• Hindi News
  • Haryana
  • Jind
  • Jind News haryana news this time too people will not get relief from water 50 work of rainy drains is incomplete

इस बार भी पानी से नहीं मिलेगी शहर वासियों को राहत, बरसाती ड्रेन का 50% काम अधूरा

Jind News - शहर वासियों को इस बार भी बरसात के मौसम में जलभराव की समस्या से निजात नहीं मिलेगी। शहर मेें चल रहे बरसाती ड्रेन का 50...

Feb 22, 2020, 08:00 AM IST
Jind News - haryana news this time too people will not get relief from water 50 work of rainy drains is incomplete

शहर वासियों को इस बार भी बरसात के मौसम में जलभराव की समस्या से निजात नहीं मिलेगी। शहर मेें चल रहे बरसाती ड्रेन का 50 प्रतिशत काम अब भी अधूरा है। यह काम जून 2019 में पूरा होना था, लेकिन एनओसी नहीं मिलने के कारण काम अटका रहा। अब दूसरी डेडलाइन को भी मात्र 39 दिन शेष बचे हैं और केवल 50 प्रतिशत ही काम हुआ है।

पिछले दो माह से नया काम भी ठेकेदार ने शुरू नहीं किया है, जिसके चलते अभी 6 माह से ज्यादा समय तक काम पूरा होने की उम्मीद नहीं है और इस बार शहर में न केवल बरसात का पानी भरेगा, बल्कि खुदाई के कारण कीचड़ से भी लोगों की परेशानियां बढ़ेंगी। शहर में खड़े होने वाले पानी से निजात दिलाने के लिए ही सरकार ने अमरूत योजना के तहत शहर में स्टाॅर्म वाटर और सीवरेज लाइन बिछाने का निर्णय लिया। स्टाॅर्म वाटर प्रोजेक्ट के लिए 19 करोड़ 97 लाख 19 हजार 407 रुपए का बजट रखा गया, जबकि सीवरेज के लिए 6 करोड़ 77 लाख का बजट निर्धारित किया गया। 2018 में ही दोनों प्रोजेक्ट शुरू हुए, जिन्हें एक साल में पूरा किया जाना था, लेकिन 20 माह बाद भी स्मार्ट वाटर का काम 50 प्रतिशत ही पूरा हो सका है और बाकी का 50 प्रतिशत काम रोड कट की राशि पीडब्ल्यूडी व एनएचएआई के पास जमा नहीं होने के कारण अटककर रह गया है। स्टाॅर्म वाटर के कार्य की अवधि भी बढ़ाकर 31 मार्च तक कर दी गई थी, लेकिन काम अधर में लटके होने के कारण यह काम भी अगले 6 माह में पूरा होता नहीं दिखता, ऐसे में इस बार भी लोगों को बरसाती पानी से दो-चार होना पड़ेगा। यही नहीं बरसात के पानी के साथ-साथ कीचड़ भी इस बार लोगों की आफत बढ़ाने का काम करेगा। शहर में पाइप डालने के कारण जगह-जगह खुदाई हो चुकी है और अभी भी 50 प्रतिशत एरिया खोदना बाकी है। यदि बरसात के मौसम के दौरान भी काम जारी रहा तो लोगों को भारी परेशानी उठानी होगी। अमरूत योजना के तहत ठेकेदार को जिस रोड की एनओसी या कहे नगर परिषद ने रोड कट की राशि जमा करवा दी थी, वहां काम लगभग पूरा हो चुका है, लेकिन नया काम शुरू नहीं हुआ है। ऐसे में दो माह से काम बंद है। इसके तहत पटियाला चौक से जयंती देवी मंदिर, जयंती देवी मंदिर से रुपया चौक, रुपया चौक से बतख चौक, बतख चौक से एसडी स्कूल, रानी तालाब से बस अड्डा तक पाइप लाइन बिछाई जानी है। इसी प्रकार से देवीलाल चौक से रोहतक रोड तक पाइप लाइन डलनी है, जिसका काम अब तक चालू नहीं हुआ है।

अगले सप्ताह शुरू हो जाएगा काम



रेनी सीजन में होती 310 एमएम बरसात


जींद में पूरे साल में 340 एमएम बरसात दर्ज की जाती है, जबकि बरसात के सीजन में ही 310 एमएम बरसात रिकाॅर्ड हो जाती है। बरसात के चलते हर साल पूरा शहर जलमग्न हो जाता है। बरसाती पानी की निकासी भी अब तक सीवरेज के माध्यम से होती थी, लेकिन शहर की सीवरेज व्यवस्था भी खराब होने के कारण शहर पानी-पानी हो जाता है।


स्टाॅर्म वाटर के तहत 26.9 किमी बिछेगी लाइन


शहर में अमरूत योजना के तहत बरसाती पानी निकासी के तहत पाइप लाइन दबाने का काम 6 जून 2018 को शुरू हुआ था, जो 5 जून 2019 को पूरा होना था। इस योजना के तहत स्टाॅर्म वाटर के तहत 19.60 किलोमीटर लंबी लाइन बिछाई जानी है, जबकि 7300 मीटर लंबी राइजिंग मेन लाइन पंपिंग स्टेशन से कालवा-किनाना ड्रेन तक बिछाई जानी है, लेकिन अब तक केवल 50 प्रतिशत ही काम पूरा हो सका है।

तैयारी अधूरी : जून 2019 में होना था पूरा, फिर दी मार्च की डेडलाइन, दाे माह से ठप है काम

}मिनी बाईपास में जमा गंदा पानी और कीचड़

लेकिन काम अधर में लटके होने के कारण यह काम भी अगले 6 माह में पूरा होता नहीं दिखता, ऐसे में इस बार भी लोगों को बरसाती पानी से दो-चार होना पड़ेगा। यही नहीं बरसात के पानी के साथ-साथ कीचड़ भी इस बार लोगों की आफत बढ़ाने का काम करेगा। शहर में पाइप डालने के कारण जगह-जगह खुदाई हो चुकी है और अभी भी 50 प्रतिशत एरिया खोदना बाकी है। यदि बरसात के मौसम के दौरान भी काम जारी रहा तो लोगों को भारी परेशानी उठानी होगी। अमरूत योजना के तहत ठेकेदार को जिस रोड की एनओसी या कहे नगर परिषद ने रोड कट की राशि जमा करवा दी थी, वहां काम लगभग पूरा हो चुका है, लेकिन नया काम शुरू नहीं हुआ है। ऐसे में दो माह से काम बंद है। इसके तहत पटियाला चौक से जयंती देवी मंदिर, जयंती देवी मंदिर से रुपया चौक, रुपया चौक से बतख चौक, बतख चौक से एसडी स्कूल, रानी तालाब से बस अड्डा तक पाइप लाइन बिछाई जानी है। इसी प्रकार से देवीलाल चौक से रोहतक रोड तक पाइप लाइन डलनी है, जिसका काम अब तक चालू नहीं हुआ है।

19 करोड़ की लागत से शहर में 27.5 किलोमीटर लंबी बिछाई जा रही है बरसाती ड्रेन


जींद. मिनी बाईपास पर जमा गंदा पानी और कीचड़। फोटो |भास्कर

Jind News - haryana news this time too people will not get relief from water 50 work of rainy drains is incomplete
X
Jind News - haryana news this time too people will not get relief from water 50 work of rainy drains is incomplete
Jind News - haryana news this time too people will not get relief from water 50 work of rainy drains is incomplete

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना