यूपी: वाराणसी में काराेबारी ने परिवार के साथ अात्महत्या की

Faridabad News - अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेतुकी बयानबाजी और लगातार ट्वीट करने की आदत से अब उनके करीबी भी परेशान...

Feb 15, 2020, 07:25 AM IST

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की बेतुकी बयानबाजी और लगातार ट्वीट करने की आदत से अब उनके करीबी भी परेशान होने लगे हैं। गुरुवार को अटाॅर्नी जनरल विलियम बिल बर्र भी भड़क उठे। बोले- अगर राष्ट्रपति ट्रम्प बेतुके ट्वीट करना बंद करें तो हम कुछ काम कर सकेंगे। उन्होंने ट्रम्प पर न्याय विभाग के काम में बाधा डालने का आरोप लगाते हुए कहा कि राष्ट्रपति के ट्वीट उनके काम में मुश्किलें पैदा कर रहे हैं। बर्र ने कहा- "मुझे उनके ट्वीट्स से अक्सर परेशानी होती है। उनके लगातार फिजूल के तर्कों काे दिमाग में रखते हुए मैं काम नहीं कर सकता। मुझे लगता है कि उन्हें अब न्याय विभाग के आपराधिक मामलों के बारे में ट्वीट करना बंद कर देना चाहिए।'

बर्र का इंटरव्यू ऐसे समय में आया है, जब ट्रम्प पर पूर्व सलाहकार राेजर स्टोन की सिफारिश में हेरफेर का आरोप लग रहा है। इसके चलते न्याय विभाग के चार अभियोजकों को इस्तीफा देना पड़ा था। बर्र ही एकमात्र शख्स हैं, जो ट्रम्प के बचाव के सबसे बड़े सूत्रधार हैं। वे अगले महीने कांग्रेस में गवाही देंगे। वे स्टोन के लिए कम सजा की मांग कर रहे हैं। पहले उनसे जब पूछा गया था कि क्या ट्रम्प आपके काम में हस्तक्षेप कर रहे हैं, तो उन्होंने इनकार किया था। लेकिन अब वे खुद उन पर दखल का आरोप लगा रहे हैं। इसके चलते अमेरिकी सदन के डेमोक्रेट्स सदस्यों ने ट्रम्प के खिलाफ कड़ा रुख अपना लिया है। मंगलवार को ट्रम्प के दो सहयोगियों बर्र और व्हाइट हाउस के पूर्व वकील मैकहन समेत सभी वफादारों को समन भेजने के प्रस्ताव पर वोटिंग की गई थी। मतदान में 229 में से 191 वोट प्रस्ताव के पक्ष में पड़े। प्रस्ताव के अनुसार न्यायपालिका समिति को दस्तावेजों और गवाही के आधार पर बर्र और मैकहन के खिलाफ अदालत में जाने का अधिकार होगा। विपक्षी ट्रम्प के साथ मैकहन और बर्र को घेरना चाहते हैं, क्योंकि 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में ट्रम्प के लिए जीत की जमीन यही दोनों तैयार करेंगे। ये दोनों उनकी टीम का हिस्सा हैं। बीते साल ट्रम्प ने बर्र को एजी नियुक्त किया था।

एयरसेल-मैक्सिस केस: ईडी, सीबीअाई ने काेर्ट में स्टेटस रिपाेर्ट दाखिल की

एजेंसी | नई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई ने एयरसेल-मैक्सिस मामले की जांच काे लेकर दिल्ली की काेर्ट में स्टैटस रिपोर्ट दाखिल की है। ईडी ने काेर्ट से कहा कि गहन जांच जारी है। सीबीआई ने कहा कि अनुरोध-पत्र मलेशिया भेजा गया है। जवाब का इंतजार है। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया डील मामले के अाराेपी कार्ति चिदंबरम को विदेश जाने की इजाजत दे दी है।

नाैकरियाें में अारक्षण पर सुप्रीम काेर्ट का फैसला सुधारने के लिए अध्यादेश लाए सरकार: पासवान

एजेंसी | नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने शुक्रवार काे कहा कि नाैकरियाें में एससी-एसटी समुदाय के अारक्षण से जुड़े सुप्रीम काेर्ट के हालिया फैसले काे सुधारने के लिए केंद्र सरकार काे अध्यादेश लाना चाहिए। साथ ही उन्हाेंने कहा कि एेसे सभी मामलाें काे न्यायिक समीक्षा से बचाने के लिए नाैंवी अनुसूची में शामिल करना चाहिए। एक इंटरव्यू में पासवान ने बताया कि सरकार सुप्रीम काेर्ट के फैसले के िखलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करने पर भी विचार कर रही है। कानूनी राय ली जा रही है। उन्हाेंने कहा, ‘पुनर्विचार याचिका ताे है, लेकिन मामला फिर अदालत में पहुंच जाएगा। देखना हाेगा कि इसमें सफलता मिलेगी या नहीं। मेरी राय में सबसे अासान तरीका अध्यादेश व संविधान में संशाेधन करना है।’

मुआवजे के लिए बेटी काे आत्महत्या को मजबूर किया

मेरठ में 16 साल की लड़की के अात्महत्या मामले में चाैंकाने वाला खुलासा हुअा है। पुलिस के अनुसार नाबालिग काे उसके परिवार के लाेगाें ने ही मुअावजे के लालच में अात्महत्या के लिए मजबूर किया था।

ट्रम्प के झूठ से उनके अपने भी परेशान, अटाॅर्नी जनरल बोले-वे फिजूल के बयान और ट्वीट बंद करें तो हम कुछ काम कर लें


दैनिक भास्कर से विशेष अनुबंध के तहत

12

 मध्यप्रदेश|छत्तीसगढ़|राजस्थान|नई दिल्ली|पंजाब
चंडीगढ़|हरियाणा|हिमाचल प्रदेश|झारखंड|बिहार

 गुजरात|महाराष्ट्र  महाराष्ट्र

फरीदाबाद, शनिवार 15 फरवरी, 2020

एजेंसी | वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में घाटे से परेशान एक काराेबारी ने परिवार के साथ अात्महत्या कर ली। उनके पास से मिले सुसाइड नाेट में लिखा है, “हमें नींद की दवा खिलाकर सुला देना पापा, इसके बाद गला दबा देना।’ घटना वाराणसी शहर के आदमपुर में शुक्रवार तड़के की है। पुलिस के अनुसार चेतन तुलस‍यान (45) ने तड़के 4:35 बजे डायल 112 पर फोन कर सूचना दी कि वह परिवार के साथ खुदकुशी करने जा रहे हैं। मुश्किल से खोजते हुए पुलिस उनके घर पहुंची तो उनके पिता रविंद्र नाथ ने दरवाजा खोला। पुलिस के पूछने पर रविंद्र नाथ ने बताया कि घर में सब कुछ ठीक है। चेतन के बारे में पूछने पर रविंद्र नाथ ऊपर गए तो कमरे का दरवाजा नहीं खुला। पुलिस दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंची, ताे बेड पर चेतन के बेटे हर्ष (19) और बेटी हिमांशी (17) मृत पड़े थे। दूसरे कमरे में प|ी ऋतु (42) का शव बेड पर था और चेतन फंदे से लटक रहे थे। कमरे में नींद की दवा की शीशी अाैर 12 पेज का सुसाइड नाेट, 22 जनवरी काे तैयार किया गया स्टैंप पेपर पर लिखा एफिडेविट मिला है। वाराणसी में चार महीने में इस तरह की यह दूसरी घटना है। िपछले साल 30 अक्टूबर को कर्ज और बीमारी से परेशान किशन गुप्ता ने प|ी नीलम, बेटी शिखा ओर बेटे उज्जवल के साथ अात्महत्या कर ली थी।

ट्रम्प ने 827 दिन में 10 हजार झूठ बोले, पेंटागन ने उनका बयान पलटा

ट्रम्प को विपक्षी झूठ का पुलिंदा कहते हंै। उन्होंने ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद कहा था कि ‘युद्ध के अपडेट्स के लिए उनका ट्विटर देखते रहें।’ जबकि पेंटागन ने उलट बयान दिया। हाल में नाटो मीटिंग में भी उन्होंने 21 बार झूठे दावे किए। राष्ट्रपति कार्यकाल के दूसरे साल में ट्रम्प ने 827 दिन में 10 हजार झूठ बोले। पहले पांच हजार 601 दिन में, फिर इसकी रफ्तार 3 गुना बढ़ गई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना