पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Tech auto
  • Google Testing Search Feature That Will Show Short Videos From TikTok, Instagram

गूगल का अपकमिंग फीचर:अब गूगल मोबाइल ऐप पर ही देख सकेंगे टिकटॉक-इंस्टाग्राम के वीडियो, फीचर फिलहाल टेस्टिंग फेज में

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नया फीचर गूगल मोबाइल ऐप पर इंस्टाग्राम और टिकटॉक से शॉर्ट वीडियो इकट्ठा करेगा
  • फिलहाल टेस्टिंग अपने प्रारंभिक चरण में है और केवल कुछ यूजर्स तक सीमित है

गूगल एक नए शार्ट वीडियो फीचर की टेस्टिंग कर रहा है, जो गूगल मोबाइल ऐप पर इंस्टाग्राम और टिकटॉक से शॉर्ट वीडियो इकट्ठा करेगा। टेकक्रंच की एक रिपोर्ट के अनुसार, इस कदम से उन टेक दिग्गजों को मदद मिलेगी, जो शॉर्ट वीडियो की तलाश में इंस्टाग्राम और टिकटॉक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जाते हैं।

गूगल के एक प्रवक्ता ने वेबसाइट पर पुष्टि की कि शॉर्ट वीडियो फीचर को मोबाइल डिवाइस पर संचालित किया जा रहा है, जिसका अर्थ है कि टेस्टिंग अपने प्रारंभिक चरण में है और केवल कुछ यूजर्स तक सीमित है।

"दूसरे शब्दों में, आपने अभी तक हर सर्च क्वेरी पर वीडियो कैरोसेल (carousel) नहीं मिलता है। लेकिन समय के साथ, जैसा कि गूगल उत्पाद को बढ़ाता है, यह सोशल मीडिया से टॉप वीडियो कंटेंट को इंडेक्सिंग और सरफेसिंग के लिए एक दिलचस्प टूल बन सकता है, जब तक निश्चित रूप से प्लेटफॉर्म गूगल को ऐसा करने से रोकेगा।" इस साल की शुरुआत में, गूगल ने अपने सर्च टैब के भीतर "शॉर्ट वीडियो" कैरोसेल पेश किया और नए 'शॉर्ट वीडियो' टेस्ट पिछले फीचर को एक्सपेंड करता है।

पहले ट्रेल-टैंगी और यूट्यूब तक सीमित था फीचर
गूगल का शार्ट वीडियो फीचर को पहले ट्रेल और गूगल की अपनी टैंगी और यूट्यूब से वीडियो इकट्ठा करने पर फोकस किया गया था। हालांकि, नई टेस्टिंग में टिकटॉक और इंस्टाग्राम वीडियो भी शामिल हैं। यह पहली बार सर्च इंजन राउंडटेबल (ब्रायन फ्रीस्लेबेन के ट्वीट के माध्यम से) द्वारा देखा गया था। वेबसाइट ने कैरोसेल का स्क्रीनशॉट पोस्ट किया जिसमें टिकटॉक के दो और इंस्टाग्राम के एक वीडियो थे।

यूट्यूब ने भी शॉर्ट्स लेकर आया था
गूगल की टैंगी, जो इस साल की शुरुआत में लॉन्च की गई थी, एक शार्ट वीडियो प्लेटफॉर्म है जो शॉर्ट वीडियो होस्ट करता है, मुख्य रूप से लोगों को रचनात्मक कौशल जैसे खाना पकाने, बेकिंग, पेंटिंग इत्यादि सीखने में मदद करता है। इस बीच, यूट्यूब शॉर्ट वीडियो के विचार के साथ भी प्रयोग कर रहा है। सितंबर 2020 में भारत में यूट्यूब शॉर्ट्स का एक प्रारंभिक बीटा जारी किया गया। यह यूजर्स को 15 सेकंड या उससे कम के वीडियो अपलोड करने देता है।

क्लिक करते ही प्लेटफॉर्म के वेब वर्जन पर पहुंचेगा यूजर
दिलचस्प बात यह है कि शॉर्ट वीडियो में से किसी एक पर क्लिक करने से यूजर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के वेब वर्जन पर पहुंच जाता है, न कि ऐप पर। भले ही ऐप यूजर के डिवाइस पर इंस्टॉल हो। स्पष्ट रूप से, गूगल चाहता है कि वीडियो देखने के बाद यूजर अपने सर्च रिजल्ट पेज पर वापस आएं।