• Hindi News
  • Tech auto
  • Auto news
  • Bajaj Chetak | Bajaj Chetak Scooter History Old Information Updates: Almost Everything You Need to Know About [Bajaj Chetak Scooter

फ्लैशबैक / भारतीय सड़कों पर 1972 में पहली बार दौड़ा था चेतक, लोग कहने लगे थे 'हमारा बजाज'

Bajaj Chetak | Bajaj Chetak Scooter History Old Information Updates: Almost Everything You Need to Know About [Bajaj Chetak Scooter
X
Bajaj Chetak | Bajaj Chetak Scooter History Old Information Updates: Almost Everything You Need to Know About [Bajaj Chetak Scooter

  • इसका डिजाइन वेस्पा स्प्रिंट से और नाम महाराणा प्रताप के घोड़े चेतक से लिया था
  • 1977 में कंपनी ने पहली बार चेतक की 1 लाख यूनिट बेची थीं

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 11:57 AM IST

ऑटो डेस्क. भारतीय ऑटो बाजार में बजाज चेतक की आज फिर से वापसी हो चुकी है। 70, 80 और 90 के तीन दशकों तक इस स्कूटर ने बाजार के साथ लोगों के दिलों पर भी राज किया है। 2000 के बाद ये नए जमाने के स्कूटर्स के साथ दौड़ में पीछे रहने लगा। 2005 में कंपनी ने इसके प्रोडक्शन पर रोक लगा दी। हालांकि, 14 साल बाद एक बार फिर ये लोगों के दिलों पर राज करने के लिए तैयार है। इसकी वापसी इलेक्ट्रिक वैरिएंट के साथ हुई है। तो चलिए चेतक की वापसी पर इसके इतिहास पर एक बार फिर नजर डालते हैं।

बजाज ऑटो ने चेतक को 1972 में भारतीय सड़कों पर उतारा था। इसका डिजाइन वेस्पा स्प्रिंट से और नाम महाराणा प्रताप के घोड़े चेतक से लिया था। 1972 में चेतक की 1000 यूनिट का लॉट बाजार में आया था और इसकी कीमत 8 से 10 हजार के बीच थी। लॉन्चिंग के साथ ही ये भारतीय बाजार में हिट हो गया और देखते ही देखते इसकी डिमांड बढ़ती चली गई। बढ़ती लोकप्रियता के चलते कंपनी ने इसे 'हमारा बजाज' की टैग लाइन दे दी। पहले इसकी डिलीवरी के लिए 3 महीने का इंतजार करना पड़ता था। वहीं, कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो एक वक्त ऐसा भी आया था जब इसकी डिलीवरी के लिए 20 महीने का इंतजार भी करना पड़ा।

1977 में कंपनी ने पहली बार चेतक की 1 लाख यूनिट बेचीं। वहीं, 1986 में ये आंकड़ा 8 लाख पहुंच गया। चेतक की कामयाबी का ये नया रिकॉर्ड था। 90 के दशक में भी इसकी डिमांड कम नहीं हुई। कंपनी ने इस दौरान लगातार कई महीने 1 लाख यूनिट बेचीं। 2002 में चेतक की कीमत करीब 27 हजार रुपए थी, जो 2005 तक करीब 31 हजार तक पहुंच गई। चेतक की बढ़ती कीमतों का असर इसकी बिक्री पर होने लगा। वहीं, दूसरी तरफ एक्टिवा की मार्केट में पकड़ मजबूत होती चली गई। इस रेस में आखिरकार चेतक पीछे रह गया और 2005 में कंपनी ने इसका प्रोडक्शन बंद कर दिया।

14 साल बाद यानी 2019 में बजाज ऑटो लिमिटेड के अध्यक्ष राहुल बजाज ने चेतक की वापसी का एलान किया। इस बार कंपनी ने क अवइसका इलेक्ट्रितार दिखाया। साथ ही, इसे स्टाइलिश और नई जनरेशन की जरूरत के हिसाब से बनाया। अब चेतक नए अवतार में एक बार फिर भारतीय बाजार में आ चुका है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना