पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खर्राटे कितना तेजी से लेते हैं वॉच से पता चलेगा:तीन कैटेगरी में बताता है शोर को, अब सोते समय भी कंपनी का स्मार्ट बैंड ऐप जानकारी देगा

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सुबह उठते ही कोई कहे कि तुम्हारे खर्राटे ने आज मुझे सोने नहीं दिया। तो ऐसा लगता है कि यह झूठ बोल रहा है। दरअसल होता यह है कि हम नींद में खर्राटे भी लेते हैं तो पता ही नहीं चलता। कई बार खर्राटे को रोकने के लिए कई तरह की दवाइयां ली जाती हैं।टेक्नोलॉजी के फील्ड की कंपनियां भी खर्राटे को रोकने के लिए रिसर्च कर रही हैं। जिसमें स्मार्ट वियरेबल डिवाइस बनाने वाली कंपनी Fitbit भी शामिल है। जिसने एक ऐसा स्मार्ट वॉच और स्मार्टबैंड बनाया है जो खर्राटे की पूरी जानकारी रिकॉर्ड करेंगे।

नए अपडेट के साथ प्ले स्टोर पर ऐप हुआ रिलीज

यह फीचर Fitbit के ऐप में जल्द ही आने वाला है। Fitbit ऐप का 3.42 वर्जन गूगल प्ले-स्टोर पर रिलीज हो गया है। जिसके साथ स्लीपिंग पैटर्न को मॉनिटर करने का दावा किया गया है। अब Fitbit से पता चलेगा कि आप रात में अच्छी नींद ले रहे हैं या नहीं। नए अपडेट के बाद ऐप में खर्राटे को और न्वाइज का पता लग जाएगा। इसे ऑन करने के बाद स्मार्ट वॉच में लगा माइक्रोफोन ऑन हो जाएगा। ये माइक्रोफोन इस बात का पता लगा लेगा कि आप कितनी जोर से खर्राटे लेते हैं।

कमरे में ज्यादा शोर होने पर यह काम नहीं करेगा

सोते वक्त Fitbit के फिटनेस बैंड का माइक्रोफोन को नॉइस मॉनिटर करने के लिए बनाया गया है। कहा जा रहा है कि यह खर्राटे की आवाज को भी कैप्चर करेगा। जब न्वाइज बेसलाइन से अधिक होगा तो माइक्रोफोन इसकी जांच करना शुरू कर देगा। पता लगाएगा कि आवाज खर्राटे की है या बाहरी शोर है। कमरे में आने वाली बाहरी आवाज खर्राटे से अधिक होगी तो यह फीचर काम नहीं करता है।

तीन कैटेगरी में बताएगा कितनी तेज खर्राटे लेते हैं

खर्राटे की रिपोर्ट को Fitbit का ऐप तीन कैटेगरी में देता है। पहला None to mild इसका मतलब यह है कि सोते वक्त आप महज 10 प्रतिशत ही खर्राटे लेते हैं। दूसरा मॉडरेट (Moderate) 10 से 40 प्रतिशत और तीसरा Frequent - 40 प्रतिशत से अधिक है। ये तीनों प्रतिशत आपके सोने के पूरे वक्त के हिसाब से होगा। यदि आप और आपका पार्टनर दोनों खर्राटे लेते हैं, तो ये रिजल्ट गलत हो सकते हैं।

खबरें और भी हैं...