• Hindi News
  • Tech auto
  • Naukri Job; Top Employment Generating Sectors; Talent Trends 2021 Report On Hiring Activity In India | Everything You Need To Know

नया हायरिंग प्लान:53% कंपनियां इस साल स्टाफ बढ़ाएंगी, सबसे ज्यादा भर्तियां टेक्नोलॉजी कंपनियों में होगी

नई दिल्लीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी से जूझने के बाद अब अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर आ रही है। इसलिए कंपनियां भी नई हायरिंग के प्लान बना रही हैं। प्रोफेशनल रिक्रूटमेंट सर्विस फर्म माइकल पेज ने एक रिपोर्ट में बताया कि 53% भारतीय कंपनियां स्टाफ बढ़ाने पर विचार कर रही हैं। 2020 में हायरिंग 18% गिर गई थी।

ई-कॉमर्स कंपनियां 12% और लोगों को रखेंगी
सबसे ज्यादा भर्तियां टेक्नोलॉजी कंपनियों में होने की उम्मीद है। सर्वे में शामिल 74% टेक कंपनियों ने कहा कि वे स्टाफ की संख्या बढ़ाएंगी। इसमें औसतन 14% बढ़ोतरी की उम्मीद है। 68% ई-कॉमर्स कंपनियां स्टाफ की संख्या 12% बढ़ाएंगी। इसी तरह 44% कंस्ट्रक्शन कंपनियों का इरादा 10% और कर्मचारी रखने का है।
एप्लीकेशन इंजीनियर और चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर की डिमांड सबसे ज्यादा होगी। वर्चुअल गेमिंग में ऑगमेंटेड रियलिटी (एआर) और मिक्स्ड रियलिटी (एमआर) का उपयोग बढ़ाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और मशीन लर्निंग में माहिर प्रोफेशनल्स को प्राथमिकता मिलेगी।

सैलरी बढ़ाने के साथ बोनस भी देंगी कंपनियां
रिपोर्ट के अनुसार, 60 फीसदी कंपनियां सैलरी बढ़ाने पर विचार कर रही हैं, जबकि 55% बोनस देने को भी तैयार हैं। इनमें से 43% कंपनियां एक महीने की सैलरी से ज्यादा बोनस देंगी। हेल्थकेयर सेक्टर में 8% औसत के साथ सबसे ज्यादा इंक्रीमेंट मिलने की उम्मीद है। एफएमसीजी में 7.6% और ई-कॉमर्स/ इंटरनेट सर्विस सेक्टर में 7.5% इंक्रीमेंट मिलेगा।

कामकाज बंद करने वाली कंपनियां भी वापस लौटीं
रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसी कंपनियां जिन्हें महामारी के दौरान अपना कामकाज बंद करना पड़ा था, वे भी अब वापसी कर चुकी हैं। वे बड़े पैमाने पर हायरिंग कर रही हैं। दिलचस्प बात यह है कि स्टडी में शामिल 47 टेक कंपनियां दूर बैठकर और जब चाहे काम करने जैसी व्यवस्था पर फोकस कर रही हैं।

भारत समेत 12 एशिया-पैसेफिक मार्केट पर हुआ सर्वे
फर्म ने सर्वे में भारत समेत 12 एशिया-पैसेफिक मार्केट की 5500 कंपनियों और 2100 कर्मचारियों का शामिल किया। जिन लोगों से बात हुई उनमें 3500 ज्यादा डायरेक्टर लेवल के थे। माइकल पेज इंडिया की डायरेक्टर वर्षा बरुआ ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में रिकवरी के साथ, ज्यादातर टेक कंपनियां इस साल अपना स्टाफ बढ़ा सकती हैं। कई सेगमेंट में डिमांड कोरोना से पहले की स्थिति पर पहुंच गई है, इसलिए कंपनियों में अच्छे प्रोफेशनल्स को हायर करने की प्रतिस्पर्धा रहेगी।