पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sirsa News Haryana News Tampering While Returning From The Camp Saved Itself Now Self Defense Training Given To More Than 15 Thousand Girl Students

कैंप से लौटते समय हुई छेड़छाड़ तो खुद को बचाया, अब 15 हजार से ज्यादा छात्राओं को दे चुकीं सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मनचलों की हरकतों और शरारती तत्वों के कारण स्कूल-कॉलेज की छात्राओं काे अक्सर परेशानियों का सामना करना पड़ता है और सहन भी करना पड़ता है। लेकिन एक युवती के साथ ऐसी घटना हुई और उसने दूसरी छात्राओं के साथ ऐसा होता देखा तो उनका इलाज कर डाला। उसने न केवल स्वयं सेल्फ डिफेंस के गुर सीखे बल्कि 15 हजार से ज्यादा छात्राओं को भी सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे डाली। इसके अलावा करीब 15 ऐसी छात्राएं भी ट्रेनिंग देकर तैयार कर ली जो अन्य छात्राओं को भी ट्रेनिंग दे सकें। हम बात कर रहे हैं सिरसा की अनिता सैनी की। सिरसा की अनिता 12 वर्ष से ज्यादा समय से छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे रही है। अब तक जिला भर के 300 से ज्यादा गांवों के विद्यालयों और कॉलेजों की 10 हजार से ज्यादा और प्रदेश भर की भी 5 हजार से ज्यादा यानी 15 हजार छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे चुकी है। अनिता न केवल सिरसा बल्कि प्रदेश भर में नि:शुल्क कैंप लगाकर छात्राओं को मजबूत कर रहीं हैं।

छात्राओं को समर्पित है मेरा अभियान, जारी रहेगा

देखिए, मनचलों की शिकार मैं खुद भी हो चुकी हूं और दूसरी युवतियों को भी होते हुए देखा है। इसीलिए मैंने न केवल स्वयं सेल्फ डिफेंस के गुर सीखे बल्कि 15 हजार से ज्यादा अन्य छात्राओं को भी सीखाए। ट्रेनिंग के बाद अब छात्राओं का हौसला मजबूत भी हुआ है।\\\'\\\' -अनिता सैनी, प्रशिक्षक, सेल्फ डिफेंस, सिरसा।

अपने जैसे 10-15 मास्टर ट्रेनर भी तैयार किए

अनिता सैनी का अनोखा अभियान जोर पकड़ा और स्कूल-कॉलेजों से फ्री ट्रेनिंग कैंप के लिए डिमांड आने लगी। लेकिन सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग देने वाली अकेली अनिता थी। इसलिए उसने अपने जैसे 10-15 मास्टर ट्रेनर भी तैयार किए जो अब दूसरी छात्राओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग भी देती हैं।

जानिए... इसलिए लिया सेल्फ डिफेंस सीखाने का फैसला

अनिता सैनी का कहना है कि स्कूल और कॉलेज की छात्राओं को कई बार घर से कॉलेज आते-जाते समय छेड़छाड़ की घटनाओं का सामना करना पड़ता है। उसके साथ भी ऐसी घटनाएं स्कूल समय में कई बार हो चुकी हैं। अनिता बताती है कि एक बार वह किसी ट्रेनिंग कैंप में भाग लेकर देर रात घर लौट रही थी। रात्रि करीब 10 बजे का समय था और वह बिजली घर के पीछे वाली गली में से गुजर रही थी। इस दौरान कुछ युवकों ने उससे छेड़छाड़ की तो उसने उन्हें सबक सिखा दिया। इसके अलावा पुरानी कचहरी रोड पर स्थित कृषि विज्ञान केंद्र के पास से कॉलेज की कुछ छात्राएं जा रही थी। इस दौरान बाइक सवार कुछ युवकों ने न केवल उन्हें छेड़ा बल्कि कमेंट्स भी किए। यहां से उसने फैसला ले लिया कि छात्राओं को फ्री ट्रेनिंग देकर इतना मजबूत कर देगी कि छात्राएं ऐसे मनचलों को स्वयं सबक सिखा सके। इससे पहले अनिता ने सिरसा, हिसार, चंडीगढ़, भुवनेश्वर, दिल्ली व गुरुग्राम से ट्रेनिंग भी ली।

सुरक्षा की ट्रेनिंग

सिरसा के सभी गांवाें के अलावा हिसार सहित प्रदेश भर के कई जिलों में चला चुकी सेल्फ डिफेंस अभियान

सिरसा। छात्राओं को ट्रेनिंग देती अनिता सैनी।
खबरें और भी हैं...