अमेरिका के वैज्ञानिकों ने धान के बीजों का किया निरीक्षण

Karnal News - गांव बरास स्थित प्रगतिशील किसान सरदार गुरचरण सिंह के पूसा बासमती धान के बीज प्लांट पर कृषक सहभागिता बीज उत्पादन...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:20 AM IST
Nising News - haryana news us scientists inspect paddy seeds
गांव बरास स्थित प्रगतिशील किसान सरदार गुरचरण सिंह के पूसा बासमती धान के बीज प्लांट पर कृषक सहभागिता बीज उत्पादन कार्यक्रम के तहत अमेरिका व देश के युवा वैज्ञानिकों की टीम पहुंची। अमेरिका के वैज्ञानिकों में रोनाल्ड रिपेज, सिडनी सेबलसकी, रामभट, अभिषेक देशमुख, विंध्याचल यादव सहित अन्य ने बीज प्लांट पर हाल ही में ईजाद की गई पूसा बासमती धान की रोगमुक्त किस्मों का निरीक्षण किया। जिसमें उन्होंने धान में अनावश्यक घास के पौधों सहित फसल में तेला सहित अन्य बीमारियों के लक्षणों की बारे में जाना, ताकि फसल में तेला आने से बीज की पैदावार व गुणवत्ता प्रभावित न हो। गुरचरण सिंह ने बताया कि फसल में तेला व तनाछेदक कीट दिन में अधिक गर्मी व नमीयुक्त वातावरण में आता है। जो पौधों के तने को चूसकर सूखा देता है। जो अनुकूल मौसम में एक सौ से दाे सौ गुणा अधिक अंडे देता है। जिसकी रोकथाम के लिए किसान बूपरोफेजिन 25 प्रतिशत, थायोनथियोक्सिन व तनाछेदक की रोकथाम के लिए रिजेंट दवा का दाे सौ लीटर पानी में घोल बनाकर स्प्रे करें। गुरपेज सिंह ने बताया कि पूसा बासमती संस्थान का मुख्य उद्देश्य धान की रोग रोधी किस्मों को ईजाद करना है। जिसके लिए उन्होंने बासमती किस्म की 1637,1728 किस्म में झौंका रोग से लड़ने का जीन्स डाला है। जबकि 1718, 1509, पूसा 44, पीआर 114 व बरसीन बीएल 42 किस्मों की जानकारी देते हुए इनको रोग विरोधक तत्व दिए हैं। इन सभी किस्मों में भविष्य में ये बीमारियां नहीं आएंगी। इस मौके पर मनदीप सिंह, वेद प्रकाश शर्मा, सतविंदर रंगा व सुरेंद्र शर्मा अादि मौजूद थे।

X
Nising News - haryana news us scientists inspect paddy seeds
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना