पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Kurukshetra News Haryana News The Girl39s Family Was Unable To Take Care Despite Two Girls The Woman Adopted A Third Girl

लड़की का परिवार नहीं कर पा रहा था देखभाल, दो लड़कियों के होते हुए भी महिला ने लिया तीसरी लड़की को गोद

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र| इशरगढ़ वासी रजवंत कौर गोद ली बेटी सुखमन कौर के साथ, साथ में आंगनबाड़ी वर्कर अविनाश कौर।

कुरुक्षेत्र | दो लड़कियों के होते हुए एक और लड़की को गोद लेकर गांव ईशरगढ़ की रजवंत कौर ने एक मिसाल पेश की है। रजवंत कौर ने कहा कि लड़के और लड़कियों में आज कोई फर्क नहीं है। मां-बाप की सेवा करने में लड़कियां लड़कों से भी आगे है।

रजवंत कौर ने बताया कि उनके पास प्रवजोत कौर व सूखपाल कौर दो लड़कियां व एक लड़का है। वहीं उन्होंने कुछ समय पहले रिश्तेदारी से एक और लड़की को गोद लिया है जिसका नाम उन्होंने सुखमन कौर रखा है। रजवंत ने बताया कि सुखमन के माता-पिता के पास तीन लड़कियां थी। इससे सुखमन की परवरिश नहीं कर पा रहे थे।

परिवार के सदस्य उसे किसी अनाथ आश्रम में छोड़कर आने को मजबूर थे, लेकिन उन्हें सुखमन को गोद लेकर उसकी परवरिश करने का फैसला लिया। रजवंत ने कहा कि जब से सुखमन उनके घर आई है तब से घर में सुख ही सुख है। आंगनबाड़ी वर्कर अविनाश कौर ने बताया कि रजवंत कौर सुखमन कौर के नाम का पौधारोपण भी करा चुकी है। विभाग की सीडीपीओ प्रियंका, सुपरवाइजर प्रेम लता रजवंत को सम्मानित किया।
खबरें और भी हैं...