पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Tech auto
  • HP India Report Claims, Gaming Becomes First Choice For Career In Lockdown, More Than 92% People Believe Gaming Reduces Stress

भारत में गेमिंग को कैरियर बनाना चाहते हैं लोग:HP इंडिया की रिपोर्ट का दावा, लॉकडाउन में गेमिंग बना करियर के लिए पहली पसंद, 92% से ज्यादा लोगों का मानना गेमिंग टेंशन कम करता है

नई दिल्ली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भारत में ऑनलाइल गेंमिग को करियर के रूप में देखने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। यह दावा टेक्नोलॉजी फील्ड की HP इंडिया कंपनी ने बुधवार को आई रिपोर्ट में किया है। इसमें पाया गया है कि 90 प्रतिशत लोगों का मानना है कि गेमिंग इंडस्ट्री अच्छा कैरियर ऑप्शन हो सकता है।

HP इंडिया गेमिंग लैंडस्केप की सर्वे रिपोर्ट में 1,500 लोगों को शामिल किया गया है। जिनकी उम्र 14 से 40 वर्ष थी। सर्वे को मार्च और अप्रैल के बीच भारत की 25 मेट्रो सिटी में कराया गया। इसे दो फेज में कराया गया है। जिसमें 72 प्रतिशत पुरुषों और 28 प्रतिशत महिलाओं को शामिल किया गया है। इसमें उन लोगों से सवाल पूछें गए जो कंप्यूटर और मोबाइल यूजर्स थे। जो एक्शन और एडवेंचर वाले गेम अपने पीसी और स्मार्टफोन पर खेलते थे।

88 प्रतिशत स्कूल स्टूडेंट्स गेमिंग में करियर बनान चाहते हैं

रिपोर्ट के अनुसार पश्चिम भारत की महिला और 1990 से 2010 बीच में जन्म लेने(Gen- Z) वाले टायर I में सबसे ज्यादा गेमिंग में कैरियर की चाह दिखी। लगभग 84 प्रतिशत महिलाओं का कहना था कि वह गेमिंग को कैरियर की तरह अपनाना चाहती हैं। साथ इसमें 80 प्रतिशत पुरुष उनमें 1965 से 1980 के बीच जन्म लेने वाले( Gen X) 91 प्रतिशत और स्कूल स्टूडेंट्स में 88 प्रतिशत शामिल हैं। टियर 2 में शहर के 84 प्रतिशत लोगों ने जबकि 78 प्रतिशत मेट्रो सिटी के लोगों ने गेमिंग में करियर बनाना चाहते हैं।

लोगों का मानना गेमिंग से टेंशन कम होती है

92 प्रतिशत से ज्यादा लोगों का मानना है कि गेमिंग से काम और पढाई की टेंशन कम होती है। साथ ही तनाव कम होने से पॉजिटिव सोच बढ़ती है। जबकि 91 प्रतिशत लोगों का मानना था कि गेमिंग से अटेंशन और कंसंट्रेशन बढ़ता है।

मोबाइल की जगह लैपटॉप में गेमिंग करना पहली पसंद

रिपोर्ट में यह भी पाया गाया कि 89 प्रतिशत लोगों ने गेमिंग के लिए मोबाइल की जगह PC को पसंद किया है। उनका मानना था कि मोबाइल के मुकाबले लैपटॉप या PC में गेमिंग करना ज्यादा आसान है। लगभग 37 प्रतिशत गेम खेलने वाले लोग स्मार्टफोन को छोड़ कर PC की तरफ जा रहे हैं। ताकि गेमिंग के एक्सपीरियंस बढ़ सके। इनको पसंद करने वालों में जेन X और जेन Z में 70% लोग शामिल थे। जबकि गेमिंग को कम पसंद करने वाले में भी 75 प्रतिशत लोगों ने लैपटॉप में गेमिंग करना पसंद किया।

लॉकडाउन की वजह से गेंमिग का क्रेज बढ़ा

HP इंडिया मार्केट के मैनेजिंग डायरेक्टर का कहना है कि लोग घर में ज्यादा समय बिता रहे हैं जिसकी वजह से गेम खेलने वालों की संख्या अचानक बढ़ी है। कस्टमर समाज से जुड़ने और तनाव को कम करने के लिए मनोरंजन के नए तरीके अपना रहे हैं। लोग अब गेमिंग के लिए मोबाइल से लैपटॉप की तरफ आ रहे हैं। जिससे हमारे बिजनेस को बड़ा करने में मदद मिलेगी।

खबरें और भी हैं...