• Hindi News
  • Harayana
  • Rewari
  • Kosli News haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory

विस चुनाव में जिसने सबसे मोटी रकम खर्ची वही प्रत्याशी जीता; खर्चे का जितना ज्यादा अंतर, जीत उतनी बड़ी मिली

Rewari News - विधानसभा चुनावों के दौरान उम्मीदवारों ने अपनी जीत के लिए जमकर खर्चा किया। रैली और सभाओं से लेकर गाड़ियों की...

Dec 10, 2019, 08:10 AM IST
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
विधानसभा चुनावों के दौरान उम्मीदवारों ने अपनी जीत के लिए जमकर खर्चा किया। रैली और सभाओं से लेकर गाड़ियों की व्यवस्था और प्रचार सामग्री पर भी खूब खर्चा हुआ। अब तकरीबन उम्मीदवारों ने अपने खर्च का हिसाब चुनाव आयोग को दे दिया है। संयोग से इस बार जिले की तीनों विधानसभा सीटों पर जिस भी उम्मीदवार ने सबसे अधिक खर्चा किया उसे ही जीत नसीब हुई है। चुनाव लड़ने वाले सभी उम्मीदवारों के कुल खर्च पर नजर डालें तो रेवाड़ी विस सीट सबसे महंगी रही।

यहां सभी उम्मीदवारों ने कुल 1.02 करोड़ रुपए का खर्च दर्शाया है। जबकि कोसली में 44 लाख तथा बावल में कुल खर्चा करीब 61 लाख रुपए रहा। हालांकि कुल 41 उम्मीदवारों में से अभी 4 ने अपने खर्च का हिसाब नहीं दिया है, जबकि एक उम्मीदवार ने निर्धारित समय के बाद खर्च का हिसाब दिया। चूंकि ये मुख्य उम्मीदवारों में नहीं थे, इसलिए अनुमान है इनका कुल खर्च ही 1-2 लाख से ज्यादा नहीं होगा। बता दें कि चुनाव प्रचार के लिए कैंडीडेट या पार्टी द्वारा किया जाने वाला खर्च भी कैंडीडेट के ही खर्चे में जोड़ा जाता है। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं डीसी यशेंद्र सिंह के अनुसार मुख्य निर्वाचन अधिकारी हरियाणा के मार्फत इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया को खर्च का ब्योरा भेजा गया है।




स्टार प्रचारकों पर कम, खुद की सभाओं पर ज्यादा खर्चे

चुराव के दौरान स्टार प्रचारकों की रैली के मुकाबले उम्मीदवारों की सभाओं और रैलियों पर ज्यादा खर्च हुआ। क्योंकि स्टार प्रचारक कभी कभार ही आए थे, जबकि प्रत्याशियों हर रोज कई-कई सभाएं की। रेवाड़ी सीट पर चिरंजीव ने खुद की सभाओं पर 7.01 लाख रुपए व स्टार कैंपेन के साथ करीब 70 हजार रुपए खर्च किए। वाहनों पर 5.68 लाख, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ सोशल मीडिया आदि कैंपेन पर 2.26 लाख, कार्यकर्ताओं पर 2.63 लाख व 20 हजार के अन्य खर्चे किए।

रेवाड़ी सीट पर सुनील यादव ने अपनी सभाओं आदि पर 9.17 लाख, स्टार कैंपेन पर 2.84 लाख तथा वाहनों पर 8.08 लाख, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ सोशल मीडिया आदि कैंपेन पर 49 हजार, प्रचार सामग्री आदि पर 3.32 लाख व कार्यकर्ताओं पर 58 हजार 500 रुपए खर्चे।

डॉ. एमएल रंगा ने खुद की सभाओं पर 6.69 लाख, स्टार कैंपेन पर 1.72 लाख, वाहनों पर 2.98 लाख, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि पर 15 हजार व वर्कर्स पर 1.19 लाख खर्चे।

निर्दलीय रणधीर कापड़ीवास का सभाओं पर 4.38 लाख, वाहनों पर ‌Rs.3.97 लाख खर्चे।

निर्दलीय प्रशांत सन्नी ने सभाओं पर 2.93 लाख, वाहनों पर 4.99 लाख खर्च किए।

कोसली सीट पर लक्ष्मण यादव ने खुद की सभाओं पर 6.99 लाख, स्टार कैंपेन पर 2.84 लाख, वाहनों पर 2.58 लाख, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि पर 3.31 लाख व 1.20 लाख खर्चे।

बावल सीट पर डॉ. बनवारी ने खुद की सभाओं पर 11 लाख, स्टार कैंपेन पर 1.24 लाख, वाहनों पर 3.05 लाख, प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि पर 50 हजार व वर्कर्स पर 1.20 लाख रुपए खर्चे।

राव यादुवेंद्र ने खुद की सभाओं पर 2.89 लाख, स्टार कैंपेन पर 20 हजार, वाहनों पर 4 लाख व अन्य प्रचार सामग्री आदि पर करीब 84 हजार खर्चे।

कांटे की रेवाड़ी सीट... चिरंजीव ने 24.99 लाख, सुनील ने 22.41 लाख लगाए : विस चुनाव में रेवाड़ी सीट पर मुकाबला कांटे का रहा। चुनाव जीतने के लिए उम्मीदवारों ने पानी की तरह पैसा बहाया। इसलिए रेवाड़ी सीट पर 15 उम्मीदवारों का कुल खर्च 1 करोड़ का आंकड़ा पार कर गया। पूरे चुनाव में 41 में से केवल 3 ही उम्मीदवारों ने 20 लाख रुपए से अधिक रकम खर्ची। इनमें सबसे अधिक रेवाड़ी सीट पर कांग्रेस के चिरंजीव राव ने 24 लाख 99 हजार और भाजपा के सुनील यादव ने 22 लाख 41 हजार रुपए लगाए। तीसरे नंबर पर कोसली से भाजपा के लक्ष्मण यादव ने 20 लाख 79 हजार रुपए खर्चा किया। चौथे नंबर पर बावल से भाजपा के डॉ. बनवारी लाल ने 18 लाख 45 हजार, बावल से ही कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. एमएल रंगा ने 12 लाख 75 हजार व जजपा के श्याम सुंदर सभरवाल ने 11.9 लाख रुपए खर्च किया गया।

समझिए खर्च और जीत का अंतर खर्च के ब्योरे में दिलचस्प बात ये है कि विजेता और उपविजेता उम्मीदवारों के खर्चे में जितना कम अंतर है, उतनी ही नजदीकी जीत मिली। रेवाड़ी सीट पर चिरंजीव राव ने सुनील यादव के मुकाबले करीब 2 लाख 58 हजार रुपए ज्यादा खर्च किए और उन्हें 1317 वोटों से जीत मिली। इनसे ज्यादा बावल सीट पर डॉ. बनवारी और डॉ. एमएल रंगा के खर्च का अंतर करीब 5 लाख 69 हजार रहा तथा यहां 3224 वोटों से जीत मिली। तीनों सीटों के तुलना करें तो कोसली सीट पर भाजपा के लक्ष्मण यादव से कांग्रेस के यादुवेंद्र के खर्च का अंतर सबसे अधिक करीब 12 लाख 87 हजार रुपए का रहा। इसी सीट पर जीत का अंतर भी सबसे ज्यादा 38624 वोट रहा।

रिजल्ट के बाद ब्योरे के लिए 30 दिन तय; एक ने लेट, 4 ने अभी दिया नहीं : हरियाणा विधानसभा चुनाव-2019 अक्टूबर में कराए गए। 21 अक्टूबर को मतदान हुए, जबकि 24 अक्टूबर को परिणाम घोषित किए गए। निर्वाचन आयोग के नियमानुसार परिणाम घोषित होने के बाद 30 के दिन के अंदर उम्मीदवारों को खर्च का ब्योरा देना होता है। विस चुनाव में 28 लाख तक का खर्च कर सकते थे, सभी उम्मीदवारों ने निर्धारित सीमा में खर्च किया। रेवाड़ी सीट पर सभी 15 उम्मीदवारों ने समय पर ब्योरा जमा करा दिया था। बावल सीट के 11 में से 10 उम्मीदवारों ने निर्धारित समय में, जबकि एक उम्मीदवार राकेश कांटीवाल ने अभी तक हिसाब नहीं दिया है। कोसली सीट से चुनाव लड़ने वाले 15 कैंडीडेट में से 4 ने समय पर ब्योरा नहीं दिया। इनमें तेजपाल यादव, डॉ. अतर सिंह चहल, राज रतन व रतन लाल शामिल हैं। अब तेजपाल यादव द्वारा ब्योरा दिया जा चुका है, जिसकी रिपोर्ट आयोग को भेजे जाने की प्रक्रिया चल रही है।

प्रावधान... ब्योरा नहीं देने पर 3 साल का बैन : अधिकारियों के अनुसार विधानसभा या लोकसभा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों को चुनाव में किए गए खर्च का ब्योरा देना अनिवार्य है। यह रिपोर्ट स्थानीय कार्यालय में जमा करानी होती है तथा आयोग तक भेजी जाती है। यदि कोई उम्मीदवार हिसाब जमा नहीं कराता है तो उस पर 3 साल तक चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है। आयोग द्वारा यह बैन अगले चुनाव से कुछ पहले लगाया जा सकता है, यानी कि उम्मीदवार आगे का चुनाव चाहकर भी नहीं लड़ सकता।

Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
X
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
Kosli News - haryana news the candidate who spent the highest amount in the election won the candidate the greater the difference between expenses the larger the victory
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना