तीन बदमाशों ने पहले पर्स चेक किया 50 रुपए मिले तो मार दी पैर में गाेली

Sonipat News - तिहाड़ मलिक व मोहाना गांव के बीच स्कॉर्पियों कार सवार तीन बदमाशों ने बाइक पर सवार होकर अपने गांव नैना तैतारपुर जा...

Sep 14, 2019, 09:02 AM IST
तिहाड़ मलिक व मोहाना गांव के बीच स्कॉर्पियों कार सवार तीन बदमाशों ने बाइक पर सवार होकर अपने गांव नैना तैतारपुर जा रहे युवक को जबरदस्ती रोक लिया। आरोपियों ने युवक का पहले पर्स चेक किया। जब पर्स में 50 रुपए मिले तो इन्हें निकाल जेब में डाल लिया। इसके बाद नाम पूछा अाैर आरोपियों ने युवक के पैर में गोली मार दी। इसके बाद अाराेपी फरार हो गए। घायल होने के बाद युवक ने अपने फोन से भाई को कॉल की और मदद मांगी। इसके बाद परिजन मौके पर पहुंचें और घायल को उपचार के लिए खानपुर मेडिकल कालेज में भर्ती करवाया। पुलिस ने शिकायत पर हत्या प्रयास का केस दर्ज कर लिया है।

परिजनों ने फिलहाल किसी के साथ कोई रंजिश नहीं बताई है। कृष्ण पुत्र चंद्रभान गांव नैना तैतारपुर का रहने वाला है। 12वीं तक पढ़ा कृष्ण हाल में रोहतक शहर के अंदर कोरियर का काम करता है। कृष्ण ने बताया कि वह रोहतक से बाइक पर सवार होकर शाम के समय अपने गांव नैना तैतारपुर जा रहा था। जब वह बाइक लेकर तिहाड़ से मोहाना के बीच पहुंचा तो सामने से एक सफेद रंग की स्कॉर्पियों आई। गाड़ी पर नंबर प्लेट नहीं थी। स्कॉर्पियो सवार आरोपियों ने उसकी बाइक जबरदस्ती रुकवा ली। आरोपियों की संख्या तीन थी। इन्होंने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था। आरोपियों ने आते ही उसका पर्स चेक किया। पर्स में 50 रुपए ही थे। इसके बाद उसका नाम पूछा और फिर गोली मार दी। गोली उसके पैर में लगी। वारदात के बाद आरोपी गाड़ी से फरार हो गए।

बाइक के आगे स्कॉर्पियों अडाकर नाम पूछा और फिर मार दी गोली

सोनीपत . अस्पताल में उपचाराधीन पीड़ित युवक कृष्ण।

घायल के भाई ने कहा- पुलिस शराब ठेकेदार की हत्या से जोड़कर देख रही है मामला

घायल कृष्ण के भाई कप्तान ने आरोप लगाया कि पुलिस भाई को गोली मारे जाने के मामले को गांव के शराब ठेकेदार संजीत की हत्या से जोड़कर देख रही है। संजीत की हत्या हाल ही में गोहाना रोड पर हुई थी। पुलिस ने उन्हें कहा कि जिस गाड़ी में घायल कृष्ण को अस्पताल पहुंचाया गया वह गाड़ी शराब ठेकेदार संजीत की है। जबकि ऐसा कुछ नहीं है। उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं है। उसके भाई कृष्ण की शादी करीब तीन माह पहले ही हुई थी। उनकी किसी के साथ कोई रंजिश नहीं है। पुलिस भाई का मोबाइल लेकर गई और शाम को मोबाइल लौटा दिया। इसके साथ उन्हें वारदात स्थल दिखाने को कहा। जब उन्होंने दिखाया तो कहा गया कि यहां खून तो गिरा हुआ नहीं है। कप्तान ने मामले में निष्पक्ष कार्रवाई करने की मांग की।

अवैध हथियारों के आने पर नहीं रोक पा रही पुलिस

सोनीपत | केूक जिले में अवैध हथियारों से बार-बार वारदात हो रही हैं। हत्या, हत्या प्रयास की तकरीबन वारदात में आरोपी अवैध हथियारों का इस्तेमाल कर रहे हैं। जबकि पुलिस अवैध हथियारों को जिले में आने से पूरी तरह से नहीं रोक पा रही। अवैध हथियार के आसानी से मिलने के कारण जिले में अपराध का ग्राफ भी बढ़ रहा है। हाल ही में शराब ठेकेदार की हत्या, भटाना के युवक पर गोली चलाई गई जो उसके साथी को लगी अंजाम दी गई। अवैध हथियार पकड़े जाने के बाद भी उन आरोपियों को पुलिस ट्रेस नहीं कर पा रही जो इन्हें अवैध हथियार बेच रहे हैं।

मामले की जांच कर रहे हैं


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना