बेटा-बेटी में कोई अंतर नहीं, उन्हें समानता का अधिकार दें

Jhajjar News - महिला एवं बाल विकास विभाग ने बुपनिया गांव में बेटी जन्मोत्सव कार्यक्रम किया। इस दौरान सुपरवाइजर अंजू ने बेटियों...

Dec 11, 2019, 07:36 AM IST
Dulhera News - haryana news there is no difference between son and daughter give them the right to equality
महिला एवं बाल विकास विभाग ने बुपनिया गांव में बेटी जन्मोत्सव कार्यक्रम किया। इस दौरान सुपरवाइजर अंजू ने बेटियों से केक कटवाया। उन्हें उनके जन्मदिवस की बधाई दी। इस मौके पर पौधारोपण कार्यक्रम किया गया। इसमें बेटियों के हाथों से ही पौधे लगवाए। सुपरवाइजर अंजू ने कहा कि वह किसी भी सूरत में बेटा और बेटी में भेदभाव न रखें। दोनों को समानता का अधिकार दें। दोनों को समान आगे बढ़ने के अवसर दें। भ्रूण लिंग की जांच न कराएं। बेटियों को पढ़ा लिखाकर आगे बढ़ने के पर्याप्त अवसर मुहैया कराएं। महिलाओं को बताया कि वर्तमान समय में बेटा-बेटी में कोई अंतर नहीं है। भ्रूण लिंग जांच कराना अपराध है। इसके लिए स्वयं जागरूक हो और अन्य महिलाओं को भी जागरूक करें। मीनू लोहचब ने महिलाओं को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के उद्देश्य बताए। आंगनबाड़ी वर्कर प्रमिला, सीमा, द्रोपदी, सुदेश आदि महिलाएं मौजूद रहीं।

X
Dulhera News - haryana news there is no difference between son and daughter give them the right to equality
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना