• Hindi News
  • National
  • Gohana News Haryana News Where The Manhole Was To Be Made It Turned Out To Be Forest Land Stopped The Work Of Pressing The Pipeline

जहां बनाना था मैनहोल, वह वन विभाग की जमीन निकली, रुका पाइप लाइन दबाने का कार्य

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सोनीपत रोड पर पाइप लाइन दबाने का कार्य बीच में रुका हुआ है। कार्य बंद होने के पीछे कारण जहां पर सीवर लाइन का मैनहोल बनाने के लिए खुदाई का कार्य किया जाना है, वह जमीन वन विभाग की है। जलापूर्ति विभाग को कार्य करने के लिए वन विभाग से मंजूरी लेनी होगी। विभाग द्वारा जमीन की दोबारा से पैमाइश कराई जाएगी। इस संबंध में एसडीएम ने भी दोनों विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

सोनीपत रोड पर ट्रैंचलेस तकनीक से पाइप लाइन दबाने का कार्य चला हुआ है। एजेंसी ने सोनीपत मोड से वन विभाग कार्यालय तक पाइप लाइन दबाने का कार्य करा दिया है। योजना के अनुसार जलापूर्ति विभाग द्वारा सोनीपत रोड पर वन विभाग कार्यालय के सामने से गली के अंदर पाइप लाइन दबाते हुए लेकर जानी है। गली में मेन होल बनाया जाएगा। इसके लिए जो जमीन चिन्हित की गई है, वह वन विभाग की की है । इस जमीन पर खुदाई करने के लिए पहले वन विभाग से मंजूरी लेनी होगी। वन विभाग के आपत्ति जताने पर जलापूर्ति विभाग ने पाइप लाइन दबाने का कार्य बंद करा दिया है। पाइप लाइन दबाने का कार्य बंद होने से लोगों को असुविधा हो रही है। वाहन चालकों का कहना है कि सड़क पर दिन भर धूल उड़ती रहती है। वहीं वन विभाग कार्यालय के सामने सड़क पर वाहनों का एक ही तरफ से वाहनों का आवागमन होता है।

गड्ढे के आसपास लगे बोर्ड भी हुए गायब


जलापूर्ति विभाग के अधिकारियों ने वन विभाग कार्यालय के सामने सड़क खुदाई का कार्य किया था। जो पिछले करीब एक माह से खुला हुआ पड़ा है। गड्ढे की वजह से कोई हादसा न हो, इसलिए गड्ढे के एक तरफ साइन बोर्ड भी लगाया हुआ था। कार्य बंद होने के बाद यह बोर्ड भी हटा दिया गया है। गोहाना की तरफ से आने वाले वाहन चालक को दूर से गड्ढा दिखाई नहीं देता। वाहन चालकों का कहना है कि इससे सड़क पर हादसा होने की आशंका बनी रहती है। इसलिए विभाग को चेतावनी लिखे बोर्ड रखवाने चाहिए।

गोहाना. सोनीपत पर बंद पड़ा सीवर पाइप लाइन दबाने का कार्य।
खबरें और भी हैं...