पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रद्द नहीं हुई है एपल-किआ की बातचीत:दोनों कंपनियों के बीच साझेदारी की संभावना अब भी बाकी; 2025 तक आ सकती है एपल कार

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एपल अपनी कार में LiDAR तकनीक को शामिल कर सकती है, जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फंक्शनंस में सटीकता प्रदान करती है। (डेमो इमेज) - Dainik Bhaskar
एपल अपनी कार में LiDAR तकनीक को शामिल कर सकती है, जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फंक्शनंस में सटीकता प्रदान करती है। (डेमो इमेज)
  • इससे पहले ही हुंडई-किआ ने कहा था कि वे ई-कार प्रोजेक्ट में एपल से साझेदारी नहीं कर रहे हैं
  • रिपोर्ट्स के मुताबिक, एपल कार में आई-ट्रैकिंग समेत कई एआई बेस्ड फीचर्स मिल सकते हैं

कुछ समय पहले ही हुंडई मोटर ने अपने सहयोगी कंपनी किआ मोटर्स के साथ कहा था कि वे इलेक्ट्रिक कार प्रोजेक्ट के लिए एपल के साथ बातचीत नहीं कर रहे हैं। हाल ही में एक साउथ कोरियाई न्यूज साइट ने यह दावा किया है कि एपल के साथ किआ की साझेदारी अभी भी संभव है। दावा किया गया है कि एपल के साथ बातचीत पूरी तरह से रद्द नहीं हुई है।

दक्षिण कोरियाई समाचार साइट चोसुन बिज ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि एपल और किआ ने पिछले साल एक एमओयू साइन किया था, जिसमें इलेक्ट्रिक वाहनों समेत आठ क्षेत्रों में साझेदारी को आगे बढ़ाने पर सहमति की गई थी।

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है, "अगर इलेक्ट्रिक वाहनों पर बातचीत रद्द भी हो जाती है, तो भी कई चीजों पर बातचीत जारी रह सकती है, इसलिए हम दोनों पक्षों के बीच साझेदारी की संभावना के बारे में अभी भी आशावादी हैं।" इसके अलावा, किआ और एपल "लास्ट माइल" मोबिलिटी में साझेदारी पर भी चर्चा कर रहे हैं, जो किआ के इलेक्ट्रिक स्कूटर से जुड़ा है।

हुंडई के प्लेटफॉर्म पर बनेगी पहली एपल कार
रिपोर्ट के मुताबिक, पहली एपल इलेक्ट्रिक कार को हुंडई के इलेक्ट्रिक वाहन प्लेटफॉर्म पर बनाए जा सकता है। शुरुआती मॉडल में जनरल मोटर्स और यूरोपीय निर्माता पीएसए के साथ मिलकर नए वाहनों को बनाया जा सकता है।

2025 तक ही बाजार में आ पाएगी एपल कार
सिक्योरिटीज एनालिस्ट मिंग-ची कूओ ने बताया कि वर्तमान वाहन निर्माता (हुंडई ग्रुप, जनरल मोटर्स और पीएसए) के साथ एपल की गहरा साझेदारी है। इन कंपनियों के पास बड़े डेवलपमेंट, प्रोडक्शन और योग्यता का अनुभव है। इससे एपल कार का तैयार करने के समय को काफी कम किया जा सकेगा और समय से बाजार में उतारा जा सकेगा। कूओ का मानना ​​है कि एक एपल कार बाजार 2025 तक ही आ पाएगी है।

कई एडवांस्ड फीचर्स देखने को मिल सकते हैं
रिपोर्ट के मुताबिक, एपल अपनी कार में LiDAR तकनीक को शामिल कर सकती है, जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फंक्शनंस में सटीकता और गहराई प्रदान करती है। वाहन में ए-बायोनिक प्रोसेसर पर आधारित "C1" चिप का उपयोग किया जा सकता है, जिससे इन-केबिन एआई क्षमताओं जैसे कि आई-ट्रैकिंग जैसी सुविधाएं दी जा सकेगी।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

और पढ़ें