• Hindi News
  • Tech auto
  • Reliance Retail Says India's First Roof Top Drive In Theatre To Start On November 5

दुनिया का पहला रूफटॉप थिएटर:जियो वर्ल्ड ड्राइव की छत पर खुल रहा पहला ड्राइव-इन थिएटर, 290 कारें एकसाथ खड़ी हो सकेंगी

नई दिल्ली10 महीने पहले

रिलायंस मुंबई में देश का पहला जियो ड्राइव-इन थिएटर 5 नवंबर को खोलेगी। इसे जियो वर्ल्ड ड्राइव (JWD) में खोला जाएगा। ये दुनिया का पहला रूफटॉप, ओपन-एयर ड्राइव-इन थिएटर होगा, यानी ये थिएटर छत पर होगा। इस ओपन एयर थिएटर में लोग खुले आसमान के नीचे अपनी कार में बैठकर फिल्म का मजा ले सकेंगे। इस थिएटर में मुंबई की सबसे बड़ी सिल्वर स्क्रीन होगी।

इस ड्राइव-इन थिएटर को PVR द्वारा ऑपरेट किया जाएगा। जियो ड्राइव-इन में 290 कारों की क्षमता है, जो मुंबई में सबसे बड़ी सिनेमा स्क्रीन है। जियो वर्ल्ड ड्राइव 17.5 एकड़ में फैला हुआ है। ये शहर की सबसे प्रीमियम लोकेशन बांद्रा कुर्ला में स्थित है। हालांकि अभी इस ड्राइव-इन थिएटर के फोटो सामने नहीं आए हैं।

रिलायंस का जियो वर्ल्ड ड्राइव
रिलायंस का जियो वर्ल्ड ड्राइव

क्या होता है ड्राइव इन सिनेमा?

  • ड्राइव-इन सिनेमा का मतलब होता है कि आप अपनी फोर व्हीलर में बैठकर आएं और कार में बैठ-बैठे ही फिल्म का मजा लें। ऐसे ओपन थिएटर बड़े मैदान में होते हैं। यहां भी फिल्म के शो की टाइमिंग होती है और कारों को एक लाइन में खड़ा किया जाता है, ताकि फिल्म शुरू होने पर कार आसानी से आ पाएं, और खत्म होने पर आराम से निकल जाएं।
  • देश में ड्राइव-इन थिएटर का कॉन्सेप्ट तेजी से बढ़ रहा है। खासकर कोविड महामारी के बाद बाहर फिल्म देखने का ये बेस्ट ऑप्शन बन गया है। इसमें लोग अपनी-अपनी गाड़ियों में सुरक्षित बैठकर मूवी का मजा ले सकते हैं। अभी देश में 6 ड्राइव-इन सिनेमा हैं। जिसमें दो गुड़गांव में है। अहमदाबाद, चेन्नई, विशाखापट्टनम और बेंगलुरु में एक-एक हैं।
  • ऐसे थिएटर में एक बड़ी सी आउटडोर स्क्रीन होती है। साउंड के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी का इस्तेमाल किया जाता है, या एक्सटर्नल स्पीकर लगे होते हैं। थिएटर में कारों को भी एक-दूसरे से 6 फीट की दूरी पर पार्क करते हैं। मूवी के दौरान खाने की चीजें आप अपने साथ लेकर चल सकते हैं।

श्रीनगर की डल झील में ओपन एयर थिएटर

जम्मू कश्मीर में टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए श्रीनगर की फेमस डल झील में पहली बार ओपन-एयर फ्लोटिंग थिएटर शुरू किया है, यानी वहां लोग नाव में बैठकर फिल्म का मजा ले सकेंगे। इस पहल के जरिए कश्मीर में फिर से सिनेमा की शुरुआत हुई है, क्योंकि जम्मू-कश्मीर में लंबे अरसे से थिएटर बंद हैं। जाहिर सी बात है- कुदरत की खूबसूरती के बीच मूवी का मजा भी दोगुना हो जाएगा।