• Hindi News
  • Harayana
  • Bhiwani
  • Bhiwani News haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor

न्यूनतम पारा 70, शहर में फिर भी शुरू नहीं हुए रैन बसेरे लोग ठंडे फर्श पर सिर्फ चद्दर में रात गुजारने को मजबूर

Bhiwani News - शहर में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री तक नीचे आ गया है लेकिन प्रशासन ने अभी तक शहर में किसी भी स्थान पर रैन बसेरे स्थापित...

Dec 11, 2019, 07:35 AM IST
Bhiwani News - haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor
शहर में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री तक नीचे आ गया है लेकिन प्रशासन ने अभी तक शहर में किसी भी स्थान पर रैन बसेरे स्थापित नहीं किए है। ऐसे में बाहर से आने वाले यात्रियों व और फुटपाथ पर जिंदगी बिताने वाले असहाय, गरीबों को कड़ाके की ठंड में भी रैन बसेरों का सहारा नहीं मिल पा रहा है।

शहर में अभी तक न तो रेलवे स्टेशन के नजदीक और न ही शहर में अन्य किसी स्थान पर रैन बसेरा शुरू किया है। ऐसे में असहाय, आश्रय विहीन लोग और यात्रियों को रेलवे स्टेशन पर खुले आसमान के नीचे रात गुजारनी पड़ रही हैं।

आश्रय विहीन लोगों और यात्रियों के बैठने व सर्दी से बचाने के लिए पिछले वर्ष रेलवे स्टेशन के नजदीक व रेडक्राॅस में रैन बसेरे बनाए गए थे।

स्टेशन परिसर या प्लेटफार्म पर काटते हैं सर्द रात

रैन बसेरे न खुलने से यात्रियों को रेलवे स्टेशन प्लेट फार्म व परिसर में जैसे तैसे कर सर्दी में रात गुजारनी पड़ रही हैं। इतना ही नहीं स्टेशन के एंट्री स्थान पर लोग फर्श पर लोग रात बिताने काे मजबूर हैं।

ठंड से बचने के प्रबंध नहीं

ऐसे लोगों के लिए रात को ठंड से बचने का कोई उपाय नहीं है। इसी वजह रेलवे स्टेशन के वेटिंग रूम में रात को लोगों की भीड़ लग जाती है। रात गुजारने के लिए सोने का ठिकाना तलाशते रहते हैं।

नप के जिम्मे हैं रैन बसेरे

शहर में रैन बसेरा स्थापित करने की जिम्मेवारी नगरपरिषद की है लेकिन परिषद अधिकारियों की तरफ से अभी तक शहर में रैन बसेरा स्थापित नहीं किया गया है।

भिवानी रेलवे स्टेशन पर इंक्वायरी विंडाें, प्लेटफार्म नंबर एक पर सीढ़ियों के नीचे और स्टेशन के बाहर खुले में चद्दर अाेढ़कर सोते लोग।

रात को गिर जाता है न्यूनतम तापमान

रविवार को अधिकतम तापमान 20 और न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रहा और सोमवार को अधिकतम तापमान 24 और न्यूनतम तापमान 7.2 डिग्री सेल्सियस रहा। इसके बावजूद रैन बसेरों को शुरू नहीं किया गया है।

पिछले वर्ष किए थे चार रैन बसेरे स्थापित

प्रशासन ने पिछले साल जिले में चार स्थानों पर रैन बसेरे स्थापित किए गए थे। इनमें भिवानी, सिवानी, बवानीखेड़ा व लोहारू शामिल थे। इतना ही नहीं बेसहारा लोगों को सर्दी से बचाने के लिए क्लोथ बैंक की शुरूआत भी की गई थी। इसमें रेडक्रॉस के साथ कोई भी सामाजिक संगठन, सामाजिक कार्यकर्ता शहरवासी कंबल गर्म कपड़े दान कर सकता था। भिवानी में पंचायत भवन के पास व रेडक्रॉस भवन में, बवानीखेड़ा में मनीराम की धर्मशाला के नजदीक, लोहारू में डालमिया धर्मशाला नजदीक, सिवानी में पंजाबी धर्मशाला नजदीक पुराना बस स्टैंड क्षेत्र में बसेरे बनाए गए थे।

रैन बसेरे की सुविधा देंगे: रेडक्राॅस सचिव


एक-दो दिन में शुरू कर देंगे


पश्चिमी विक्षोभ से चल रही शीत लहर, इस बार लेट तक रहंेगी सर्दियां

भास्कर न्यूज | भिवानी

पहाड़ों में हो रही बर्फबारी का मैदानी क्षेत्र में साफ असर दिखाई दे रहा है। दिसंबर के पहले सप्ताह से ही ठंड बढ़ने लगी है। रात का पारा 7.0 डिग्री तक पहुंच रहा है। ऐसे में लोगों को लंबी ठंड का सामना करना पड़ेगा।

मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 11 और 12 को पश्चिम विक्षोभ का असर हो सकता है। साथ में धुंध भी दस्तक दे सकती है। ऐसे में दिसंबर में न केवल रात, बल्कि दिन में भी लोगों को कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ सकता है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 22.0 डिग्री और न्यूनतम तापमान 7.0 डिग्री दर्ज किया गया। रात को पारा ज्यादा डाउन आ जाता है। दिन में अाठ किलोमीटर प्रतिघंटा स्पीड से शीत लहर चली। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 11 दिसंबर को पश्चमी विक्षोभ आने का अनुमान है, इस दिन आकाश में बादल छाए रहेंगे। इसके बाद 12 और 13 को प्रदेश में कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है। इस बार पश्चिमी विक्षोभ तेजी से आ रहा है। पहाड़ों में खूब बर्फबारी हो रही है। इसका असर हरियाणा में देखने को मिल रहा है। जल्द ही मौसम अाैर ठंडा होगा तो इस दौरान शीतलहर व धुंध भी असर दिखा सकती है। ऐसे में न केवल रात बल्कि दिन में भी पारा कम होने की संभावना बन सकती है। मौैसम में उतार चढ़ाव बना रहने के कारण इस बार सर्दी थाेड़ी ज्यादा दिनाें तक पड़ेगी।

मौसम अलर्ट

अधिकतम

220

न्यूनतम

70

Bhiwani News - haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor
Bhiwani News - haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor
X
Bhiwani News - haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor
Bhiwani News - haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor
Bhiwani News - haryana news the minimum mercury is 70 yet the city does not start the rain shelters people are forced to spend the night only in the cover on the cold floor
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना