• Hindi News
  • Tech auto
  • Telegram Video Calls| Like WhatsApp And Facebook, Telegram Will Also Soon Recieve Group Call Features, Company Claims Users Data Will Be Completely Safe

टेक:वॉट्सऐप और फेसबुक की तर्ज पर टेलीग्राम में भी जुड़ेगा ग्रुप कॉल फीचर, कंपनी का दावा- यूजर्स का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा

नई दिल्ली2 वर्ष पहले
  • टेलीग्राम के ग्लोबली 40 करोड़ यूजर्स हैं, ग्रुप वीडियो कॉल में कितने लोग शामिल हो सकेंगे इस पर कंपनी ने सफाई नहीं दी
  • यह फीचर जूम को चुनौती देगा, जूम ऐप में 500 यूजर्स तक एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर सकते हैं

वॉट्सऐप और इंस्ट्राग्राम के तर्ज पर अब टेलीग्राम में भी वीडियो कॉलिंग फीचर जुड़ने वाला है। कंपनी का कहना है कि इसे जल्द ही लॉन्च किया जाएगा और इसमें यूजर्स का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा, इसके डेटा पर कोई थर्ड पार्टी एक्सेस नहीं कर पाएगी। इसे कब लॉन्च किया जाएगा और ग्रुप कॉल में कितने यूजर्स शामिल हो सकेंगे, इसे लेकर फिलहाल कंपनी ने कोई सफाई नहीं दी है। लॉकडाउन में ग्रुप वीडियो कॉलिंग का क्रेज काफी बढ़ रहा है। ऑफिस का काम और दोस्तों से बात करने के लिए लोग वीडियो कॉलिंग ऐप का सहारा ले रहे हैं। इसी को देखते हुए टेलीग्राम ने ऐप में यह फीचर जोड़ने का ऐलान किया है। टेलीग्राम का वैश्विक स्तर पर 40 करोड़ यूजर्स हैं।

कई कंपनियों ने लॉन्च किया वीडियो कॉलिंग फीचर
दरअसल लॉकडाउन के दौरान वीडियो कॉलिंग ऐप जूम काफी फेमस हुआ था, इसके फ्री वर्जन में 100 यूजर्स तो पेड वर्जन में 500 यूजर्स एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जुड़ सकते हैं। जूम ऐप के विवादों में आने के बाद मौके का फायदा उठाने के लिए कई ऐप ने ग्रुप वीडियो कॉलिंग का फीचर अपने प्लेटफार्म में शामिल कर लिया। फेसबुक मैसेंजर ऐप में नया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग फीचर मैसेंजर रूम्स जोड़ा है। मैसेंजर रूम्स से एक साथ 50 लोग से असीमित समय के लिए वीडियो कॉलिंग कर सकेंगे। हालांकि जूम ऐप के फ्री वर्जन में 100 लोगों को एक साथ अधिकतम 40 मिनट तक वीडियो कॉलिंग करने की सुविधा मिलती है। फेसबुक मैसेंजर रूम्स में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस इनेबल्ड वर्चुअल बैकग्राउंड होगा। साथ ही इसमें कई वर्चुअल रियलिटी इफेक्ट्स भी मिलेंगे। इसके अलावा वॉट्सऐप और गूगल डुओ में भी अपने ग्रुप कॉलिंग फीचर में प्रतिभागियों की संख्या को बढ़ा दिया है।

जूम ऐप की प्राइवेसी पर उठे सवाल
बता दें कि लॉकडाउन के दौरान जूम ऐप वीडियो कॉलिगं के लिए काफी पॉपुलर हो रहा है। लेकिन भारत समेत दुनियाभर की कई सरकारों ने इसे इस्तेमाल न करने के लिए सलाह दी है। दरअसल जूम ऐप पर लोगों के प्राइवेट डेटा को बेचने के आरोप लग चुके हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, 21 अप्रैल तक जूम ऐप इस्तेमाल करने वालो का आंकड़ा 30 करोड़ यूजर्स के पार पहुंच गया था। अप्रैल की शुरुआत में डेली यूजर्स की संख्या 20 करोड़ थी, यानी प्राइवेसी और सिक्योरिटी को लेकर विवादों में रहने के बाद भी यूजर्स की संख्या में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। जूम ऐप के पेड वर्जन में 500 यूजर्स वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल हो सकते हैं। जूम ऐप के फ्री वर्जन में 100 यूजर्स और पेड वर्जन में 500 यूजर्स एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...