मेवात में 48 घंटे से ठप पड़ी हैं इंटरनेट सेवाएं, कारोबार पर बुरा असर

Gurgaon News - भास्कर न्यूज | नूंह/फिरोजपुर झिरका अयोध्या मामले में शनिवार को आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर मेवात में...

Nov 11, 2019, 07:25 AM IST
भास्कर न्यूज | नूंह/फिरोजपुर झिरका

अयोध्या मामले में शनिवार को आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर मेवात में रविवार को भी इंटरनेट सेवाएं बंद रही। लगातार दो दिनों से इंटरनेट सेवा बंद होने के कारण जनजीवन पर नकारात्मक असर पड़ रहा है। मेवात के 10 लाख लोगों को अन्य लोगों से संपर्क टूट गया है। इसका गहरा असर कारोबारियों, व्यापारियों, नौकरी पेशा लोगों पर पड़ रहा है। व्हाट्सप्प, मेल, यूट्यूब, फेसबुक आदि इंटरनेट बंद होने के कारण लोगों को मूलभूत सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं। दुकानों में बिलिंग नहीं हो पा रही है। सोमवार की शाम तक इंटरनेट सेवाएं बहाल होने की आशा है। मेवात में धारा 144 भी लागू है। शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिले में 8 ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं। सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट को के साथ सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं।

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर कोई अप्रिय घटना ना हो, इसके लिए मेवात में रविवार को भी रेड अलर्ट जारी रही। जिलाधीश पंकज ने जिले में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए आपराधिक प्रक्रिया अधिनियम 1973 के तहत धारा 144 लागू किया हुआ है, जोकि 22 नवंबर तक जारी रहेंगे।

ठप रहीं बैंकिंग सेवाएं

मेवात में इंटरनेट सेवाएं भी बाधित कर दी गई हैं। शनिवार की तरह ही रविवार को भी नूंह, फिरोजपुर झरिका, पुन्हाना, तावडू, नगीना में इंटरनेट सेवाएं ठप रही, जिसके चलते लाखों लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। सभी ऑन सेवाएं ठप रही। कनेक्टिविटी नहीं होने के कारण बैंकिंग सेवाएं भी ठप रही। लोग ना तो एटीएम तक से पैसे निकाल पाए और ना ही मनी ट्रांसफर कर पाए। पेटीएम सेवा भी ठप रही, जिसके चलते लोगों आवश्यक वस्तुएं नहीं खरीद पाए। इसका कारोबार पर भी असर पड़ा।

अप्रिय घटनाअाें से निपटने के लिए तैनात फायरकर्मी।

टिकट बुकिंग के लिए जाना पड़ा बाहर: मेवात से हजारों लोग प्रतिदिन रेल और हवाई जहाजों के टिकट की बुकिंग ऑन लाइन ही करते हैं। इंटरनेट सेवा बंद होने कारण इस सेवा के लिए कुछ लोग अलवर गए तो कुछ लोगों से गुड़गांव जाकर इंटरनेट से जुड़े।

स्वास्थ्य सेवा पर भी पड़ रहा है असर

उधर, अस्पतालों में भी आवश्यक सेवाएं प्रभावित रही। इंटरनेट सेवा ठप होने के कारण अस्पतालों में मरीजों को पर्याप्त इलाज नहीं मिल पाया। मरीजों को निराश होकर लौटना पड़ा। सरकारी सुविधाएं भी प्रभावित हुई। लोग आवश्यक सूचनाओं से भी वंचित रहे।

ग्राहकों को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है

फिरोजपुर झिरका के दुकानदार अमन शर्मा व देवीराम ने बताया कि वह शनिवार की तरह रविवार को भी हाथ पर हाथ धारकर बेठे रहे। दो दिनों में उन्हें हज़ारों रुपए का नुकसान हुआ है। ग्राहकों को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। बिलिंग की सुविधा नहीं होने के कारण सामान नहीं मंगवा पाए। रोजागर-धंधा सब ठप हो गया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना