एसडीएम की मध्यस्थता फेल, फिरोजपुर झिरका का बाजार तीसरे दिन भी बंद रहा, 40 हजार लोग परेशान

Gurgaon News - भास्कर न्यूज | फिरोजपुर झिरका धर्म परिवर्तन कराकर युवती से विवाह करने के मामले को लेकर बुधवार को तीसरे दिन भी...

Bhaskar News Network

Aug 22, 2019, 05:30 PM IST
Mewat News - sdm arbitration fails ferozepur jhirka market remains closed for third day 40 thousand people upset
भास्कर न्यूज | फिरोजपुर झिरका

धर्म परिवर्तन कराकर युवती से विवाह करने के मामले को लेकर बुधवार को तीसरे दिन भी फिरोजपुर झिरका में तनाव की स्थिति बनी रही। पूरे दिन बाजार बंद रहे। फिरोजपुर झिरका क्षेत्र के लगभग 40 हजार लोगों के समाने जीवन की समस्या खड़ी हो गई है। लोगों को भोजन के लाले पड़ गए हैं। पेट भरने के लिए लोगों को दूध, सब्जियां, आटा-चावल यहां तक कि नमक भी किल्लत झेलनी पड़ रही है।

दोनों पक्षों ने अलग-अलग पंचायत की। दोपहर बाद एसडीए की अगुवाई में उनके कार्यालय में दोनों पक्षों की संयुक्त बैठक हुई, समस्या का समाधान नहीं निकला। बाजार खोलने को लेकर आपसी सहमति नहीं बन पाई।

लड़की पक्ष की पंचायत में 25 अगस्त को प्रदेश स्तर पर महापंचायत करने और मामले का समाधान नहीं होने पर 29 अगस्त को मेवात जिले में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का बहिष्कार कर काले झंडे दिखाने का निर्णय लिया गया। इस मामले में अप्रिय घटनाओं से निपटने के लिए पूरे क्षेत्र में पुलिस जवान तैनात हैं। दो अलग-अलग धर्मों के युवक-युवती द्वारा कोर्ट मैरेज करने को लेकर उपजे विवाद का बुधवार को तीसरा दिन था। इस मामले को लेकर फिरोजपुर झिरका में बीते 18 अगस्त से सभी बाजार बंद है।

फिरोजपुर झिरका. फिरोजपुर झिरका में जनसंघर्ष समिति द्वारा आयोजित पंचायत में भाग लेते लोग।

अलग-अलग पंचायत

लड़की समाज की तरफ से जनसंघर्ष समिति के बैनर तले लाल कुंआ चौक पर पंचायत हुई जबकि लड़का समाज की तरफ से अमन कमेटी की पहल पर तिगरा मोड़ पर बैठक हुई। लड़का समाज के लोगों ने मामले को शांत करने और बाजार खुलवाने की अपील की, जबकि लड़की समाज के लोग लड़की की बरामदगी और लड़के की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे। पंचायत में मौजिज लोगों ने चेतावनी दी कि उसकी बेटी वापस नहीं आई तो 29 अगस्त को मेवात जिले में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का बहिष्कार का भी निर्णय लिया जाएगा। धरना प्रदर्शन कर रहे सुभाष सिंगला ने बताया कि गुरुवार से आर पार की लड़ाई शुरू होगी, दूसरे समुदाय का बहिष्कार किया जाएगा।

लड़की पक्ष की पंचायत में निर्णय: समाधान न होने पर 29 अगस्त को मेवात में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का बहिष्कार कर काले झंडे दिखाए जाएंगे। क्षेत्र में तनाव के बीच किसी भी उपद्रव से निपटने के लिए पूरे क्षेत्र में पुलिस जवान तैनात हैं।

एसडीएम की मध्यस्थता से नहीं बनी बात | अलग-अलग पंचायत के बाद लगभग 3.30 बजे दोनों पक्षों से 20-20 मौजिज लोगों एसडीएम उपमंडल अधिकारी नागरिक रिंगन कुमार ने अपने कार्यालय पर बुलाया। अमन कमेटी के अध्यक्ष आज़ाद महोम्मद, विधायक नसीम अहमद, जुबेर अलवरी, आलम उर्फ मुंडल, करम इलाही, उमर पाड़ला ने एसडीएम को आश्वासन दिया की लड़की को बहू नहीं बनने दिया जाएगा। डीएसपी अजय कुमार ने कहा कि यदि यदि लड़की कोर्ट में पेश होगी तो जो निर्णय होगा वह सब को मानना होगा। उन्होंने प्रदर्शन को खत्म करके बाजार खोलने की अपील की। मगर, लड़की समाज की तरफ से मौजिज व्यक्तियों में शामिल पूर्व प्रधान अर्जुन देव चावला, दिनेश बंसल, नरेश गर्ग सुनील जैन, राकेश जैन, राजकुमार गर्ग, डॉक्टर महेंद्र गर्ग नहीं माने।

बाजार खोलने पर नहीं बनी सहमति |एसडीएम की मध्यस्थता बैठक से लौटने के बाद लड़की समाज के लोगों ने फिर से बैठक की। बैठक में कुछ बुजुर्गों ने गुरुवार से तीन दिन के लिए बाजार खोलने की अपील की, मगर युवा वर्ग मानने के लिए तैयार नहीं हुआ। बुजुर्गों ने अपील की कि 25 अगस्त को प्रदेश स्तर पर महापंचायत की जाएगी, जिसमें आस-पास के राज्यों से भी सैकड़ों लोग शामिल होंगे। ऐसे में बाहर से आए लोगों के भोजन आदि की व्यवस्था करने के लिए शनिवार तक बाजार खोलना उचित रहेगा, मगर कुछ युवक राजी नहीं हुए।

समिति ने डीसी को सौंपा ज्ञापन, आरोपियों को पकड़ने की मांग

गुड़गांव | जिला नूंह के फिरोजपुर झिरका क्षेत्र में युवक व युवती की शादी के मामले को लव जेहाद का मामला बताकर बुधवार को सामाजिक संस्था संयुक्त हिंदू संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम डीसी को ज्ञापन सौंपकर मांग की कि इस मामले में नामजद आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कर युवती को बरामद किया जाए। संस्था द्वारा दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि गत 14 अगस्त को युवती का अपहरण कर उसका धर्मांतरण करा दिया गया था, जिसे लेकर क्षेत्र में आज भी तनाव बना हुआ है और क्षेत्रवासियों में रोष व्याप्त होता जा रहा है। क्षेत्रवासियों ने जहां राष्ट्रीय राजमार्ग अवरुद्ध कर अपना रोष प्रकट किया था, वहीं पिछले दो दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। एक सप्ताह बाद तक भी पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। संस्था के ब्रह्मप्रकाश, कुलभूषण भारद्वाज, विक्रम तंवर, राजीव मित्तल ने डीसी को स्थिति से अवगत कराते हुए मांग की है कि लड़की को तुरंत बरामद कराया जाए और आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल में डाला जाए।

यदि पुलिस प्रशासन इस दिशा में कोई ठोस कार्रवाई नहीं करता है तो संस्था को मजबूर होकर प्रदेश स्तर पर आंदोलन करना पड़ेगा, जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रदेश सरकार व प्रशासन की ही होगी। ज्ञापन देने वालों में अभिषेक गौड़, सुनीता पांचाल, दिनेश कुमार, सुशील, आशीष, विरेंद्र, भरत सिंह आदि शमिल रहे।

Mewat News - sdm arbitration fails ferozepur jhirka market remains closed for third day 40 thousand people upset
X
Mewat News - sdm arbitration fails ferozepur jhirka market remains closed for third day 40 thousand people upset
Mewat News - sdm arbitration fails ferozepur jhirka market remains closed for third day 40 thousand people upset
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना