोजन में हुआ। इसके साथ ही यहां रक्तदान शिविर भी आयोजित किया गया।

इस प्रकार रहा परिणाम

भारत केसरी

सुमित कुमार प्रथम

मरेंडी ईरान द्वितीय

विजय कामी तृतीय

भारतीय पहलवान में ताकत ज्यादा तकनीक कम: ईरानी कोच

ईरान के पूर्व कोच गुलामे रेजा मोजन भी दंगल में पहलवानों की हौंसला अफजाई के लिए पहुंचे। इस मौके पर चर्चा करते हुए कहा कि ईरान में कुश्ती एक पेंशन है, करीब पांच हजार से ज्यादा तो कोच हैं जो बच्चों को ट्रेनिंग देते हैं। अपनी कोचिंग में पाकिस्तान को राष्ट्रमंडल खेलो में तीन मेडल दिलाने वाले कोच ने कहा कि यकीनन ताकत में भारतीय पहलवान अन्य देशों से आगे हैं, लेकिन तकनीक लगाने में अभी बहुत मेहनत करनी होगी, क्योंकि यहां तकनीक को पूरी स्पीड़ के साथ लगाना होता है, ईरान इसलिए ही कुश्ती में विश्व चैंपियन है। हालांकि उन्होंने कहा कि आगामी ओलंपिक में बजरंग पुनिया व विनेश फौगाट ओलंपिक मेडल जीत सकते हैं, गोल्ड जीतना वह मुश्किल लगता है।

भारत कुमार

संजीत छारा प्रथम

संदीप पंजाब द्वितीय

वीर रोहतक तृतीय

भारत अभिमन्यु

सोनू नेवी प्रथम

विकास जयवीर अखाड़ा द्वितीय

नवीन मेहर सिंह अखाड़ा तृतीय

सोनीपत. सेक्टर-23 में आयोजित एक लाख रुपए के दंगल में 84 किलो वजन वर्ग में आजमाइश करते हुए पहलवान।

X
Sonipat News - haryana news sumit bharat kesari sanjeet and sonu win bharat abhimanyu title
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना