मर्सिडीज AMG A45 S लॉन्च:ये देश में मिलने वाली सबसे पावरफुल हैचबैक, 421 हॉर्सपावर की ताकत के बराबर इसका इंजन

नई दिल्ली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मर्सिडीज बेंज इंडिया ने भारतीय बाजार में अपनी लग्जरी हैचबैक मर्सिडीज AMG A45 S को लॉन्च कर दिया है। इसकी एक्स-शोरूम कीमत 79.50 लाख रुपए है। ये भारत में मिलने वाली सबसे शक्तिशाली हैचबैक हो गई है। इसमें 421 हॉर्स पावर वाला इंजन दिया है। नई AMG A45 S रेगुलर A-क्लास की तुलना में काफी चौड़ी दिखती है।

मर्सिडीज AMG A45 S का एक्सटीरियर
इसमें क्रोम के हॉरिजोंटल बार्स के साथ नियमित मर्सिडीज ग्रिल नहीं लगाया गया है। इसमें ग्रिल को फ्लैंक करते हुए ए-क्लास के कोणीय हेडलैंप दिए हैं। बोनट के नीचे लगाए गए दमदार इंजन को ठंडी हवा पहुंचाने के लिए बड़े एयर इंटेक के साथ फिर से काम किया गया फ्रंट एप्रन शामिल है। कोर को बड़े पैमाने पर फ्लेयर्ड व्हील आर्च के साथ फिट किया है जो कि आकर्षक फोर्ज्ड अलॉय व्हील्स की मेजबानी करते हैं जो काले रंग में फिनिश किय गए हैं और मिशेलिन टायर्स के साथ आते हैं। बड़े हवादार डिस्क ब्रेक के लिए ब्रेक कैलिपर लाल रंग में फिनिश किए गए हैं। साथ ही सामने के पंखों पर टर्बो 4Matic+ बैजिंग भी दिखाई दे रही।

मर्सिडीज AMG A45 S का इंटीरियर

इसमें रेगुलर A-क्लास का इंटीरियर डिजाइन दिया गया है। डैशबोर्ड पर ड्राइवर के इंस्ट्रूमेंटेशन के ट्विन डिस्प्ले और MBUX पावर्ड इंफोटेनमेंट सेटअप का दबदबा है। इंफोटेनमेंट डिस्प्ले को ट्रांसमिशन टनल के ऊपर लगाए गए ट्रैकपैड के साथ या स्टीयरिंग व्हील से कंट्रोल किया जा सकता है। यदि आप टचस्क्रीन डिस्प्ले को छूकर वास्तव में ऊब गए हैं। इंफोटेनमेंट सिस्टम वॉयस कमांड का भी जवाब देता है जो 'Hey Mercedes' शब्द को बोल कर दिए जा सकते हैं।

मर्सिडीज AMG A45 S का इंजन

इसमें 2.0-लीटर इंजन दिया है, जो 4 6,750 आरपीएम पर 421 हॉर्सपावर और 5,000 से 5,250 आरपीएम 500 न्यूटन मीटर का अधिकतम टॉर्क प्रदान करता है। इस इंजन को 8-स्पीड ड्यूल-क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स से जोड़ा गया है जो चारों पहियों को पावर भेजता है। ये 0-100 किमी/घंटा से केवल 3.9 सेकेंड में और 278 किमी/घंटा की टॉप स्पीड पर पहुंच जाती है। कार में 6 ड्राइविंग मोड हैं। इंजन को 8-स्पीड डुअल-क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स से जोड़ा गया है। इंजन अभी भी ट्रांसवर्सली माउंटेड है, जिसे 180 डिग्री घुमाया गया है। इंटेक अब सामने की ओर हैं जबकि एग्जॉस्ट पोर्ट और टर्बोचार्जर फायरवॉल का सामना करते हैं।